प्रथम दिन 353 रोगियों ने किया आयुर्वेदिक काढ़े का सेवन

झाबुआ। आयुष विभाग झाबुआ द्वारा तीन दिवसीय सर्व रोग निदान एवं चिकित्सा शिविर का आयोजन शासकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय परिसर झाबुआ में आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट के सहयोग से किया जा रहा है। जिसका शुभारंभ मंगलवार को सुबह 10 बजे हुआ। शुभारंभ अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. डीएस चौहान, जिला आयुष अधिकारी डाॅ. रमेश भायल एवं चिकित्सालय प्रभारी डाॅ. मीना भायल तथा आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट के वरिष्ठ सदस्य अषोक शर्मा उपस्थित थे।
   शुभारंभ अतिथियों द्वारा भगवान धवन्तरि के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलन कर किया गया। अतिथियों का स्वागत आसरा ट्रस्ट के संस्थापक अध्यक्ष राजेश नागर, अजय रामावत, पदमा त्रिवेदी, सीमा चौहान ने किया। इस अवसर पर सीएचएमओ डाॅ. चौहान ने कहा कि जिले में आयर्वेदिक शिविर यदा-कदा ही होते है, हर मरीज को इसका लाभ लेना चाहिए। आयुर्वेद्धिक पद्धति वर्षों पुरानी पद्धति है और इस पद्धति से उपचार करवाने पर बिमारी का जड़ से नाश होता है। उन्होंने उक्त शिविर के आयोजन हेतु चिकित्सालय स्टाॅफ सहित आसरा ट्रस्ट को धन्यवाद ज्ञापित किया। जिला आयुष अधिकारी डाॅ. रमेश भायल ने समस्त शहरवासियों सहित आसपास के क्षेत्रों में रहने वाले ग्रामीणजनों से भी शिविर का अधिकाधिक लाभ लेने का आव्हान किया।
प्रतिवर्ष किया जाता है आयोजन
चिकित्सालय प्रभारी डाॅ. मीना भायल ने इस अवसर पर बताया कि पिछले 10 वर्षों से आसरा ट्रस्ट के सहयोग से आयुुर्वेदिक शिविर का सफलतम आयोजन किया जा रहा है। जिसका अब तक हजारों की संख्या में शिविरार्थी लाभ ले चुके है एवं उन्हें कई गंभीर बिमारियों से निजात मिली है। पश्चात् सभी अतिथियों ने स्टाॅल पर पहुंचकर आयुर्वेदिक काढ़े का भी सेवन किया। 
मरीजों का हुआ स्वास्थ्य परीक्षण
शिविर में डाॅ. मीना भायल के साथ डाॅ. पार्वती रावत, डाॅ. दिपेष कठोटा, डाॅ. नरवर डामोर, डाॅ. अरविन्द दातला द्वारा रोगियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। इसमें सहयोग आयुष विभाग के कर्मचारियों एवं आसरा ट्रस्ट तथा जन सेवा संघ के एचके पाठक द्वारा प्रदान किया गया। शिविर में प्रथम दिन कुल 353 रोगियों का स्वास्थ्य परीक्षण कर उन्हें आयुर्वेदिक काढ़े का वितरण किया गया। शिविर का संचालन सुधीर कुषवाह ने किया। ट्रस्ट के संस्थापक अध्यक्ष श्री नागर ने बताया कि बुधवार एवं गुरूवार को भी सुबह 10 से दोपहर 1 बजे शिविर का आयोजन होगा, जो भी व्यक्ति इसका लाभ लेना चाहता वह निर्धारित समय पर पहुंचकर आयुर्वेदिक काढ़े का सेवन कर मौसमी बिमारियों से निजात पा सकते है।

तीन दिवसीय सर्व रोग निदान एवं चिकित्सा शिविर का हुआ शुभारंभ-jhabua Three-day-all-diagnostic-and-medical-camp-inaugurated