युवा का अर्थ ही वायु के समान वगमान होना है- महामंडलेष्वर नरसिंहदास जी 

झाबुआ । हिन्दूत्व के प्रति हमे पूरी तरह निष्ठावान रहना होगा । कोई भी ताकत अयोध्या में रामलला के मंदिर को बनने से रोक नही सकती है । आज हिन्दु मर्यादा एवं संस्कार से जुडना भुल रहे है। माता शबरी ने केवल संकल्प किया था कि उनके प्रभू राम एक दिन जरूर आयेगें औ र वह संकल्प पूरा करने भगवान श्रीराम स्वयं उनके घर तक पहूंचे थे । हिन्दू को अपनी पहचान बनाना होगी । बजरंग दल एवं विश्व हिन्दू परिषद के सेवादारों को हिन्दू धर्म के प्रति समाज एवं राष्ट्र के प्रति अपने अस्तित्व को जगाना होगा । भारत वह महान देश है जिसने पूरे विश्व का ज्ञान एवं विज्ञान दिया , जहां शून्य से पूरे विश्व का अवगत किया । हमारे पूर्वजों ने विज्ञान का ज्ञान पूर्व में ही दे दिया था । वर्तमान युग में रिसर्च हो रहा है, सर्च तो अनादि काल पूर्व से ही भारत में हो चुका था, अब तो केवल रि-सर्च हो रहा है। जो विज्ञान हमारे पूर्वजों ने दिया उसकी पुनर्खोज हो रही है । 
     हम अपने अस्तित्व से भागने की बजाय अपने धर्म को बचाने में अपनी भूमिका निभाना होगी । वर्तमान में भी हमारे तीर्थ स्थल इस बात के प्रमाण है कि वहां हजारों की संख्या मे विदेशी आकर हमारे धर्म का अनुसरण करते है । इसलिये आज हम सभी को संकल्प लेना होगा कि अपने पूर्वजो द्वारा दिये गये ज्ञान को शिरोधार्य करके स्वयं के महत्व को पहचाने । यदि आज हमारे युवा संकल्प ले लेव तो 24 घण्टे अन्दर ही अयोध्या मे श्री रामलला का मंदिर बना सकते है । हमारा राम किसी भी राजनीतिक दल या पार्टी के अधीन नही है । वह तो हमारे हृदय हमारे भावों के अधीन है । हम सभी को हिन्दू संस्कृति को पुख्ता बना कर समग्र विश्व में समग्र सृष्टि में हिन्दु धर्म का पताका लहराना है। युवा का अर्थ ही वाय्रु के समान गतिमान होना है । वायु के समान वेगमान होकर उसे शक्ति को जानकर सस्कारों से परिपूर्ण करना है । समग्र दुनिया में हिन्दु धर्म को इतना फैला देवे कि शेष कुछ भी नही और समग्र विश्व प्रेम मयी वातावरण में भगवान के सानिध्य का द्वार बन सकें ।
       उक्त विचार गुरूवार को स्थानीय राजवाडा चौक पर विश्व हिन्दू परिषद एवं बजरंग दल द्वारा आयोजित शौर्य यात्रा के अवसर पर आयोजित विशाल धर्म सभा को संबोधित करते हुए मालवा प्रांत प्रमुख महामंडलेश्वर स्वामी नरसिंहदास जी महाराज ने व्यक्त किये । विश्व हिन्दू परिषद एवं बजरंग दल द्वाराआयोजित धर्म सभा में संत श्यामदासजी, संत खुमसिंहजी महाराज,ने भी हिन्दू समाज को संबोधित करते हुए अयोध्या मे जन्मस्थली पर श्रीराम मंदिर बनाने की बात कहीं । इस अवसर पर दीपक मकवाना, कृष्णाशाह, हिमांशु त्रिवेदी, राजू सोलंकी, लक्की चौहान, सुनील भट्ट, अंतिम शर्मा, आशीष सोनी, राहूल डामोर आदि उपस्थित थे । राजवाडा चौक से विशाल शौर्य यात्रा रामलला हम आयेगें, मंदिर वही बनायेगें, रामलला के वास्ते खाली करदो रास्ते जैसे गगन भेदी नारों के साथ नगर में निकाली गई । नगर में शौर्य यात्रा के दौरान बडी संख्या में युवा वर्ग ने भागीदारी की । नगर मे विश्व हिन्दु परिषद एवं बजंरग दल की इस शोभायात्रा को नगर मे आत्मीय स्वागत किया गया । 

  • राम मंदिर निर्माण के संकल्प के साथ आयोजित की शौर्य यात्रा-Shaurya-Yatra-organized-with-the-determination-of-building-Ram-temple-in-ayodhya