Articles by "प्रशासनिक"

1 26 january 1 abvp 46 Administrative 1 b4 cinema 1 balaji dhaam 1 bhagoria 1 bhagoria festival jhabua 2 bjp 1 cinema hall jhabua 28 city 16 crime 20 cultural 36 education 2 election 15 events 13 Exclusive 1 Famous Place 6 gopal mandir jhabua 17 Health and Medical 80 jhabua 4 jhabua crime 1 Jhabua History 1 matangi 3 Movie Review 5 MPPSC 1 National Body Building Championship India 4 photo gallery 18 politics 2 ram sharnam jhabua 50 religious 5 religious place 2 Road Accident 3 sd academy 67 social 13 sports 1 tourist place 13 Video 1 Visiting Place 11 Women Jhabua 2 अखिल भारतीय किन्नर सम्मेलन 1 अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद 1 अंगूरी बनी अंगारा 1 अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 15 अपराध 1 अल्प विराम कार्यक्रम 6 अवैध शराब 1 आदित्य पंचोली 1 आदिवासी गुड़िया 1 आरटीओं 1 आलेख 1 आवंला नवमी 4 आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट 1 ईद 1 उत्कृष्ट सड़क 20 ऋषभदेव बावन जिनालय 3 एकात्म यात्रा 2 एमपी पीएससी 1 कलाल समाज 1 कलावती भूरिया 3 कलेक्टर 14 कांग्रेस 6 कांतिलाल भूरिया 1 कार्तिक पूर्णिमा 2 किन्नर सम्मेलन 2 कृषि 1 कृषि महोत्सव 3 कृषि विज्ञान केन्द्र झाबुआ 1 केरोसीन 2 क्रिकेट टूर्नामेंट 4 खबरे अब तक 1 खेडापति हनुमान मंदिर 15 खेल 1 गडवाड़ा 1 गणगौर पर्व 1 गर्मी 1 गल पर्व 8 गायत्री शक्तिपीठ 2 गुड़िया कला झाबुआ 1 गोपाल पुरस्कार 4 गोपाल मंदिर झाबुआ 1 गोपाष्टमी 1 गोपेश्वर महादेव 14 घटनाए 1 चक्काजाम 3 जनसुनवाई 1 जय आदिवासी युवा संगठन 5 जय बजरंग व्यायाम शाला 1 जयस 6 जिला चिकित्सालय 3 जिला जेल 3 जिला विकलांग केन्द्र झाबुआ 1 जीवन ज्योति हॉस्पिटल 9 जैन मुनि 7 जैन सोश्यल गुुप 2 झकनावदा 83 झाबुआ 1 झाबुआ इतिहास 1 झाबुआ का राजा 3 झाबुआ पर्व 10 झाबुआ पुलिस 1 झूलेलाल जयंती 1 तुलसी विवाह 6 थांदला 3 दशहरा 1 दस्तक अभियान 1 दिल से कार्यक्रम 3 दीनदयाल उपाध्याय पुण्यतिथि 1 दीपावली 3 देवझिरी 40 धार्मिक 5 धार्मिक स्थल 8 नगरपालिका परिषद झाबुआ 5 नवरात्री 4 नवरात्री चल समारोह 4 नि:शुल्क स्वास्थ्य मेगा शिविर 1 निर्वाचन आयोग 5 परिवहन विभाग 1 पर्यटन स्थल 3 पल्स पोलियो अभियान 7 पारा 1 पावर लिफ्टिंग 14 पेटलावद 1 प्रजापिता ब्रह्मकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय 3 प्रतियोगी परीक्षा 1 प्रधानमंत्री आवास योजना 31 प्रशासनिक 1 बजरंग दल 2 बाल कल्याण समिति 1 बेटी बचाओं अभियान 2 बोहरा समाज 1 ब्लू व्हेल गेम 1 भगोरिया पर्व 1 भगोरिया मेला 3 भगौरिया पर्व 1 भजन संध्या 1 भर्ती 2 भागवत कथा 28 भाजपा 1 भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान 1 भारतीय जैन संगठना 3 भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा 1 भावांतर योजना 2 मध्यप्रदेश बाल अधिकार संरक्षण आयोग 1 मल्टीप्लेक्स सिनेमा 2 महाशिवरात्रि 1 महिला आयोग 1 महिला एवं बाल विकास विभाग 1 मिशन इन्द्रधनुष 1 मुख्यमंत्री महिला सशक्तिकरण योजना 2 मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चोहान 9 मुस्लिम समाज 1 मुहर्रम 3 मूवी रिव्यु 8 मेघनगर 1 मेरे दीनदयाल सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता 2 मोड़ ब्राह्मण समाज 1 मोदी मोहल्ला 1 मोहनखेड़ा 3 यातायात 1 रंगपुरा 2 राजगढ़ 12 राजनेतिक 8 राजवाडा चौक 11 राणापुर 5 रामशंकर चंचल 1 रामा 1 रायपुरिया 1 राष्ट्रीय एकता दिवस 2 राष्ट्रीय बॉडी बिल्डिंग चैम्पियनशीप 4 राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना 1 राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण 1 रोग निदान 2 रोजगार मेला 15 रोटरी क्लब 2 लक्ष्मीनगर विकास समिति 1 लाडली शिक्षा पर्व 2 वनवासी कल्याण परिषद 1 वरदान नर्सिंग होम 1 वाटसएप 1 विधायक 4 विधायक शांतिलाल बिलवाल 1 विश्व उपभोक्ता संरक्षण दिवस 2 विश्व विकलांग दिवस 2 विश्व हिन्दू परिषद 1 वेलेंटाईन डे 3 व्यापारी प्रीमियर लीग 1 शरद पूर्णिमा 5 शासकीय महाविद्यालय झाबुआ 33 शिक्षा 1 श्रद्धांजलि सभा 3 श्री गौड़ी पार्श्वनाथ जैन मंदिर 11 सकल व्यापारी संघ 2 सत्यसाई सेवा समिति 1 संपादकीय 2 सर्वब्राह्मण समाज 4 साज रंग झाबुआ 35 सामाजिक 1 सारंगी 12 सांस्कृतिक 1 सिंधी समाज 1 सीपीसीटी परीक्षा 3 स्थापना दिवस 4 स्वच्छ भारत मिशन 5 हज 3 हजरत दीदार शाह वली 6 हाथीपावा 1 हिन्दू नववर्ष 5 होली झाबुआ
Showing posts with label प्रशासनिक. Show all posts

झाबुआ। जिले मे महामहिम राज्यपाल का भ्रमण दिनांक 28 जून 2018 को प्रस्तावित है। प्रस्तावित कार्यक्रम के अनुसार महामहिम राज्यपाल का प्रातः 10.00 बजे पिटोल आगमन होगा। प्रातः 10.00 बजे से 11.15 बजे तक जिले के उप स्वास्थ्य केन्द्र कालियाबडा का निरीक्षण करेगी। कालाखूंट मे मोदीफलिया प्रधानमंत्री आवास का अवलोकन करेगी। उसके बाद प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पिटोल का अवलोकन किया जाएगा। प्रातः 11.45 बजे करडावद बडी पहुंचकर महामहिम राज्यपाल द्वारा आंगनवाडी केन्द्र का निरीक्षण किया जाएगा। उसके बाद प्रातः 11.45 बजे से दोपहर 12.00 बजे तक रंगपुरा विकलांग एवं पुर्नवास केन्द्र का अवलोकन किया जाएगा। लंच के बाद दोपहर 1.40 बजे से 2.00 बजे के मध्य महामहिम राज्यपाल आनंदीबेन पटेल द्वारा दीनदयाल रसोई का निरीक्षण किया जाएगा। उसके बाद पैलस गार्डन झाबुआ मे उत्साह वर्धन कार्यषाला मे उज्जवला योजना, लाडली लक्ष्मी योजना, प्रधानामंत्री आवास योजना, संबल योजना, सौभाग्य योजना एवं स्वयं सहायता समूह के हितग्राहियो को हितलाभ वितरण किया जाएगा।  
28 जून को महामहिम राज्यपाल आनंदीबेन पटेल झाबुआ जिले के भ्रमण पर, फूलो से स्वागत रहेगा प्रतिबंधित -anandiben-patel             उसके बाद रेडक्रॉस सोसायटी की 2 एम्बुलेंस का लोकार्पण किया जाएगा। उसके बाद अपरान्ह 4 बजे कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष मे हितग्राहियो तथा अधिकारियो से विभिन्न योजनाओ प्रधानमंत्री आवास, डिजीटल इंडिया, उज्जवला योजना एवं सौभाग्य योजना आदि पर चर्चा की जाएगी। सायं 5.30 बजे से 6.30 बजे तक हाथीपावा पहाडी पर किये गये पौधारोपण कार्य का अवलोकन करने के बाद महामहिम राज्यपाल आनंदीबेन पटेल द्वारा जिला रेडक्रास एसोसिएषन के सदस्यो एवं टी बी रोग से जुडे संगठनो के सदस्यो से चर्चा की जाएगी। उसके बाद राज्यपाल झाबुआ जिले मे रात्रि विश्राम कर 29 जून को प्रातः 9 बजे रतलाम जिले के लिए प्रस्थान करेगी।
   राज भवन भोपाल से प्राप्त निर्देशानूसार राज्यपाल महोदया के स्वागत हेतु फुलो के गुलदस्ते देने की सख्त मनाही है। फुलो के स्थान पर फलो से स्वागत किया जाये जिसको स्थानीय आगंनवाडी मे वितरण हेतु आयोजन स्थल पर ही आंगनवाडी कार्यकर्ता को दिया जाये। राज्यपाल महोदया के स्वागत हेतु लाल कारपेट का उपयोग न किया जायें। मंच पर बैठने हेतु अलग प्रकार की कुर्सी/सोफा का उपयोग न किया जाय। मंचासीन अतिथियों को एक समान बैठने का साधन दिया जाये। 

‘‘मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी योजना‘‘ 1 जुलाई से होगी लागू 

      झाबुआ। प्रदेश सरकार ने तीनों विद्युत वितरण कंपनी पूर्व, मध्य एवं पश्चिम क्षेत्र को 200 रूपए सरल बिजली बिल स्कीम एवं मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए निर्देश जारी किए हैं। मुख्यमंत्री जन कल्याण (संबल) योजना में पंजीकृत श्रमिकों के मासिक बिलों के लिए सरल बिजली बिल स्कीम एवं मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम आगामी 1 जुलाई से लागू हो रही है। मुख्यमंत्री बकाया बिल माफी स्कीम बीपीएल उपभोक्ताओं के लिए भी है।   
             शासन द्वारा जारी निर्देश में विद्युत कंपनियों से कहा गया है कि योजनाओं के हितग्राहियों की अतिरिक्त सुरक्षा निधियो के एरियर की बकाया राशि माफ करते हुए कोई नई सुरक्षा निधि नहीं ली जाए। नामांतरण की सरल प्रक्रिया अपनाई जाए, जिससे कि एक साथ एक ही घर में कनेक्शनधारी उपभोक्ता के सगे निकट संबंधी पंजीकृत श्रमिक के साथ निवास करने पर योजनाओं का लाभ मिल सके। विद्युत कंपनियों को दोनों योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार करने के निर्देश भी दिए गए हैं। मुख्यमंत्री जन कल्याण (संबल) योजना में पंजीकृत श्रमिकों को 200 रूपए प्रतिमाह की दर से सरल बिजली बिल स्कीम का लाभ दिया जाएगा। आगामी 1 जुलाई से शुरू होने वाली योजना के बिल अगस्त  में देय होंगे।
कैसे हों इस योजना में शामिल
योजना में शामिल होने के लिए पंजीकृत श्रमिकों को निर्धारित आवेदन पत्र भरकर विद्युत वितरण कंपनी के निकटतम कार्यालय या शिविर में जमा करने होंगे। पंजीकृत श्रमिकों के पंजीयन प्रमाण-पत्र के साथ आवेदन करने पर ऐसे परिवारों को बिना कनेक्शन प्रभार लिए निरूशुल्क विद्युत कनेक्शन प्रदान करने के निर्देश विद्युत वितरण कंपनियों को दिए गए हैं। योजना में 1000 वॉट तक के संयोजित भार वाले उपभोक्ता शामिल हो सकेंगे, किन्तु एयर कंडीशनर एवं हीटर का उपयोग करने वाले उपभोक्ता इस योजना में पात्र नहीं होंगे। योजना में जहां मीटर स्थापित हो, वहां मीटर से रीडिंग करते हुए बिल की गणना की जाएगी।
        शहरी क्षेत्रों में स्थापित मीटर में अंकित खपत एवं विद्युत नियामक आयोग के विद्यमान टैरिफ के अनुसार उपभोक्ता बिल की गणना की जाएगी। उपभोक्ता द्वारा मात्र 200 रूपए मासिक अथवा विगत एक वर्ष का औसत मासिक बिल, जो भी कम हो, देय होगा। बिजली के अपव्यय को रोकने के लिए ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र में सरल बिल स्कीम में घर में बल्ब, पंखा चलाने एवं टीवी चलाने के उपयोग को दृष्टिगत रखते हुए खपत की बिलिंग प्रारंभिक रूप से अधिकतम 100 यूनिट रखी गई है। विद्युत वितरण कंपनियों को निर्देश दिए गये हैं कि नियामक आयोग के निर्धारित मानदंड के अतिरिक्त और कोई आंकलित यूनिट बिल में नहीं जोड़ें।
क्या हैं ‘‘मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी योजना‘‘
योजना में पंजीकृत श्रमिकों एवं बीपीएल उपभोक्ताओं के घरेलू संयोजनों में बिजली बिल की बकाया राशि को माफ किया जाएगा। योजना का प्रभाव जून 2018 तक की कुल बकाया राशि पर लागू होगा। योजना के पात्र उपभोक्ताओं के जुलाई के बिल जो माह अगस्त में आएंगे, से परिलक्षित होगा। इसके लिए मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम के तहत माफ की गई राशि (मूल एवं सरचार्ज) बिल में स्पष्ट रूप से दर्शाई जाएगी। योजना में जून तक उपभोक्ता द्वारा देय मूल बकाया राशि एवं सरचार्ज की संपूर्ण राशि माफ की जाएगी।
कौन हो सकता है योजना में शामिल
संबल योजना में पंजीकृत श्रमिकों व बीपीएल उपभोक्ताओं में से वे उपभोक्ता भी सम्मिलित हो सकेंगे, जिन पर सामान्य विद्युत बिल की राशि बकाया है। जिन्होंने वितरण कंपनियों के विरूद्ध बकाया राशि के संबंध में न्यायालयीन प्रकरण दर्ज किया है तथा प्रकरण लंबित है अथवा विद्युत बिल की राशि बकाया होने से विद्युत कनेक्शन विच्छेदित किया गया हो। जिनके ऊपर विद्युत वितरण कंपनी द्वारा विद्युत अधिनियम में प्रकरण दर्ज किया गया हो। पूर्व के वर्षों में समाधान योजना का लाभ ले चुके घरेलू उपभोक्ता पात्रता अनुसार इस योजना में पुन: लाभ ले सकेंगे। 


राजेश थापा, झाबुआ। जिला पुलिस लाईन परिसर में संचालित ON-LINE होने वाली प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी की विशेष सुविधा के लिए स्थापित नवीन "विवेकानंद अध्ययन केन्द्र" का शुभारंभ प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग, द्वारा किया गया। शुभारंभ के अवसर पर प्रभारी मंत्री द्वारा अध्ययन केन्द्र के मुख्य रजिस्टर पर शुभकामना संदेश लिख कर बधाई दी गई । 
           स्थानीय पुलिस लाईन झाबुआ स्थित "विवेकानंद अध्ययन केन्द्र" जिले का एकमात्र निःशुल्क ऑनलाईन अध्ययन केन्द्र हैं, जहां पर 10 अत्याधुनिक कंप्यूटर, इंटरनेट सुविधा के साथ उपलब्ध हैं। इंटरनेट हेतु Speeder कंपनी की हाईस्पीड डिस्क लगाई गई है। इसके अतिरिक्त प्रतियोगिता दर्पण, प्रतियोगिता निर्देशिका, घटना चक्र, समसामयिकी, करंट अफेयरर्स आदि पुस्तिकाएं एवं राष्ट्रीय व प्रादेशिक स्तर के समाचार पत्र टाइम्स ऑफ इंडिया, इंडियन एक्सप्रेस, दैनिक भास्कर, नईदुनिया, फ्री प्रेस, पत्रिका, राज एक्सप्रेस, रोजगार निर्माण आदि उपलब्ध हैं। 


        विवेकानंद अध्ययन केन्द्र ऑनलाईन एवं अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी हेतु सभी के लिए उपलब्ध है। अध्ययन केन्द्र में केवल बालिकाओं एवं महिलाओं के लिए भी पृथक से समय आरक्षित किया गया है.










अध्ययन केन्द्र के मुख्य रजिस्टर पर शुभकामना संदेश लिखा 

झाबुआ।  22 मई को शासन के निर्देशानुसार जनसुनवाई कार्यक्रम आयोजित किया गया। जनसुनवाई में आवेदन कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे एवं विभागीय अधिकारियों ने लिये। आवेदन प्राप्त कर संबंधित कार्यालय प्रमुखो को निराकरण के लिये आवश्यक निर्देश दिये गये। आवेदनो को आॅनलाईन साफ्टवेयर में दर्ज किया गया।  
  1. दीपा अमलियार फुलधावडी द्वारा पेंषन का लाभ देने के लिए आवेदन दिया।
  2.  श्री खेलसिंह बिलवाल कोकावद ब्लाक रामा द्वारा बताया कि उसकी पुत्री का अपरहण किया गया है उसको वापस दिलवाने के लिए आवेदन किया। 
  3. श्री रेवजी पिता भादु वसुनिया नारेला द्वाराष्षासकीय योजनाओ का लाभ देने के लियेे के लिए आवेदन दिया।
  4. श्री भूरचंद पिता बदिया ग्राम छोटी पावागोई मेघनगर द्वारा पेयजल की समस्या का निदान करने हेतु आवेदन दिया।
  5. श्री करन पिता पुॅजा भूरिया ग्राम रसोडी से अवैध कब्जा हटवाने के लिए आवेदन दिया।
  6. श्री दला अमलियार ग्राम पिपलिया द्वारा प्रधानमंत्री आवास का लाभ देने के संबंध में आवेदन दिया।
  7. प्राथमिया शाला स्कुल हुडा के सामने छोटा तालाब के समीप नाला अधुरा छोड देने के संबंध में हुडा क्षैत्र झाबुआ के नागरिकों द्वारा निराकरण हेतु आवेदन दिया। 


जनसुनवाई में सुनी गई समस्याएॅ - Jansunvai Jhabua

अतिथि वक्ताओ ने कहा किसान हितैषी है सरकार ,प्रदेश को कृषि कर्मण अवार्ड

किसानो ने सुना प्रधानमंत्री का संबोधन

   कार्यक्रम में किसानो को संबोधित करते हुए उपस्थित अतिथियों ने कहां कि शासन द्वारा कई किसान हितैषी निर्णय लेकर खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिए प्रयास किये गये है। किसान को शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण उपलब्ध करवाते हुए एक कदम और आगे बढाया और अब किसान को यदि 1 लाख रूपये ऋण दिया जाता है, तो किसान से सिर्फ 90 हजार रूपये ही वापस लिये जाते है। किसान की फसल का उचित दाम मिले इसलिए आर्थिक जोखिम से सुरक्षा प्रदान करने के लिए मध्यप्रदेश में भावांतर योजना प्रारंभ की गई है। 
        इस योजना में सभी किसान अपनी फसल का पंजीयन अवश्य करवाये। मुख्यमंत्री द्वारा और भी कई ऐसे निर्णय लिये गये है, जिससे किसान आर्थिक नुकसान से बच सके और खेती लाभ का धंधा बन सके। हमारा किसान निरंतर उत्पादन कर रहा है। इसीलिए देश मे अत्यधिक गेहूॅ उत्पादन के लिए इस वर्ष भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान को कृषि कर्मण अवार्ड से सम्मानित किया। किसानो को खेती संबंधी तकनीकी मार्ग दर्शन भी कृषि वैज्ञानिको द्वारा दिया गया।
जल संरक्षण एवं दहेज दापा पर रोक लगाने के लिए दिलाया संकल्प
       कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कलेक्टरआशीष सक्सेना ने कहा कि जिले में जल संरक्षण एवं बाल विवाह एवं दहेज दापा की रोकथाम अति आवश्यक है इसके लिए 28 मार्च को जिले में फलिये-फलिये जागरूकता कार्यक्रम आयोजित कर महिलाओं को बाल विवाह, दहेज दापा एवं अनावश्यक खर्चो पर रोक लगाने के लिए संकल्प दिलाया जाएगा एवं जल संचय के लिए जलसंरचनाए बनाई जाएगी। कार्यक्रम में कलेक्टर आशीष सक्सेना ने सभी को जल संरक्षण एवं बाल विवाह रोकने एवं अनावश्यक व्यय पर राक लगाने के लिए  संकल्प दिलाया। 

राष्ट्रीय संगोष्ठी में कलेक्टर ने जल संरक्षण एवं दहेज दापा रोकने का दिलाया संकल्प-National-Seminar-collector-resolved-to-conserve-water-and-prevent-dowry

बीसी की बैठक संपन्न

झाबुआ। पुलिस लाईन स्थित सभाकक्ष में आज 19 फरवरी को बैंक संबंधी काम ग्रामीण क्षैत्रो में करने वाले बीसी की बैठक संपन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे ने की, बैठक में एलडीएम श्री अरविंद कुमार, सहित बैंक प्रतिनिधि एवं जिला अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में बीसी को निर्देश दिये गये कि रोजगार गारंटी योजना के हितग्राहियों के बैंक खाता धारको से संपर्क करके बैंक खातो की आधार सीडिंग एवं संयुक्त बैंक खातो को एकल खातो मे परिवर्तित करवाना सुनिश्चित करे।  
      जिस बी.सी.को जो ग्राम पंचायत  आंवटित की गई है, उसी ग्राम पंचायत में निर्धारित दिन व समय पर बी.सी. अपनी उपस्थिति सुनिश्चित करे। बी.सी. एवं बैंक सखी ग्रामीण स्तर पर पेंशन एवं अन्य योजनाओं संबंधी लेन देन करना सुनिश्चित करे।

बीसी मनरेगा के सभी मजदुरो के बैंक खातों की आधार सीडिंग सुनिश्चित करे



झाबुआ। स्वच्छ भारत मिशन अभियान अंतर्गत शौचालय निर्माण की प्रगति को गति प्रदान करने के लिए प्रेरको की भूमिका का निर्वहन करने के विगत 13 फरवरी को आरसेटी प्रशिक्षण संस्थान झाबुआ के परिसर में प्रशिक्षण आयोजित किया गया एवं ग्रामीण क्षेत्र के आजीविका परियोजना के अमले को शौचालय निर्माण कार्य मे ग्रामीणो का सहयोग लेते हुए ग्रामीणो से चर्चा कर शौचालय का निर्माण एवं उपयोग करने के लिए समझाईश देने के लिये आवश्यक प्रशिक्षण दिया गया।  
          प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रभारी कलेक्टर एवं सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे, आजीविका परियोजना के जिला संयोजक श्री राय, स्वच्छ भारत मिशन के जिला संयोजक श्री सुनील सुमन, सहित प्रशिक्षणार्थी उपस्थित थे। प्रशिक्षणार्थियो को बताया गया कि ग्रामीणो को शौचालय का उपयोग करने के फायदे बताते हुए समझाये कि बाहर शौच करने जाने से जहरीले जानवरो के काटने का खतरा बना रहता है। वर्षा काल में बहुत परेशानी होती है एवं गाव के आसपास गंदगी बने रहने से डायरिया टायफाइड इत्यादि घातक बीमारियो हो सकती है। इसलिए आप लोग शौच के लिए शौचालय का ही उपयोग करे। 
      शौचालय का उपयोग करने में आप कई बीमारियो से बचे रहेगे और बीमार होने के कारण दवाईयो एवं ईलाज पर होने वाला खर्च भी बचेगा। शौचालय के फायदे ही फायदे है नुकसान कुछ भी नही। अतः सभी ग्रामीण जन शौच के लिए शौचालय का निर्माण कर उपयोग करे एवं अपने गाव को स्वच्छ बनाये तथा परिवार के सभी सदस्यो का मान बढाये।

झाबुआ। निःशुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 के तहत स्कूलो की मानीटरिंग एवं सुपरविजन व प्रचार प्रसार के लिए आज झाबुआ में स्थानीय दादाजी रेस्टोरेन्ट में प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन मध्यप्रदेश बाल अधिकार आयोग भोपाल के तत्वाधान में किया गया। कार्यशाला में बाल संरक्षण आयोग भोपाल के सदस्य श्री आशीष कपूर कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना, सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे, अध्यक्ष बाल कल्याण समिति श्री शैलेष दुबे, दीपेश सकलेजा, जिला शिक्षा अधिकारी श्री सोलंकी, डीपीसी श्री प्रजापति सहित, बीईओ, बीआरसी, प्राचार्य, सीईओ जनपद एवं अशासकीय शैक्षणिक संस्थाओं के शिक्षक उपस्थित थे। 
          कार्यशाला को संबोधित करते हुए अतिथियो ने कहा कि बाल संरक्षण अधिनियम एवं निःशुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 के प्रावधानो का पालन सभी शैक्षणिक संस्थाओ में सुनश्चित करे। कोई भी बच्चा शिक्षा से वंचित ना रहे इसके लिए हर तरह के प्रयास करे, माता-पिता को समझाये और शिक्षा के फायदे बताये, यदि फिर भी नहीं माने तो दण्डात्मक कार्यवाही भी करे। बच्चों के अधिकार का हनन ना हो यह सुनिश्चित करे।
  • जिला स्तर पर अनिवार्य एवं निःशुल्क शिक्षा के लिए कार्यशाला संपन्न

महिलाओ को अधिकारो के प्रति सजग रहने की आवश्यकता

झाबुआ। वर्तमान में शासन-प्रशासन, समाज तथा आम जनमानस में महिलाओ के प्रति सम्मान बढा है। वहीं कई अधिनियमों तथा योजनाओं के माध्यम से महिलाओं को आगे बढाने तथा प्रोत्साहित करने के कार्य निरंतर किए जा रहे है। उक्त विचार व्यक्त करते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रचना भदौरिया ने कहां कि जापान में हिरोशिमा तथा नागासाकी पर परमाणु हमले के बाद अंतराष्ट्रीय स्तर पर मानव के अधिकारो के संबंध में विस्तृत चर्चा हुई। 1948 में संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा मानव अधिकार आयोग का गठन करने का निर्णय लिया। पुलिस विभाग में मानव अधिकारो के संबंध में कई प्रशिक्षण दिए जा रहे है। हमारा प्रमुख लक्ष्य है कि किसी भी स्थिति में किसी भी मानव एवं विश्शेष कर महिलाओ के अधिकारो का हनन नहीं होना चाहिए। अवसर पर आंगनवाडी कार्यकत्र्ता, सहित जन अभियान परिषद के प्रशिक्षणार्थी उपस्थित थें। संचालन प्रकाश ने किया। आभार दयाराम मुवेल ने माना। 
महिला सशक्तिकरण विभाग द्वारा विगत 10 दिसम्बर को जन अभियान परिषद के माध्यम से आयोजित कार्यक्रम में महिलाओं के अधिकार, पर चर्चा की गई महिला सखी अर्चना राठौर ने बताया कि वर्तैमान में महिला आयोग की प्रदेश अध्यक्ष लता वानखडे के नेतृत्व में महिला आयोग पूरे प्रदेश में सक्रियता से कार्य कर रहा है। प्रत्येक जिले में आयोग द्वारा महिला सखी की नियुक्ति की गई है, जो महिलाओ के अधिकारो  की लडाई के साथ विभिन्न गतिविधियों को संचालित करती है, जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी आरएस बघेल तथा महिला एवं बाल कल्याण अधिकारी चैहान ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रो तक महिलाओं के अधिकारो, हित सरंक्षण तथा उन्हें सहयोग देने के लिए प्रत्येक पंचायत स्तर पर महिला शक्ति समिति तथा शौर्य दल का गठन किया गया है। इसमें महिला जन प्रतिनिधि सहित ग्राम की अग्रणी महिलाओं तथा सामाजिक सेवाओं से जुडे पुरूषो को सदस्य बनाया गया है। 
 समाजसेवी यशवंत भण्डारी एवं एमएल फुलपगारे ने कहा कि महिलाए अपने कर्तव्य के प्रति सजग तथा समर्पित नहीं होगी, तब तक उनके पास अधिकार नहीं आएंगे। अपने अधिकारो को जाने और उनको पाने के लिए संघर्ष जारी रखे। जो व्यक्ति अपने कार्य ईमानदारी से पूरे करता है, उसकी ईश्वर भी मदद करता है। उसके आत्मबल से उसे कोई भी अधिकार मांगने की आवश्यकता नहीं होती है, स्वतः ही उसे प्राप्त हो जाती है।

महिला स्वयं सहायता समूहो का सम्मेलन 16 दिसम्बर को भोपाल में होगा, उप राष्टापति श्री वैकेया नायडू होगे मुख्य अतिथि 

झाबुआ। महिला स्वय सहायता समूहो का वृहद सम्मेलन भोपाल में आगामी 16 दिसम्बर को आयोजित होगा। इस सम्मेलन में उप  राष्ट्रपति श्री वैंकेया नायडू मुख्य अतिथि होगे। 
सम्मेलन का मुख्य उद्देश्य महिला स्वयं सहायता समूहो को सशक्त करना है। महिला स्वयं सहायता समूहो के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र में महिला नेतृत्व उभरा है। इन समूहो के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रो में रोजगार सृजन बढाये है। इन समूहो को पोषण आहार निर्माण तथा स्कूल गणवेश निर्माण के कार्य दिये जा सकते है। इस तरह के सम्मेलन संभाग स्तर पर भी आयोजित किये जाये।

  • महिला आयोग के माध्यम से जिले में चल रही कई गतिविधियां-Many-activities-going-on-in-the-district-through-the-Women-Commission

राजस्व अधिकारियों की बैठक संपन्न

झाबुआ। राजस्व कोर्ट में विचाराधीन प्रकरणो में अनावश्यक कारणो से पेशी नहीं बढाये प्रकरण का निराकरण एक दो पेशी में ही करना सुनिश्चित करे। वसूली के प्रकरणो में मौके पर ही वारंट जारी कर संबंधित को तामिल करवाये घर पर  कोई ना मिले तो वारंट घर पर चस्पा करे, कुर्की का आदेश जारी कर, संपत्ति नीलाम करे। सीमांकन में कही समस्या आ रही है, तो कोटवार एवं तडवी को साथ लेकर सीमाकंन कार्य करे।  
         अविवादित नामांतरण बंटवारा के प्रकरणो में स्वतः संज्ञान लेकर कार्यवाही करे। मृत्यु पंजी की सूची से मिलान कर वारिसों के नाम भू-अभलेख में तत्काल नामांतरण करे, आवेदन की प्रतिक्षा ना करे। उक्त निर्देश कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने विगत 28 नवम्बर को कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में संपन्न राजस्व अधिकारियों की बैठक में दिये बैठक की अध्यक्षता कलेक्टर श्री सक्सेना ने की। बैठक में एडीएम श्री एसपीएस चौहान सहित एसडीएम, तहसीलदार, आरआई सहित शासकीय सेवक उपस्थित थे।

झाबुआ अंतर्राष्ट्रीय विश्व मानव अधिकार दिवस 10 दिसम्बर को-सशस्त्र सेना झंडा दिवस 7 दिसंबर को-राजस्व वसूली के प्रकरणो में मौके पर ही तामिल करवाये वारंट- कलेक्टर-warrants-on-the-occasion-of-recovery-of-revenue-collection

रामा तहसील के वन व्यवस्थापन कार्य एसडीएम झाबुआ करेगे

झाबुआ। जिले  के अंतर्गत तहसील रामा का गठन म.प्र. राजस्व विभाग, मंत्रालय, वल्लभ भवन, भोपाल के आदेश अनुसार किया गया है।
रामा क्षेत्र विधानसभा क्षेत्र पेटलावद के अंतर्गत होने से तथा प्रशासकीय कार्य सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए अनुविभाग पेटलावद में शामिल किया है। कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना द्वारा आंशिक संशोधन करते हुए आदेश जारी कर तहसील रामा अंतर्गत वन अधिनियम 1927 की धारा-4 के तहत वन व्यवस्थापन कार्य हेतु अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ को आदेशित कर कार्य सौपा गया है।

सशस्त्र सेना झंडा दिवस 7 दिसंबर को

झाबुआ। आगामी 7 दिसम्बर को सशस्त्र झण्डा दिवस मनाया जाएगा। भारतीय सशस्त्र सेनाओं के ऐसे जवान जो देश की रक्षा, राज्य की सुरक्षा, आंतरिक सुरक्षा के दौरान एवं प्राकृतिक आपदाओं में कर्त्तव्यपालन करते समय वीरगति को प्राप्त हो जाते हैं, उनका स्मरण करने, सम्मान देने तथा देश की जनता का अपने सैनिकों के प्रति एकजुटता प्रकट करने के लिए देश में प्रतिवर्ष 7 दिसम्बर का दिन सशस्त्र सेना झण्डा दिवस के रूप में मनाया जाता है। उक्त दिवस को देश की रक्षा करते हुए शहीद हुए जवानों का पुण्य स्मरण करते हुए शहीद जवानों के परिवारों के कल्याण के लिए ध्वज बेचकर धनराशि एकत्रित की जाती है।

अंतर्राष्ट्रीय विश्व मानव अधिकार दिवस 10 दिसम्बर को मनाया जायेगा

         झाबुआ। आगामी 10 दिसम्बर को अन्तर्राष्ट्रीय मानव अधिकार दिवस के रूप में मनाया जायेगा। इस दिन मानव अधिकारों के संरक्षण और संवर्धन के लिए संगोष्ठियों, कार्यशालाओं एवं रैलियों का आयोजन कर जनसामान्य को मानव अधिकारों के प्रति सतर्क, सजग एवं संवेदनशील बनाये जाने का प्रयास किया जायेगा। 

लोकसेवा केन्द्रों से गारंटी के साथ प्राप्त कर सकते हैं 149 सेवाएँ

झाबुआ। लोक सेवा केन्द्रों के माध्यम से कोई भी व्यक्ति गारंटी के साथ अधिसूचित सेवायें प्राप्त कर सकता है। वर्तमान में लोकसेवा केन्द्रों द्वारा 149 सेवाएँ प्रदाय की जा रही है, जिसकी विस्तृत जानकारी शासन की वेबसाईट पर उपलब्ध हैं। लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत सेवाओं को समय सीमा में प्रदाय की जाने की गारंटी है। समय-सीमा में आवेदन का निराकरण न किये जाने पर संबंधित अधिकारी पर अर्थदंड लगाने का प्रावधान है। 

शासकीय सेवको को जीवन मूल्यो की दी गई जानकारी  

झाबुआ। आज जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग झाबुआ के शासकीय सेवको के लिए अल्प विराम कार्यक्रम का आयोजन किया गया। 
अल्प विराम कार्यक्रम में नोडल अधिकारी आनंद विभाग एवं उप संचालक जनसम्पर्क श्रीमती अनुराधा गहरवाल ने अल्प विराम कार्यक्रम का संचालन किया। अल्प विराम कार्यक्रम में शासकीय अधिकारी एवं कर्मचारियों के व्यवहार और विचारो को और अधिक सकारात्मक करने के लिए अपने आपकों पहचानने अपने अंदर छुपी अच्छाईयों को और अधिक बढाने एवं अपने अंदर की बुराईयों को धीरे-धीरे कम करने के लिए अभ्यास करवाया गया। अल्प विराम कार्यक्रम में जीवन मूल्यों के बारे में बताने के लिए मेरे गिलास में क्या का प्रदर्शन करते हुऐ, अपने अंदर की बुराईयो को कम करते हुए स्वयं में छोटे-छोटे बदलाव करके अपनी उर्जा को अपने उद्देश्यो को पूरा करने में उपयोग कर सकते है। एवं नकारात्मक विचारो से नष्ट होने वाली उर्जा को बचा कर सकारात्मक कार्यो में लगाया जा सकता है। स्वयं को खुश रखने के तरीके बताये गये।
         शासकीय सेवको को बताया गया कि वे जीवन मूल्यों को समझकर अपने व्यवहार में बदलाव करके व्यस्तम समय में भी आनंद की अनुभूति कर सकते है। क्रार्यक्रम में सहायक संचालक महिला एवं बाल विकास  श्री अजय चोैहान, वर्षा चैहान सहित विभाग के शासकीय सेवकों ने भाग लिया।

महिला बाल विकास विभाग में अल्प विराम कार्यक्रम का हुआ आयोजन-Organizing-a-short-program-in-Women-Child-Development-Department


झाबुआ। जिले में भ्रमण पर आये मध्यप्रदेश बाल अधिकार संरक्षण आयोग के सदस्य श्री आशीष कपूर ने 24 एवं 25 अक्टूबर को जिले में भ्रमण कर बाल संप्रेक्षण गृह झाबुआ, पोषण पुनर्वास केन्द्र मेघनगर, थांदला, आंगनवाडी केन्द्र एवं महर्षि दयानंद सेवा आश्रम थांदला का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया एवं बच्चों को अच्छा पोषण स्वास्थ्य एवं संस्कार देने के लिए आवश्यक निर्देश दिये।
               स्थानीय सर्किट हाउस झाबुआ में अधिकारियों की बैठक आयोजित कर बच्चों के अधिकारों एवं संरक्षण संबंधी शासन की योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की एवं आवश्यक निर्देश दिये। बैठक में डीपीसी को निर्देश दिये की सभी प्रायवेट स्कूलों में आरटीई के तहत गरीब बच्चों का एडमिशन शत-प्रतिशत शीट पर करवाये। जिला शिक्षा अधिकारी को जिले में संचालित सभी प्रायवेट स्कूलों में सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार सीसीटीवी कैमरे लगवाने एवं बच्चों की सुरक्षा संबंधी अन्य सभी व्यवस्थाएॅ सुनिश्चित करने के लिए निर्देशित किया। बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी श्री सोलंकी, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास श्री गणेश भाभर, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास श्री आर.एस.जमरा, जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी श्री बघेल, सीएमएचओं डाॅ. चोैहान, डीपीसी श्री प्रजापति उपस्थित थे।
  सदस्य मध्यप्रदेश बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने थांदला के महर्षि दयानंद सेवाश्रम थांदला के निरीक्षण के दौरान भोजना व्यवस्था एवं शौचालय की व्यवस्था ठीक नहीं पाये जाने पर नाराजगी जाहिर की एवं व्यवस्था ठीक करवाने के निर्देश दिये। दयानंद आश्रम में पर्याप्त शिक्षकों की व्यवस्था करने के निर्देश दिये। छात्रावास अधीक्षक अनुपस्थित पाई गई। आश्रम में लडके एवं लडकियों के रहने के लिए अलग अलग व्यवस्था करने के निर्देश दिये।

झाबुआ।  कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना की अध्यक्षता में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति अधिनियम के नियम 1995 के नियम 17 के तहत गठित जिला स्तरीय सतर्कता एवं माॅनिटरिंग समिति तथा जिला स्तरीय अनुसूचित जाति सलाहकार समिति की बैठक का आयोजन आज 9 अक्टूबर को कलेक्टर कार्यालय में किया गया।
     बैठक में अधिनियम के तहत प्राप्त होने वाले राहत प्रकरणो पर विचार किया गया एवं आवश्यक निर्णय लिये गये। बैठक में सहायक आयुक्त आदिवासी विकास श्री गणेश भाभर सहित समिति के सदस्य उपस्थित थे।

जिला स्तरीय सतर्कता एवं माॅनिटरिंग समिति की बैठक संपन्न -District-level-Vigilance-and-Monitoring-Committee-meeting-concluded


Trending

[random][carousel1 autoplay]

More From Web

आपकी राय / आपके विचार .....

निष्पक्ष, और निडर पत्रकारिता समाज के उत्थान के लिए बहुत जरुरी है , उम्मीद करते है की आशा न्यूज़ समाचार पत्र भी निरंतर इस कर्त्तव्य पथ पर चलते हुए समाज को एक नई दिशा दिखायेगा , संपादक और पूरी टीम बधाई की पात्र है !- अंतर सिंह आर्य , पूर्व प्रभारी मंत्री Whatsapp Status Shel Silverstein Poems Facetime for PC Download

आशा न्यूज़ समाचार पत्र के शुरुवात पर हार्दिक बधाई , शुभकामनाये !!!!- निर्मला भूरिया , पुर्व विधायक

जिले में समाचार पत्रो की भरमार है , सच को जनता के सामने लाना और समाज के विकास में योगदान समाचार पत्रो का प्रथम ध्येय होना चाहिए ... उम्मीद करते है की आशा न्यूज़ सच की कसौटी और समाज के उत्थान में एक अहम कड़ी बनकर उभरेगा - कांतिलाल भूरिया , पुर्व सांसद

आशा न्यूज़ से में फेसबुक के माध्यम से लम्बे समय से जुड़ा हुआ हूँ , प्रकाशित खबरे निश्चित ही सच की कसौटी ओर आमजन के विकास के बीच एक अहम कड़ी है , आशा न्यूज़ की पूरी टीम बधाई की पात्र है .- शांतिलाल बिलवाल , पुर्व विधायक झाबुआ

आशा न्यूज़ चैनल की शुरुवात पर बधाई , कुछ समय पूर्व प्रकाशित एक अंक पड़ा था तीखे तेवर , निडर पत्रकारिता इस न्यूज़ चैनल की प्रथम प्राथमिकता है जो प्रकाशित उस अंक में मुझे प्रतीत हुआ , नई शुरुवात के लिए बधाई और शुभकामनाये.- कलावती भूरिया , पुर्व जिला पंचायत अध्यक्ष

मुझे झाबुआ आये कुछ ही समय हुआ है , अभी पिछले सप्ताह ही एक शासकीय स्कूल में भारी अनियमितता की जानकारी मुझे आशा न्यूज़ द्वारा मिली थी तब सम्बंधित अधिकारी को निर्देशित कर पुरे मामले को संज्ञान में लेने का निर्देश दिया गया था समाचार पत्रो का कर्त्तव्य आशा न्यूज़ द्वारा भली भाति निर्वहन किया जा रहा है निश्चित है की भविष्य में यह आशा न्यूज़ जिले के लिए अहम कड़ी बनकर उभरेगा !!- डॉ अरुणा गुप्ता , पूर्व कलेक्टर झाबुआ

Congratulations on the beginning of Asha Newspaper .... Sharp frown, fearless Journalism first Priority of the Newspaper . The Entire Team Deserves Congratulations... & heartly Best Wishes- कृष्णा वेणी देसावतु , पूर्व एसपी झाबुआ

महज़ ३ वर्ष के अल्प समय में आशा न्यूज़ समूचे प्रदेश का उभरता और अग्रणी समाचार पत्र के रूप में आम जन के सामने है , मुद्दा चाहे सामाजिक ,राजनैतिक , प्रशासनिक कुछ भी हो, हर एक खबर का पूरा कवरेज और सच को सामने लाने की अतुल्य क्षमता निश्चित ही आगामी दिनों में इस आशा न्यूज़ के लिए एक वरदान साबित होगी, संपादक और पूरी टीम को हृदय से आभार और शुभकामनाएँ !!- संजीव दुबे , निदेशक एसडी एकेडमी झाबुआ

Contact Form

Name

Email *

Message *

E-PAPER
Layout
Boxed Full
Boxed Background Image
Main Color
#007ABE
Powered by Blogger.