Latest News

1 26 january 1 abvp 52 Administrative 1 b4 cinema 1 balaji dhaam 1 bhagoria 1 bhagoria festival jhabua 2 bjp 1 cinema hall jhabua 35 city 16 crime 22 cultural 37 education 2 election 15 events 14 Exclusive 2 Famous Place 6 gopal mandir jhabua 17 Health and Medical 91 jhabua 5 jhabua crime 1 Jhabua History 1 matangi 3 Movie Review 5 MPPSC 1 National Body Building Championship India 4 photo gallery 19 politics 2 ram sharnam jhabua 57 religious 5 religious place 2 Road Accident 3 sd academy 72 social 13 sports 2 tourist place 13 Video 2 Visiting Place 11 Women Jhabua 2 अखिल भारतीय किन्नर सम्मेलन 1 अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद 1 अंगूरी बनी अंगारा 1 अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 15 अपराध 1 अल्प विराम कार्यक्रम 6 अवैध शराब 1 आदित्य पंचोली 1 आदिवासी गुड़िया 1 आरटीओं 1 आलेख 1 आवंला नवमी 4 आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट 1 ईद 1 उत्कृष्ट सड़क 23 ऋषभदेव बावन जिनालय 3 एकात्म यात्रा 2 एमपी पीएससी 1 कलाल समाज 1 कलावती भूरिया 3 कलेक्टर 15 कांग्रेस 6 कांतिलाल भूरिया 1 कार्तिक पूर्णिमा 2 किन्नर सम्मेलन 2 कृषि 1 कृषि महोत्सव 3 कृषि विज्ञान केन्द्र झाबुआ 1 केरोसीन 2 क्रिकेट टूर्नामेंट 4 खबरे अब तक 1 खेडापति हनुमान मंदिर 15 खेल 1 गडवाड़ा 1 गणगौर पर्व 1 गर्मी 1 गल पर्व 8 गायत्री शक्तिपीठ 2 गुड़िया कला झाबुआ 1 गोपाल पुरस्कार 4 गोपाल मंदिर झाबुआ 1 गोपाष्टमी 1 गोपेश्वर महादेव 14 घटनाए 1 चक्काजाम 4 जनसुनवाई 1 जय आदिवासी युवा संगठन 5 जय बजरंग व्यायाम शाला 1 जयस 7 जिला चिकित्सालय 3 जिला जेल 3 जिला विकलांग केन्द्र झाबुआ 1 जीवन ज्योति हॉस्पिटल 9 जैन मुनि 7 जैन सोश्यल गुुप 2 झकनावदा 96 झाबुआ 1 झाबुआ इतिहास 2 झाबुआ का राजा 3 झाबुआ पर्व 10 झाबुआ पुलिस 1 झूलेलाल जयंती 1 तुलसी विवाह 6 थांदला 3 दशहरा 1 दस्तक अभियान 1 दिल से कार्यक्रम 3 दीनदयाल उपाध्याय पुण्यतिथि 1 दीपावली 3 देवझिरी 47 धार्मिक 5 धार्मिक स्थल 10 नगरपालिका परिषद झाबुआ 5 नवरात्री 4 नवरात्री चल समारोह 4 नि:शुल्क स्वास्थ्य मेगा शिविर 1 निर्वाचन आयोग 6 परिवहन विभाग 2 पर्यटन स्थल 3 पल्स पोलियो अभियान 8 पारा 1 पावर लिफ्टिंग 16 पेटलावद 1 प्रजापिता ब्रह्मकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय 3 प्रतियोगी परीक्षा 1 प्रधानमंत्री आवास योजना 37 प्रशासनिक 1 बजरंग दल 2 बाल कल्याण समिति 1 बेटी बचाओं अभियान 2 बोहरा समाज 1 ब्लू व्हेल गेम 1 भगोरिया पर्व 1 भगोरिया मेला 3 भगौरिया पर्व 1 भजन संध्या 1 भर्ती 2 भागवत कथा 30 भाजपा 1 भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान 1 भारतीय जैन संगठना 3 भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा 1 भावांतर योजना 2 मध्यप्रदेश बाल अधिकार संरक्षण आयोग 1 मल्टीप्लेक्स सिनेमा 2 महाशिवरात्रि 1 महिला आयोग 1 महिला एवं बाल विकास विभाग 1 मिशन इन्द्रधनुष 1 मुख्यमंत्री महिला सशक्तिकरण योजना 2 मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चोहान 9 मुस्लिम समाज 1 मुहर्रम 3 मूवी रिव्यु 8 मेघनगर 1 मेरे दीनदयाल सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता 2 मोड़ ब्राह्मण समाज 1 मोदी मोहल्ला 1 मोहनखेड़ा 3 यातायात 1 रक्तदान 1 रंगपुरा 2 राजगढ़ 13 राजनेतिक 9 राजवाडा चौक 11 राणापुर 5 रामशंकर चंचल 1 रामा 2 रायपुरिया 1 राष्ट्रीय एकता दिवस 2 राष्ट्रीय बॉडी बिल्डिंग चैम्पियनशीप 4 राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना 1 राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण 1 रोग निदान 3 रोजगार मेला 16 रोटरी क्लब 2 लक्ष्मीनगर विकास समिति 1 लाडली शिक्षा पर्व 2 वनवासी कल्याण परिषद 1 वरदान नर्सिंग होम 1 वाटसएप 1 विधायक 4 विधायक शांतिलाल बिलवाल 1 विश्व उपभोक्ता संरक्षण दिवस 2 विश्व विकलांग दिवस 2 विश्व हिन्दू परिषद 1 वेलेंटाईन डे 3 व्यापारी प्रीमियर लीग 1 शरद पूर्णिमा 5 शासकीय महाविद्यालय झाबुआ 34 शिक्षा 1 श्रद्धांजलि सभा 3 श्री गौड़ी पार्श्वनाथ जैन मंदिर 11 सकल व्यापारी संघ 2 सत्यसाई सेवा समिति 1 संपादकीय 2 सर्वब्राह्मण समाज 4 साज रंग झाबुआ 40 सामाजिक 1 सारंगी 14 सांस्कृतिक 1 सिंधी समाज 1 सीपीसीटी परीक्षा 3 स्थापना दिवस 4 स्वच्छ भारत मिशन 5 हज 3 हजरत दीदार शाह वली 7 हाथीपावा 1 हिन्दू नववर्ष 5 होली झाबुआ

झाबुआ। मध्यप्रदेश में प्रधानमंत्री राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिशन की आयुष्मान भारत योजना 15 अगस्त 2018 से लागू की जाएगी। योजना में सामाजिक, आर्थिक और जातीय जनगणना (एस.ई.सी.सी.) के आधार पर वंचित श्रेणी के 84 लाख परिवारों को शामिल किया गया है। इस योजना का लाभ असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के परिवारों और खाद्य सुरक्षा कार्यक्रम के पात्रता पर्ची वाले सभी परिवारों को भी दिया जायेगा। योजना में शामिल परिवारों को प्रति परिवार 5 लाख रुपये प्रतिवर्ष स्वास्थ्य सुरक्षा कवच उपलब्ध करवाया जायेगा। योजना का लाभ शासकीय और निजी चिकित्सालयों के माध्यम से कैशलेस रूप में दिया जायेगा। इससे शासकीय अस्पतालों को उन्नत किया जा सकेगा और निजी स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं की उपलब्धता भी बढ़ेगी। योजना के लागू होने पर प्रदेश के नागरिकों पर उपचार के आउट ऑफ पॉकेट खर्च में भी कमी आयेगी। 
     प्रदेश में असंगठित श्रेणी के मजदूरों के लगभग 20 लाख परिवार है। पात्रता पर्ची वाले ऐसे परिवार जो एस.ई.सी.सी. के आधार पर वंचित श्रेणी में शामिल नहीं है, उनकी संख्या लगभग 34 लाख है। इस प्रकार लगभग एक करोड़ 37 लाख परिवारों के लगभग साढ़े 5 करोड़ से अधिक सदस्यों को इस योजना में स्वास्थ्य सुरक्षा कवच उपलब्ध होगा। प्रति परिवार 1200 रुपये की दर से कुल 1648 करोड़ रुपये के व्यय का अनुमान है। एस.ई.सी.सी. के 84 लाख परिवारों के लिये 600 करोड़ रुपये की ग्रांट-इन-एड भारत सरकार के केन्द्रांश के रूप में प्राप्त होगी और 400 करोड़ राज्यांश देना होगा। असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के परिवारों और खाद्य सुरक्षा कार्यक्रम में पात्रता पर्ची वाले परिवारों को योजना का लाभ देने पर लगभग 648 करोड़ का अतिरिक्त व्यय होगा, जो राज्य शासन वहन करेगा।
Ayushman-Bharat-Yojana-Information-In-Hindi-आयुष्मान भारत योजना 15 अगस्त से होगी लाँच, प्रदेश के साढ़े 5 करोड़ सदस्यों को मिलेगा लाभ       योजना के क्रियान्वयन के संबंध में नेशनल हेल्थ एजेन्सी भारत सरकार के साथ एक एमओयू सम्पादित किया गया है। प्रदेश में तेलंगाना और कर्नाटक राज्य के समान इस योजना को राज्य स्तर पर एक ट्रस्ट/सोसायटी का गठन कर संचालित किया जायेगा। सोसायटी गठन के लिये रजिस्ट्रार फर्म एवं सोसायटी को ऑनलाइन आवेदन कर दिया गया है। योजना के क्रियान्वयन में सहयोग के लिये सेवा प्रदाता एजेन्सी की सेवाएँ खुली निविदा के माध्यम से ली जायेगी। भारत सरकार द्वारा 1350 चिकित्सा प्रोसिजर्स के पैकेज उपलब्ध करवाये गये हैं। इन प्रोसिजर्स को चार श्रेणी - सेकेण्डरी प्रोसिजर्स, सेकेण्डरी काम्पलेक्स, टर्सरी प्रोसिजर्स और सुपर स्पेशियलिटी में विभाजित किया गया है। सेकेण्डरी प्रोसिजर्स जिला अस्पताल के स्तर के लिये तथा सेकेण्डरी काम्पलेक्स प्रोसिजर्स चिकित्सा महाविद्यालयों के लिये आरक्षित रहेगी। शेष सभी प्रोसिजर्स निजी और शासकीय चिकित्सालयों के लिये खुली रहेगी। निजी अस्पतालों को योजना में इम्पैनल करने के लिये मापदंड निर्धारण की कार्यवाही की जा रही है। वर्तमान में राज्य बीमारी सहायता योजना में मान्य अस्पतालों को इस योजना में मान्यता दी जायेगी।
      भारत सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुरूप एस.ई.सी.सी. के वंचित श्रेणी परिवारों की सूचियों का सत्यापन कार्य भी स्वास्थ्य विभाग ने पूरा करा लिया है। सर्वे के दौरान परिवारों के संबंध में मोबाइल और राशन कार्ड नम्बर (समग्र परिवार आईडी) की जानकारी तथा परिवार के नये सदस्यों के नाम एकत्रित किये गये हैं। इसकी डॉटाएन्ट्री का कार्य विकासखंड स्तर पर किया जा रहा है।

झाबुआ। आज 03 जुलाई को शासन के निर्देशानुसार जनसुनवाई कार्यक्रम आयोजित किया गया। जनसुनवाई में आवेदन कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे एवं विभागीय अधिकारियों ने लिये। जनसुनवाई मे आज कुल 127 आवेदन प्राप्त हुए। आवेदन प्राप्त कर संबंधित कार्यालय प्रमुखो को निराकरण के लिये आवश्यक निर्देश दिये गये। आवेदनो को ऑनलाईन साफ्टवेयर में दर्ज किया गया। 
  • गोपालपुरा के पंचायत फलिये के निवासियो ने खराब हैण्डपम्प ठीक करवाने के लिये आवेदन दिया।
  • झितरा पिता कालू निवासी उकालाफलिया अलस्याखेडी तहसील पेटलावद ने विपक्षी के कब्जे से जमीन वापस दिलवाने के लिये आवेदन दिया।
  • सरपंच ग्राम पंचायत मोहकमपुरा एवं अन्य ग्रामवासियो ने पंचायत मे बस्ती विकास के लिये घाट कटिंग की प्रशासकीय स्वीकृति जारी करवाने के लिये आवेदन दिया।
  • ग्राम पिपलिया ईशगढ के गुण्डिया फलिये के ग्रामीणो ने पहुंच मार्ग हेतु रास्ता दिलवाने के लिये आवेदन दिया।
  • जामसिंह पिता गुला निवासी बावडी तहसील झाबुआ ने नाकेदार द्वारा वनभूमि से हटाने की शिकायत की एवं वनभूमि पर पुनः काबिज करवाने हेतु आवेदन दिया।
  • हिमसिंह परमार निवासी खडकुई तहसील रानापुर ने शासकीय कन्या आश्रम खडकुई मे चौकीदार के रिक्त पद पर अंशकालीन मजदूरी कार्य हेतु नियुक्ति के लिये आवेदन दिया।
  • सोनू पति गिरीश गुर्जर करडावद बडी तहसील झाबुआ ने बीपीएल का राशनकार्ड बनवाने के लिये आवेदन दिया।
  • सीनू पिता अरवन निवासी ग्राम पिपलखूंटा तहसील मेघनगर ने आर्थिक सहायता स्वीकृत होने के बाद भी शैल्बी हॉस्पिटल इन्दौर के द्वारा ईलाज नही करने की षिकायत की एवं ईलाज करवाने के लिए आवेदन दिया।
  • अमरसिंग पिता सोमा निवासी बाछीखेडा पेटलावद ने इकलौती पुत्री का प्रायवेट विद्यालय मे पढाई हेतु एडमिषन करवाने हेतु आवेदन दिया।
नारेला की केंद्रा पिता वेस्ता निरमा पिता वेस्ता, आरती पिता वेस्ता को दिलाया जायेगा छात्रावास मे प्रवेश
  1. नारेला निवासी वेस्ता ने पुत्रियो की पढाई के लिये छात्रावास मे प्रवेश हेतु आवेदन दिया। वेस्ता ने जनसुनवाई मे बताया कि बच्चियो की मां उनके साथ नही रहती है। बच्चियो की पढाई अच्छे से हो पाये इसलिए बेटी केंद्रा, निरमा एवं आरती को आश्रम मे प्रवेश दिलवाने के लिये आवेदन दिया। कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने डीपीसी को कस्तूरबा गांधी कन्या आश्रम मे बच्चियो का प्रवेश आज ही दिलवाने के लिये आदेशित किया।
  2. ग्राम सागिया ब्लाक रामा के ग्रामीणो ने गांव मे उचित मूल्य की दुकान खुलवाने के लिये आवेदन दिया।
  3. सेवानिवृत्त सहायक शिक्षक प्राथमिक विद्यालय ढोल्यावाड जोहरसिंह सेमलिया ने लंबित स्वत्वो के भुगतान करवाने के लिये आवेदन दिया।


अगस्त माह में राज्य स्तरीय कराते टूर्नामेंट का किया जाएगा आयोजन

झाबुआ। जिला कराते एसोसिएशन झाबुआ द्वारा स्थानीय रोटरी सदन के हॉल में सोमवार शाम 4 बजे शहर के कराते चेंम्पियनों का स्वागत समारोह रखा गया। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पीजी कॉलेज झाबुआ के जनभागीदारी समिति अध्यक्ष यशवंत भंडारी थे। अध्यक्षता जिला कराते एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष उमंग सक्सेना ने की। विशेष अतिथि के रूप में रोटरी के सहायक मंडलाध्यक्ष अजय रामावत, मप्र उपभोक्ता हितेषी मंच के जिलाध्यक्ष एवं वरिष्ठ रोटेरियन जयेन्द्र बैरागी, के साथ रोटरी क्लब के नवीन सत्र के अध्यक्ष अमितसिंह जादौन (यादव) तथा सचिव हिमांशु त्रिवेदी मौजूद थे।  
          कार्यक्रम का शुभारंभ कराते के मंत्र के साथ हुआ। अतिथियों का स्वागत जिला कराते एसोसिएशन की ओर से उपाध्यक्ष कमल सोलंकी, सह-सचिव बादल पांडे, कोषाध्यक्ष विशाल त्रिवेदी, सदस्य सुनील सिकरवार, कोच राजा अरोड़ा के साथ रोटरेक्ट क्लब से उपाध्यक्ष दौलत गोलानी, सचिव राकेश पोतदार, युवा रोटेरियन अर्पित संघवी, कार्तिक नीमा एवं यसिल शाह ने किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि पीजी कॉलेज के जनभागीदारी अध्यक्ष श्री भंडारी ने बताया कि झाबुआ के कराते चेम्पियनों ने पिछले दिनों सोलन (हिमांचल प्रदेश) में जाकर यहां राष्ट्रीय स्तर पर कराते चेम्पियन शीप में हिस्सा लेकर कराते में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर गोल्ड, रजत एवं ब्रांज मेडल प्राप्त किए, जिससे इन खिलाड़ियों पर हमें नाज है। इन खिलाड़ियों ने झाबुआ की पहचान पूरे देश में बनाई है, चूंकि राष्ट्रीय स्तर पर चेम्पियन प्रतियोगिता होने से पूरे देश के खिलाड़ियों ने इसमें सहभागिता की थी। 
हुनर की नहीं है कमी
इस अवसर पर अध्यक्षता कर रहे जिला कराते एसोसिएशन अध्यक्ष श्री सक्सेना ने कहा कि झाबुआ शहर के कराते के बच्चों में हुनर की कोई कमी नहीं है एवं उनका बड़े मंचों पर वे खुलकर प्रदर्शन भी करते है। इसी का परिणाम है कि सोनल में आयोजित चेंपियन शीप में झाबुआ से गए सभी बच्चों ने सफलता हासिल की। साथ ही बताया कि संभवतः अगस्त माह में झाबुआ कराते एसोसिएशन द्वारा राज्य स्तरीय कराते टूर्नामेंट का आयोजन किया जाएगा, इसकी रूपरेखा तैयार की जाएगी। विशेष अतिथि वरिष्ठ रोटेरियन श्री बैरागी ने अपनी कविता के माध्यम से खिलाड़ियों का उत्सावर्धन किया। रोटरी के सहायक मंडलाध्यक्ष श्री रामावत ने जिला कराते एसोसिएशन को अपनी ओर से हर संभव मद्द करने की बात कहीं। कर्यक्रम को रोटरी क्लब अध्यक्ष श्री जादौन एवं सचिव श्री त्रिवेदी ने भी संबोधित करते हुए सभी कराते चेम्पियनों को शुभकामनाएं प्रेषित की। 
प्रमाण-पत्र एवं ड्रेसेस प्रदान की
कार्यक्रम के समापन पर सभी खिलाड़ियों का अतिथियों द्वारा पुष्पमाला पहनाकर एवं प्रमाण-पत्र देकर सम्मान किया गया। इसके साथ ही कोच बादल पांडे एवं आयुश चौहान को सम्मानित करते हुए उन्हें एसोसिएशन की ड्रेसेस प्रदान की गई। इस अवसर पर विशेष रूप से वरिष्ठ पत्रकार एनयूके पिल्लई के साथ खिलाड़ियों के अभिभावकगण उपस्थित थे। अंत में आभार कराते एसोसिएशन के सचिव सूर्यप्रताप सिंह ने माना। 

मूलभूत सुविधा एवं सुरक्षा व्यवस्था की करेंगे निगरानी

       राजेश थापा , झाबुआ। कलेक्टर आशीष सक्सेना ने स्कूलो एवं शैक्षणिक संस्थाओ मे मूलभूत सुविधाएं एवं सुरक्षा व्यवस्था की निगरानी हेतु निगरानी दल गठित करने का आदेश जारी किया है। जारी आदेशानुसार जिला मुख्यालय एवं अनुभाग स्तरीय निगरानी दल नियमित रुप से जांच करेंगे तथा व्याप्त मूलभूत समस्याओ एवं सुरक्षा व्यवस्थाओ की कमियो को दूर करने हेतु शासन के निर्देशो के अनुसार व्यवस्थाएं सुनिष्चित करने के लिये जानकारी प्राप्त कर संबंधित स्कूल प्रबंधन को लिखित मे समय सीमा मे बताते हुए सुनिष्चित करेंगे तत्पष्चात नियमित समीक्षा कर समस्त बिदुंओ पर पालन करवाना सुनिष्चित करेंगे। 
       यदि कोई स्कूल प्रबंधन निर्देशो का पालन नही करता है तो कार्यवाही हेतु कलेक्टर को जानकारी उपलब्ध करवायेंगे। दल प्रभारी प्रति सप्ताह/प्रतिमाह प्रतिवेदन देंगे। विभागीय अधिकारी अपने कर्तव्य एवं अधिकारो का उपयोग करने हेतु स्वतंत्र रहेंगे।
 यह रहेंगे निगरानी दल मे
झाबुआ मुख्यालय की शासकीय स्कूल, छात्रावास, आश्रमो, शिक्षण संस्थाओ के निरीक्षण करने के लिये दल मे -
  1. सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग झाबुआ (दल प्रभारी)
  2. तहसीलदार झाबुआ
  3. जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी झाबुआ
  4. जिला परियोजना समन्वयक सर्व शिक्षा अभियान झाबुआ
  5. थाना प्रभारी झाबुआ शामिल रहेंगे।
झाबुआ मुख्यालय की निजी स्कुलो, आश्रम, छात्रावासो, शिक्षण संस्थाओ के लिये गठित दल मे -
  1. अनुविभागीय दंडाधिकारी झाबुआ (दल प्रभारी)
  2. जिला परिवहन अधिकारी झाबुआ 
  3. अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस) झाबुआ
  4. जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास विभाग झाबुआ
  5. जिला शिक्षा अधिकारी शामिल रहेगे।
अनुभाग विकास खंड स्तर की षासकीय एवं निजी स्कूलो, आश्रम, छात्रावासो षिक्षण संस्थाओ के निरीक्षण के लिये दल मे - 
  1. अनुविभागीय दंडाधिकारी (दल प्रभारी)
  2. अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस)
  3. परियोजना अधिकारी आईसीडीएस 
  4. विकास खंड शिक्षा अधिकारी
  5. विकास खंड स्त्रोत समन्वयक शामिल रहेंगे।
कार्यवाही करने हेतु कलेक्टर के उपलब्ध अधिकारो का उपयोग करने के लिये दल प्रभारी अधिकृत रहेंगे।

विशाल मेगा स्वास्थ्य शिविर के साथ रोटरी क्लब मेन, रोटरी क्लब आजाद और इन्हरव्हील क्लब मेन तथा युवा शक्ति के नए सत्र का हुआ आगाज

समापन पर सभी चिकित्सकों एवं सेवाभावियों का हुआ सम्मान 

झाबुआ। रोटरी क्लब ‘मेन’, रोटरी क्लब ‘आजाद’, इन्हरव्हील क्लब ‘मेन’ एवं इन्हरव्हील क्लब ‘युवा शक्ति’ के नवीन सत्र 2018-2019 का आगाज 1 जुलाई, रविवार को स्थानीय सिद्धेष्वर कॉलोनी स्थित आदर्ष विद्या मंदिर में मेगा स्वास्थ्य शिविर के भव्य आयोजन के साथ हुआ। इस मेगा स्वास्थ्य शिविर में सभी प्रकार के रोगों का निःषुल्क उपचार एवं निःशुल्क गोली-दवाईयों का वितरण पारूल सेवाश्रम बड़ौड़ा के चिकित्सकों एवं उनकी टीम द्वारा किया गया। इसके साथ ही पूरे शिविर में सभी चारो संस्थाओं के अलावा आयोजन में विशेष सहभागिता सोना-चांदी व्यापारी एसोसिएशन एवं रोटरेक्ट क्लब झाबुआ की भी रहीं। शिविर में 3 घंटे में कुल 350 रोगियों का उपचार किया गया। इस दौरान शिविर में आए 3 गंभीर रोगियों का बड़ौदा में संपूर्ण उपचार निःशुल्क रूप से रोटरी क्लब द्वारा किया जाना तय किया गया। समापन पर बड़ौदा से आए सभी चिकित्सकों एवं शिविर को सफल बनाने में विशेष सहयोग देने वाले सेवाभावियों का सम्मान हुआ।
शिविर का शुभारंभ दीप प्रज्जवलन कर वरिष्ठ रोटेनियन प्रकाश रांका, नुरूद्दीनभाई बोहरा, शिविर संयोजक यशवंत भंडारी एवं संजय कांठी, प्रदीप जैन, प्रतापसिंह सिक्का, प्रमोद भंडारी, सहायक मंडलाध्यक्ष अजय रामावत, संतोष प्रधान, रोटरेक्ट क्लब सभापति नीरजसिंह राठौर, श्री संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सुभाष कोठारी, भारतीय जैन संगठना के जिलाध्यक्ष अशोक संघवी, राज्य महिला आयोग सखी अर्चना राठौर, इन्हरव्हील क्लब मेन से ज्योति रांका, अध्यक्ष कल्पना सकलेचा, इन्हरव्हील क्लब युवा शक्ति से अध्यक्ष डॉ. शैलू बाबेल, सचिव शीतलसिंह जादौन, सोना-चांदी व्यापारी एसोसिएशन अध्यक्ष नितीन धम्मानी, सचिव निखिल भंडारी एवं बड़ौदा सेवाश्रम हॉस्पिटल के प्रमुख डॉ. कुशल द्वारा संयुक्त रूप से किया गया। 
      पश्चात् अतिथियों का स्वागत रोटरी क्लब मेन अध्यक्ष अमितसिंह जादौन (यादव), सचिव हिमांशु त्रिवेदी, रोटरी क्लब आजाद अध्यक्ष अजय शर्मा एवं सचिव देवेन्द्र पटेल ने किया। वर्ष 2018-2019 के इन चारो नवीन पदाधिकारियों का पुष्पमाला पहनाकर स्वागत रोटरी क्लब मेन के पूर्व अध्यक्ष उमंग सक्सेना, सचिव शैलेन्द्र चोरे, रोटरेक्ट क्लब अध्यक्ष रिंकू रूनवाल, उपाध्यक्ष दौलत गोलानी, सचिव राकेश पोतदार, कोषाध्यक्ष भावेश सोलंकी, युवा रोटेरियन अर्पित संघवी कार्तिका नीमा, प्रकाश जैन ने करते हुए नवीन कार्यकाल की शुभकामनाएं प्रेषित की। स्वागत उद्बोधन वरिष्ठ रोटेरियन संजय कांठी ने दिया। शिविर के प्रारंभ करने की घोषणा अध्यक्ष अमितसिंह जादौन (यादव) ने की। शिविर में सोना-चांदी व्यापारी एसोसिएशन की ओर से निर्मल मोदी, मुकेश सोनी, सुरेश सोनी ने अपनी सराहनीय सेवाएं प्रदान की।
7 कक्षों में चिकित्सकों ने किया उपचार, पंजीयन एवं दवाई वितरण कें लिए अलग व्यवस्था
शिविर स्थल पर पंजीयन की व्यवस्था प्रवेश द्वार पर की गई। जहां रोगियों का पंजीयन मातृ शक्ति के रूप में इन्हरव्हील क्लब की सचिव समता, अर्चना सिसौदिया, रेखा राठौर, पुष्पा संधवी, शीला कटारिया, वर्षा छाजेड़, पारूल भात के साथ इन्हरव्हील क्लब युवा शक्ति की निक्की जैन, परी गादिया एवं विधि धारीवाल ने किया। चिकित्सकों द्वारा 7 कक्षों मे रोगियों का उपचार किया गया। जिसमें फिजिषियन विभाग, सर्जरी विभाग, चर्म रोग विभाग, शिषु रोग विभाग, नाक-कान-गला विभाग, प्रसूति स्त्री रोग विभाग एवं हड्डी रोग  का कक्ष अलग बनाया गया। 
        पंजीयन के बाद रोगियों ने अपनी बीमारी संबध केंद्रों पर जाकर वहां जांच करवाकर आवष्यक परामर्श भी प्राप्त किया। गंभीर रोगों की जांच के लिए कक्षों में अलग से विशेष व्यवस्था की गई थी। पंजीयन के लिए अलग से काउंटर बनाकर बड़ौदा की चिकित्सकीय टीम द्वारा वहां मरीजों का पंजीयन किया गया वहीं दवाई वितरण केंद्र भी पृथक से बनाया गया। पारूल सेवाश्रम हास्पिटल बड़ौदा से चिकित्सकों में डॉ. कुषल आर्थेपेडिक विषेषज्ञ, डॉ. कौमल राणा मेडिसीन, डॉ. तेजस पटेल एवं डॉ. मयूर सर्जरी, डॉ. संवधन देसाई नेत्र रोग, डॉ. उमेश चर्म रोग, डॉ. अक्षय नाक-कान-गला, डॉ. ज्योति शिषु रोग एवं डॉ. नुपूर प्रसूति एवं स्त्री रोग विशेषज्ञ ने अपनी सराहनीय सेवाएं प्रदान की।
3 घंटे तक चला शिविर 
यह शिविर दोपहर 11 से 2 बजे तक चला। इस दौरान 350 रोगियों ने अपना उपचार करवाया। जिसमें सबसे अधिक हड्डी रोग के 90, चर्म रोग के 60, फिजिषियन के 40, नेत्र रोगं के 30, शिषु रोग के 10, स्त्री रोग से 7, हद्रय संबंधी बिमारी के 2 के अतिरिक्त अन्य सामान्य प्रकार की बिमारियों के मरीजों को मिलाकर कुल 350 रोगियों ने अपना इलाज करवाया। शिविर  का लाभ लेने शहर के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों के लोग भी बड़ी संख्या में पहुंचे।
दृष्टिहीन गौरी एवं पूजा को गठान होने पर समस्त उपचार निःशुल्क होगा
तीन गंभीर रोगियो को बड़ौदा में रोटरी क्लब करवाएगा संपूर्ण निःशुल्क उपचार
          शिविर के दौरान ही झाबुआ निवासी गौरी पिता निलेश वसुनिया उम्र 2 वर्ष पहुंची। पिता निलेश वसुनिया ने बताया कि गौरी की बचपन से ही दोनो आंखे होने के बाजवूद दोनो नेत्रों से दिखाई नहीं देने पर उसका पूर्व में दाहौद में उपचार करवाया, फायदा नहीं हुआ। उक्त बालिका को शिविर में नेत्र रोग विषेषज्ञ को दिखाने पर उन्होंने सलाह दी कि बालिका को उपचार के लिए सेवाश्रम हास्पिटल बड़ौदा लाया जाए। वहीं झाबुआ के समीपस्थ ग्राम करड़ावद बड़ी निवासी पूजा पिता करमसिंह मोहनिया उम्र 2 वर्ष भी शिविर में पहुंची। पिता करमसिंह मोहनिया ने बताया कि उनकी बच्ची को बचपन से ही पीठ के नीचे बड़ी गठान है। बच्ची को पूर्व में इंदौर में दिखाया था, जहां डॉक्टर ने ऑपरेशन करने की बात कहीं, लेकिन ऑपरेशन का खर्चा नहीं होने से नहीं करवा पाए। इन दोनो बालिकाओं के समस्त उपचार एवं दवाईयों का व्यय रोटरी क्लब वहन करेगा।
बड़ौदा आने-जाने, रहने एवं भोजन की व्यवस्था चिकित्सालय प्रबंधन की ओर से
इन दोनो बालिकाओं के पिता एवं परिजनों को बड़ौदा हास्पिटल से आए मार्केटिंग हेड राकेश पटेल ने जानकारी दी कि बड़ौदा उनके हॉस्पिटल में आने वाले प्रत्येक रोगी को आने-जाने, रहने, भोजन-पानी आदि की व्यवस्था हॉस्पिटल प्रबंधन की ओर से ही की जाएगी। इसके साथ ही चिकित्सालय में उपचार करने वाले चिकित्सक की ट्रीटमेंट की फीस नहीं लगेगी, केवल दवाई-गोली के पैसे लगेंगे। इसके साथ ही एक्स-रे सोनाग्राफी एवं खून-पेशाब आदि की जांच पर 50 प्रतिशत छूट एवं सीटी स्केन करवाने पर 25 प्रतिशत का डिस्काउंट दिया जाएगा, यह सुविधा प्रत्येक मरीज के लिए रहेगी। सोमवार को सुबह चिकित्सालय स्टॉफ के साथ बस रवाना होगी, उससे कोई भी रोगी, यदि उनके चिकित्सालय में उपचार के लिए जाना चाहता है, तो वह साथ चल सकता है।
समस्त चिकित्सकों एवं सेवाभावियों का हुआ सम्मान
शिविर के समापन पर अतिथियों द्वारा बड़ौदा सेवाश्रम हॉस्पिटल के समस्त चिकित्सकों का सम्मान पुष्पमाला पहनाकर एवं प्रतीक चिन्ह रोटरी क्लब आजाद की ओर से प्रदान किए गए। इसके साथ ही इस अवसर पर इस आयोजन में विशेष सहयोग देने वाले आदर्श विद्या मंदिर के संचालक सुरेशचन्द्र जैन एवं अन्य प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष सहयोगियों का भी पुष्पमाला पहनाकर एवं प्रतीक चिन्ह देकर सम्मान किया गया। शिविर के अंत में आभार रोटरी क्लब मेन झाबुआ के आगामी सचिव हिमांशु त्रिवेदी ने माना।

राजेश थापा, झाबुआ। मंदसौर की 7 वर्षीय मासूम के साथ हुई दरिंदगी के विरोध में सर्वसमाज के आव्हान पर शहर में भारी जनसमुदाय घटना के विरोध स्वरूप एकत्रित हुआ और रैली निकालकर कलेक्टर को ज्ञापन दिया , साथ ही फांसी और घटना की पुनरावृत्ति रोकने के लिए कड़े कदम उठाने की मांग की। मासूम के साथ जिस तरह की दरिंदगी की गई इसके लिए फांसी की सजा के अतिरिक्त शायद कोई अन्य सजा नहीं हो सकती।  
      सर्व समाज के आव्हान पर दोपहर लगभग ११ बजे स्थानीय राजवाड़ा चौक पर विभिन्न राजनैतिक, धार्मिक, सामाजिक संगठनों के कार्यकर्ता बड़ी संख्या में एकत्रित हुए। यहां से भारी संख्या में नागरिकों का हुजूम रैली के रूप में चल पड़ा। मासूम के साथ कुकर्म करने वाले आरोपी को फांसी देने के नारे लगाते चल रहे थे। यह रैली राजवाड़ा चौक, आज़ाद चौक, बस स्टैंड होते हुए कलेक्टर कार्यालय पहुंची जहाँ भीड़ ने कलेक्टर आशीष सक्सेना को ज्ञापन सौपा । 
        ज्ञापन में कहा गया है कि निजी विद्यालय की बालिका का अपहरण करके जिस अमानवीयता का परिचय आरोपियों ने दिया है, उसके कारण बहुसंख्यक समाज, मुस्लिम समाज और सर्व समाज आक्रोशित होकर शर्म महसूस कर रहा है. इस अमानवीय घटनाकम की सर्व समाजजन निंदा करते हुए पीड़ित बालिका एवं परिजनों के साथ दुख की घड़ी में भागीदार है. ज्ञापन में इस अमानवीय वारदात के आरोपियों को न्याय व्यवस्था में तेजी लाते हुए त्वरित सुनवाई अदालत के जरिए फांसी की सजा दिलवाए जाने का आग्रह किया गया है.
         मालूम हो कि मंदसौर में 26 जून को छुट्टी के बाद स्कूल के बाहर से तीसरी कक्षा में पढ़ने वाली सात वर्षीय बच्ची का अपहरण करके उसके साथ बलात्कार करने को बाद उसे जान से मारने की कोशिश में झाड़ियों में फेंक दिया गया था. पुलिस ने इस मामले में 27 जून की देर रात को एक आरोपी इरफान को गिरफ्तार कर लिया था. मंदसौर में लोग इस घटना के खिलाफ लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं और आरोपियों के लिए फांसी की सजा की मांग कर रहे हैं. दूसरी तरफ मध्य प्रदेश मानवाधिकार आयोग ने नोटिस जारी कर 15 दिन में पुलिस अधीक्षक मंदसौर से रिपोर्ट तलब की है. 
           वहीं, आरोपी इरफान के गांव रिंगनोद के लोगों ने घोषणा की है कि फांसी के बाद इरफान का शव गांव में नहीं दफनाने देंगे. दूसरी ओर वकीलों की ओर से घोषणा की गई है कि वे आरोपियों का केस नहीं लड़ेंगे. वकीलों की सभा में यह भी तय किया गया कि पीड़िता की ओर से 100 वकील पैरवी करेंगे. वकीलों ने गुरुवार को रैली निकालकर अपनी बात जिला जज के सामने रखी है. वहीं, बच्ची को मंदसौर में इलाज के बाद इंदौर रेफर किया गया है जहां उसकी हालत खतरे से बाहर बताई गई है. चिकित्सकीय जांच में नाबालिग बच्ची से बलात्कार की पुष्टि हुई है.
बलात्कार के दौरान हमलावर ने बच्ची के नाजुक अंगों को पहुंचाई थी भीषण चोट
पीड़ित बच्ची इंदौर के शासकीय महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय (एमवायएच) के बाल शल्य चिकित्सा विभाग के वॉर्ड में भर्ती है. एमवायएच में बच्ची का इलाज कर रहे एक डॉक्टर ने बताया कि आरोपियों ने बच्ची के सिर, चेहरे और गर्दन पर धारदार हथियार से हमला किया था. इसके साथ ही, उसके नाजुक अंगों को भीषण चोट पहुंचाई थी जिसे मेडिकल जुबान में ‘फोर्थ डिग्री पेरिनियल टियर’ कहते हैं. उन्होंने बताया कि यौन हमले में बच्ची के बुरी तरह क्षतिग्रस्त नाजुक अंगों को दुरुस्त करने के लिए उसकी अलग-अलग सर्जरी की गई हैं. कॉलोस्टोमी के जरिये उसके मल विसर्जन के लिए अस्थायी तौर पर अलग रास्ता बनाया गया है, जबकि एक अन्य ऑपरेशन के दौरान उसके दूसरे नाजुक अंग की शल्य चिकित्सा के जरिये मरम्मत की गई है. डॉक्टर ने कहा कि फिलहाल बच्ची की हालत खतरे से बाहर है. करीब 10 डॉक्टरों का विशेषज्ञ दल उसकी सेहत पर लगातार नजर रख रहा है. उन्होंने बताया कि बच्ची को अस्पताल से छुट्टी मिलने में कम से कम दो हफ्ते लग सकते हैं. फिलहाल हालत स्थिर है. 
विभिन्न संगठनों ने दिए ज्ञापन
कलेक्टर को सोपे गए इस ज्ञापन में विहिप, बजरंग दल, शिव सेना , राष्ट्रीय राजपूत करनी सेना सहित सर्व समाज के लोगो द्वारा बड़ी संख्या में उपस्थित रहे , ज्ञापन का वाचन विहिप के नगर अध्यक्ष  हिमांशु त्रिवेदी ने किया।  इस दौरान विभिन्न संगठनो के पदाधिकारी एवं सदस्य भारी संख्या में मौजूद थे।

इंदौर के प्रख्यात ट्रेनर अलग-अलग विद्याओं के लिए लेंगे आडिशन 

झाबुआ। जिले की साहित्यिक, सांस्कृतिक संस्था साज रंग झाबुआ द्वारा स्थानीय थांदला गेट स्थित एकलव्य संस्कृति भवन में तांडव सीजन-3, आडिशन का वृहद आयोजन किया जा रहा है। इस ऑडिशन शो में 4 विद्याओं नृत्य, गायन, एक्टींग एवं माडलिंग का इंदौर के प्रख्यात ट्रेनर आडिशन लेंगे। जिसके आधार पर उनका सिलेक्शन किया जाएगा। इस प्रोग्राम का एसआर चेनल  के माध्यम से प्रदेश के 130 शहरों में प्रसारण भी होगा। 
      यह जानकारी देते हुए साज रंग संस्था के कार्यकारिणी अध्यक्ष कमलेश पटेल ने बताया कि ऑडिशन-शो की तैयारियां आयोजक संस्था द्वारा जोर-शोर से की जा रहीं है। 1 जुलाई को तांडव सीजन-3, सुबह 10 से शाम 4 बजे तक चलेगा। इसे एप्रोच इंडिया गॉट टेलेंट सीजन-5 की विनर रागिनी मक्कड़ इंदौर द्वारा किया जाएगा। शो को लेकर उनके झाबुआ आने की संभावना व्यक्त की जा रहीं है। इसके साथ ही शो के जजेस के रूप में दिनेश परिहार, रोहित अमेरिया, दीपिका मुंडढ़े उपस्थित रहेंगी। जिनके द्वारा शो में हिस्सा लेने वाले प्रतिभोगियों का उनकी विधाओं में दी गई प्रस्तुति के आधार पर सिलेक्शन होना है। प्रोड्यूसर महेश सेंगर रहेंगे एवं प्रस्तुतकर्ता कोटिल्य एकेडमी इंदौर रहेगा। 
मेगा आडिशन में होंगे शामिल 
इस आडिशन में जो प्रतिभागी सिलेक्टेड होंगे, वह आगामी समय में इंदौर में होने वाले मेगा आडिशन में भाग लेंगे। श्री पटेल ने बताया कि इस प्रोग्राम का एसआर चेनल विशेष प्रसारण दिखाएगा। एसआर के माध्यम से प्रदेश के 130 शहरो में इसका प्रसारण किया जाएगा। आडिशन में किसी भी आयु वर्ग के प्रतिभागी शामिल हो सकते है, उन्हें अपना फार्म जमा करवाना होगा। फार्म प्राप्त करने के लिए एवं आडिशन में हिस्सा लेने के लिए साज रंग संस्था के मुकेश बुंदेला से उनके मोबाईल नं. -ः 98936-08033, आलोक रावत 98935-28012 के साथ यग्नेष मालवीय, विनय तिवारी एवं अभिषेक निनामा से संपर्क कर किया जा सकता है।  



रेडक्रॉस सोसायटी की 2 एम्बुलेंस को खवासा एवं झकनावदा के लिये दिखाई हरी झण्डी 
 झाबुआ। राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने आज हाथीपावा पहाडी पर आयोजित रेडक्रॉस सोसायटी एवं टीबी एसोसिएशन के कार्यक्रम मे रेडक्रॉस सोसायटी की 2 एम्बुलेंस को जिले के ग्राम झकनावदा एवं खवासा के लिये हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। हाथीपावा पर आयोजित कार्यक्रम मे रेडक्रॉस सोसायटी के अध्यक्ष एवं कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने जिले मे सोसायटी की सदस्यता के शुल्क से प्राप्त 60 हजार रुपये का चेक महामहिम राज्यपाल को प्रदान किया। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेंल ने कहा कि जिले के सामाजिक संगठन टीबी पीडित बच्चो को गोद ले एवं उनके घर जाकर पोषण आहार एवं दवाईयां दे ताकि वे रोग से मुक्त हो पाए एवं उनकी पढाई भी सुचारु रह पाए। 
     कार्यक्रम के आयोजन के लिये राज्यपाल ने कलेक्टर एवं जिले की पूरी टीम को धन्यवाद दिया। जिले के सामाजिक संगठनो द्वारा महामहिम राज्यपाल को प्रतीक चिन्ह भेंट किया गया। जिले मे दो दिवसीय भ्रमण पर आई राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने हाथीपावा पहाडी पर किये गये पौधारोपण कार्य का अवलोकन किया एवं पौधारोपण किया। महामहिम राज्यपाल द्वारा जिला रेडक्रास एसोसिएशन के सदस्यो एवं टी बी रोग से जुडे संगठनो के सदस्यो से चर्चा की गई।   

आंगनवाडी मे बच्चो को किये फल वितरित
        झाबुआ। जिले मे दो दिवसीय भ्रमण पर आई महामहिम राज्यपाल द्वारा आज झाबुआ जिले के ग्राम करडावद बडी मे आंगनवाडी केंद्र का निरीक्षण किया गया एवं बच्चो से चर्चा की गई। साथ ही केंद्र की व्यवस्थाओ का अवलोकन भी किया गया। भ्रमण के दौरान उनके साथ विधायक पेटलावद सुश्री निर्मला भूरिया, विधायक झाबुआ श्री शांतिलाल बिलवाल, कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना, एसपी श्री महेशचंद्र जैन, सीईओ जिला पंचायत जमुना भिडे सहित जनप्रतिनिधि शासकीय अधिकारी एवं आमजन उपस्थित थे।    
         राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने करडावदबडी के आंगनवाडी केंद्र पहुंचकर बच्चां से चर्चा की एवं उन्हे अपने हाथो से फल वितरित किये। नन्हे मुन्ने बच्चो ने अपनी भाषा मे मछली जल की रानी है कविता सुनाई एंव सभी ने 20 तक गिनती भी सुनाई इससे राज्यपाल बहुत हर्षित हुईं एवं बच्चो को कहा शाबास। ग्राम करडावद बडी मे महिला स्वयं सहायता समूह की महिलाओ द्वारा नशाबंदी एवं दहेजदापा रोकने के लिये किये जा रहे प्रयासो की कहानी सुनकर राज्यपाल ने गांव मे महिलाओ के प्रयास को महिला सशक्तिकरण का उदाहरण बताया। कार्यक्रम मे उपस्थित किशोरी बालिकाओ एवं महिलाओ को चर्चा के दौरान महामहिम राज्यपाल ने शासन द्वारा प्रसुति सहायता योजना मे दी जाने वाली 16 हजार राशि के बारे मे विस्तृत जानकारी देते हुए गर्भवती के पोषण के लिये उसका उपयोग करने के लिए बताया।  

ग्राम कालाखूंट मे राज्यपाल ने गैस कनेक्शन किये वितरित
        झाबुआ। जिले मे दो दिवसीय भ्रमण पर आई महामहिम राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने आज झाबुआ जिले के ग्राम कालाखूंट मे पहुंचकर उज्जवला योजना के हितग्राहियो से चर्चा की। हितग्राही श्रीमती सुजिता प्रवीण वसुनिया ने चर्चा के दौरान बताया कि उज्जवला योजना की वजह से उसके घर में घरेलू गैस कनेक्शन आया। इसके पहले वह आर्थिक रूप से इतनी सक्षम नहीं थी कि गैस कनेक्शन की राशि जमा करके गैस चूल्हे पर खाना बनाने का अपना सपना पूरा कर पाती। गैस कनेक्शन मिलने के पहले वह खाना बनाने के लिए घरेलू चूल्हे पर लकडी व गोबर के कण्डे का उपयोग करके खाना बनाती थी, इससे धुंआ निकलने की वजह से आंखो में जलन ऑसू आना एवं अन्य ऑंखो से संबंधी समस्या होती थी। और खाना बनने में भी समय लगता था, अब गैस कनेक्षन मिल जाने से, चूल्हे पर खाना जल्दी बन जाता है। साथ ही वर्ष भर के लिए खाना बनाने के लिए लकडी और कण्डे इक्टठा करने में जो समय बर्बाद होता था वह भी बचता है।
           राज्यपाल ने अन्य हितग्राहियो को भी उज्जवला योजना के गैस कनेक्शन वितरित किये। गैस कनेक्शन पाने वाली महिलाओ से उसके लाभ के बारे मे चर्चा की। ग्रामीणो को सौभाग्य योजना के बारे मे जानकारी देते हुए कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने ग्रामीणो को बिजली बिल माफी के लिए पंजीयन करवाने के लिये कहा एवं इसके लिए सभी अधिकारियो को निर्देषित किया।

केन्द्र और राज्य सरकार का महिला सशक्तिकरण पर विशेष जोर-राज्यपाल आनंदीबेन पटेल
झाबुआ। ग्राम कालिया बडा मे महिलाओ से रुबरु चर्चा कर महामहिम राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने कहा कि राज्य और केन्द्र सरकार महिला सशक्तिकरण पर विशेष जोर दे रही है। केन्द्र और राज्य शासन की मंशा है कि महिलाएँ शिक्षित हों, स्वयं का रोजगार या नौकरी के क्षेत्र में आगे आयें। आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनें। केन्द्र और राज्य सरकार ने महिलाओं के लिए प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना शुरू की है, जिससे महिलाओं के जीवन में क्रान्तिकारी बदलाव सामने आ रहा है।
      झाबुआ जिले के ग्राम कालियाबडा मे राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने प्रधानमंत्री आवास योजना के हितग्राहियो से चर्चा की एवं यह भी कहा कि यह योजना सभी के लिए है तथा सभी को इसका लाभ जरुर मिलेगा। साथ ही प्रसूताओ एवं महिला सषक्तिकरण के लिये कार्य कर रहे महिलाओ के समूह की सराहना की एवं उन्हे भविष्य मे ऐसे ही निरन्तर कार्य करने के लिए प्रेरित कर उनका मनोबल बढाया। उन्होने बताया कि प्रधानमंत्री जी द्वारा प्रधानमंत्री आवास मे पति पत्नि दोनो का नाम जोडा गया है ताकि आवास पर दोनो का बराबर हक रहे एवं कोई उन्हे उनके घर से बेघर ना कर पाये।

राज्यपाल द्वारा पिटोल स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया गया
        झाबुआ। राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने आज झाबुआ जिले के पिटोल अस्पताल का निरीक्षण किया तथा अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। उन्होंने निरीक्षण कर मरीजों से रूबरू चर्चा की, प्रसूताओ को फल वितरित किये। इस अवसर पर उनके साथ विधायक पेटलावद सुश्री निर्मला भूरिया, विधायक श्री शांतिलाल बिलवाल, कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना, सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे, सहित जनप्रतिनिधि शासकीय अधिकारी एवं आमजन उपस्थित थे।



राज्यपाल श्रीमती पटेल ने विकलांग पुर्नवास केंद्र का जायजा लिया
        झाबुआ। झाबुआ जिले के भ्रमण पर आई राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने झाबुआ जिले के विकलांग पुनर्वास केंद्र का अवलोकन कर व्यवस्थाओ का जायजा लिया। राज्यपाल ने विकलांग पुनर्वास केंद्र झाबुआ की व्यवस्थाओ को देखा एवं व्यवस्थित संचालन के लिए विकलांग पुनर्वास केंद्र के स्टाफ एवं जिला प्रशासन की सराहना भी की। राज्यपाल द्वारा विकलांग बच्चो से मिलकर उन्हे चॉकलेट व फल वितरित किये। भ्रमण के दौरान उनके साथ विधायक पेटलावद सुश्री निर्मला भूरिया, विधायक श्री शांतिलाल बिलवाल, कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना, एसपी श्री महेशचंद्र जैन, सीईओ जिला पंचायत जमुना भिडे सहित जनप्रतिनिधि सकीय अधिकारी एवं आमजन उपस्थित थे।

दीनदयाल रसोई का निरीक्षण किया
        झाबुआ। राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने झाबुआ जिले के भ्रमण के दौरान नगर पालिका झाबुआ द्वारा जिला मुख्यालय पर संचालित दीनदयाल रसोई का निरीक्षण किया एवं 5 रूपये थाली में भोजन कर रहे ग्रामीणजनो से चर्चा कर व्यवस्था का फीडबैंक लिया एवं रसोई के संचालन के लिए जिले के प्रयासो की सराहना की। निरीक्षण के समय उनके साथ विधायक झाबुआ श्री शांतिलाल बिलवाल ,विधायक पेटलावद सुश्री निर्मला भूरिया नगरपालिका अध्यक्ष मन्नु डोडियार एवं कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ,एसपी श्री महेशचंद्र जैन, सीईओ जिला पंचायत जमुना भिडे सहित जनप्रतिनिधि शासकीय अधिकारी एवं आमजन उपस्थित थे।

उत्साहवर्धन कार्यशाला मे विद्यार्थियो एवं महिलाओ से किया संवाद
     भ्रमण के दौरान आयोजित उत्साहवर्धन कार्यला मे राज्यपाल श्रीमती पटेल ने महिलाओ एवं विद्यार्थियो को सम्बोधित करते हुए कहा कि विद्यार्थियो को हमेशा ऊंचे सपने देखने चाहिए, उन सपनो को साकार करने के लिए प्रयास एवं संघर्ष करने पडते है। उन्होने विद्यार्थियो से कहा कि हमे निरन्तर प्रयास करते रहने चाहिए एवं हमेषा समूह से जुडे रहना चाहिए। राज्यपाल ने उत्साहवर्धन कार्यषाला  मे अपने स्वयं के जीवन संघर्ष के बारे मे अपने अनुभव बताते हुए उपस्थित विद्यार्थियो एवं महिलाओ को ऊंचा स्थान प्राप्त करने के लिये हमेशा प्रयासरत रहने के लिये कहा। 
       कार्यक्रम मे राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने उज्जवला योजना, लाडली लक्ष्मी योजना, स्वयं सहायता समूह की महिलाओ को हितलाभ का वितरण किया। साथ ही जिले के जेईई मेन्स एवं नीट परीक्षा मे चयनित विद्यार्थियो को मेडल पहनाकर सम्मानित किया। कार्यक्रम को विधायक श्री शांतिलाल बिलवाल एवं सुश्री निर्मला भूरिया ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम मे जेईई एडवान्स एवं नीट परीक्षा पास करने वाले विद्यार्थियो एवं स्वयं सहायता समूह के माध्यम से लखपति बनी महिलाओ ने भी अपने अनुभव मंच से साझा कर उपस्थित महिलाओ एवं विद्यार्थियो का उत्साहवर्धन किया। 

राजेश थापा , झाबुआ। कांग्रेस छात्र संगठन NSUI भी अब चुनावी साल में बेरोजगारों का मुद्दा उठाकर सरकार की घेराबंदी करने में जुट गया है। NSUI के सदस्य प्रदेश की सभी 230 विधानसभाओं के 1-1 हजार बेरोजगारों से फार्म भरवाकर 2 लाख 30 हजार बेरोजगारों की भावनाओं को जनता के सामने रखेगा।
       विधानसभा चुनाव का समय जैसे नजदीक आ रहा है। वैसे ही राजनैतिक दलों के साथ छात्र संगठन भी सक्रिय हो गए हैं। प्रदेश सरकार की नीतियों के विरोध में एनएसयूआई अब बेरोजगारों से रोजगार की खोज फार्म भरवाएगी। साथ ही सरकार के खिलाफ ब्लॉक स्तर पर प्रदर्शन करेगी। एनएसयूआई जिला अध्यक्ष विनय भाबोर के नेतृत्व में आज एनएसयूआई पद्दधिकारियो के साथ पीजी कॉलेज झाबुआ पर रोजगार की खोज फार्म का विमोचन किया व बेरोजगार युवको से फार्म भरवाए गए।
        एनएसयूआई जिला अध्यक्ष विनय भाबोर ने शिवराज सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि सरकार युवक युवतियों को रोजगार देने में असफल रही है कांग्रेस की सरकार बनते ही सबसे पहले बेरोजगारो को रोजगार उपलब्ध कराया जायेगा। प्रदेश में बेरोजगारी चरम पर है और मप्र की सरकार और मुख्यमंत्री शिवराजसिंह सोये हुए हैं। मप्र के छात्र एवं युवा अपने आप को ठगा हुआ महसूस कर रहे हैं। चाहे वो कितनी भी पढाई कर ले, लेकिन रोजगार की व्यवस्था सरकार द्वार नहीं बनायी गयी है।
       इसके अलावा सरकार दावे भी कर रही है कि हम मप्र में इतने युवाओं को रोजगार दे रहे हैं, जो कि झूठा दावा है। इसी के संदर्भ में आज से एनएसयूआई द्वारा रोजगार की खोज कैंपेंन फॉर्म भरवाने शुरू किये गए है यह फार्म 4 जुलाई तक भरवाए जायँगे। जिसमें प्रदेश के बेरोजगारों से मिल उनकी समस्याओं को जाना जायेगा। फॉर्म विमोचन के समय एनएसयूआई उपाध्यक्ष ऋषि डोडियार, एनएसयूआई उपाध्यक्ष अक्षय परमार, एनएसयूआई महासचिव दरियाव सिंगड़, एनएसयूआई विधानसभा अध्यक्ष रोशन बरिया आदि मौजूद थे।

चुनावी साल में NSUI उठाएगा बेरोजगारों की आवाज, रोजगार की खोज कैंपेन की शुरूआत-NSUI-Rojgar-ki-Khoj-Campaign

Trending

[random][carousel1 autoplay]

More From Web

आपकी राय / आपके विचार .....

निष्पक्ष, और निडर पत्रकारिता समाज के उत्थान के लिए बहुत जरुरी है , उम्मीद करते है की आशा न्यूज़ समाचार पत्र भी निरंतर इस कर्त्तव्य पथ पर चलते हुए समाज को एक नई दिशा दिखायेगा , संपादक और पूरी टीम बधाई की पात्र है !- अंतर सिंह आर्य , पूर्व प्रभारी मंत्री Whatsapp Status Shel Silverstein Poems Facetime for PC Download

आशा न्यूज़ समाचार पत्र के शुरुवात पर हार्दिक बधाई , शुभकामनाये !!!!- निर्मला भूरिया , पुर्व विधायक

जिले में समाचार पत्रो की भरमार है , सच को जनता के सामने लाना और समाज के विकास में योगदान समाचार पत्रो का प्रथम ध्येय होना चाहिए ... उम्मीद करते है की आशा न्यूज़ सच की कसौटी और समाज के उत्थान में एक अहम कड़ी बनकर उभरेगा - कांतिलाल भूरिया , पुर्व सांसद

आशा न्यूज़ से में फेसबुक के माध्यम से लम्बे समय से जुड़ा हुआ हूँ , प्रकाशित खबरे निश्चित ही सच की कसौटी ओर आमजन के विकास के बीच एक अहम कड़ी है , आशा न्यूज़ की पूरी टीम बधाई की पात्र है .- शांतिलाल बिलवाल , पुर्व विधायक झाबुआ

आशा न्यूज़ चैनल की शुरुवात पर बधाई , कुछ समय पूर्व प्रकाशित एक अंक पड़ा था तीखे तेवर , निडर पत्रकारिता इस न्यूज़ चैनल की प्रथम प्राथमिकता है जो प्रकाशित उस अंक में मुझे प्रतीत हुआ , नई शुरुवात के लिए बधाई और शुभकामनाये.- कलावती भूरिया , पुर्व जिला पंचायत अध्यक्ष

मुझे झाबुआ आये कुछ ही समय हुआ है , अभी पिछले सप्ताह ही एक शासकीय स्कूल में भारी अनियमितता की जानकारी मुझे आशा न्यूज़ द्वारा मिली थी तब सम्बंधित अधिकारी को निर्देशित कर पुरे मामले को संज्ञान में लेने का निर्देश दिया गया था समाचार पत्रो का कर्त्तव्य आशा न्यूज़ द्वारा भली भाति निर्वहन किया जा रहा है निश्चित है की भविष्य में यह आशा न्यूज़ जिले के लिए अहम कड़ी बनकर उभरेगा !!- डॉ अरुणा गुप्ता , पूर्व कलेक्टर झाबुआ

Congratulations on the beginning of Asha Newspaper .... Sharp frown, fearless Journalism first Priority of the Newspaper . The Entire Team Deserves Congratulations... & heartly Best Wishes- कृष्णा वेणी देसावतु , पूर्व एसपी झाबुआ

महज़ ३ वर्ष के अल्प समय में आशा न्यूज़ समूचे प्रदेश का उभरता और अग्रणी समाचार पत्र के रूप में आम जन के सामने है , मुद्दा चाहे सामाजिक ,राजनैतिक , प्रशासनिक कुछ भी हो, हर एक खबर का पूरा कवरेज और सच को सामने लाने की अतुल्य क्षमता निश्चित ही आगामी दिनों में इस आशा न्यूज़ के लिए एक वरदान साबित होगी, संपादक और पूरी टीम को हृदय से आभार और शुभकामनाएँ !!- संजीव दुबे , निदेशक एसडी एकेडमी झाबुआ

Contact Form

Name

Email *

Message *

E-PAPER
Layout
Boxed Full
Boxed Background Image
Main Color
#007ABE
Powered by Blogger.