झाबुआ। जिला मुख्यालय पर ग्राम गोपालपुरा में स्थित श्री प्रजापिता ब्रह्मकुमारी ईष्वरीय विष्वविद्यालय सहित जिले की सभी ब्रह्मकुमारी संस्थाओं पर 13 फरवरी को महाशिवरात्रि का पावन पर्व मनाया जाएगा। इस अवसर पर संस्थाओं पर शिव बाबा को भोग लगाने के साथ शिव ध्वज फहराई जाएगा। ग्राम गोपालपुरा स्थित संस्था पर सर्व धर्म सम्मेलन का आयोजन होगा।
ब्रह्मकुमारी संस्थाओं में महाशिवरात्रि से होगा दस दिवसीय महोत्सव का आयोजन  यह जानकारी देते हुए बीके जयंती दीदी एवं ज्योति दीदी ने बताया कि झाबुआ के ग्राम गोपालपुरा स्थित संस्था पर 13 फरवरी को सुबह साढ़े 5 बजे से मेडिटेशन किया जाएगा। साढ़े 7 बजे से दोेनो दीदी द्वारा महाशिवरात्रि पर्व के महत्व के बारे में उपस्थित भ्राता-बहनो को जानकारी दी जाएगी। 9 बजे शिव बाबा को भोग लगाया जाएगा। भोग के बाद शिव ध्वज लहराया जाएगा। तत्पष्चात् सर्व धर्म सम्मेलन का आयोजन होगा। जिसमें सभी समाजों के प्रतिनिधि उपस्थित रहकर अपने-अपने उद्बोधन में महाशिवरात्रि के महत्व को प्रतिपादित करेंगे एवं शिव बाबा के जीवन के बारे में प्रकाश डालेंगे। केंद्र पर शिवरात्रि के महत्व को प्रतिपादित करती आध्यात्मिक प्रदर्षनी भी लगाई जाएगी। इस दिन जिले की अन्य सभी ब्रह्मकुमारी संस्थाओं पर भी शिव बाबा को भोग लागने के साथ पर्व के महत्व के बारे में जानकारी दी जाएगी। 
पेटलावद में 14 को यात्रा निकाली जाएगी
पेटलावद में स्थित सेंटर पर 14 फरवरी को शिवरात्रि पर्व मनााय जाएगा। इस दिन शिव मंदिर से यात्रा निकली जाएगी। इससे पूर्व मंदिर पर ध्वज लहराया जाएगा। यात्रा में सर्व आत्माओं के परम् पिता शिव बाबा की विशेष झांकी आकर्षण का केंद्र रहेगी। दस दिवसीय महोत्सव के तहत सभी केंद्रों पर 7 से 8 बजे एवं शाम को 4 सेे 5 तथा 5 से 6 बजे तक आने वाले शिवरार्थियों को शिवजी का महीमा बताने के साथ ही मेडीटेन भी करवाया जाएगा। उक्त कार्यक्रम 23 फरवरी तक चलेंगे। बीके जयंती दीदी एवं ज्योति दीदी ने सभी जिलेवासियों से केंद्रों पर पधारकर धर्मलाभ लेने की अपील की है।