झाबुआ। घुघरी बच्चा चोरी प्रकरण तथा पेटलावद के थाना प्रभारी दिनेश शर्मा को गिरफ्तार कर एससी एसटी एक्ट के तहत उन पर मुकदमा चलाने की मांग को लेकर जयस द्वारा कलेक्टर कार्यालय पर पांचवे दिन भी धरना प्रदर्शन के साथ ही आमरण अनशन आन्दोलन जारी रहा। कमलेश्वर डोडियार , विजय डामोर, सचिन गामड एवं अनुराग खडिया के नेतृत्व में शासकीय अवकाश होने के बाद भी इनका धरना जारी रहा । प्रशासन द्वारा शुक्रवार को खाने पीने की सामग्री तथा बर्तन भांण्डे, दाल, चांवल सब्जी आदि को टेम्पो ट्रेक्स में नगरपालिका के माध्यम से उठवा ली गई थी इसके बाद भी इन लोगों ने परमल-सेव के भरोसे उदरपूर्ति की। कमलेश्वर डोडियार, जयज जिला प्रभारी विजय डामोर , सचिन गामड एवं अनुराग खडिया ने दोपहर 2-30 बजे कलेक्टर कार्यालय परिसर स्थित अपने धरना स्थल पर प्रेस वार्ता लेकर अपने आन्दोलन को शासन के निर्णय- निर्देश तक जारी रखने की बात कहीं । तथा आमरण अनशन करने वालों की संख्या 25 तक हो जाने की बात भी बताई ।   
          आयोजित पत्रकार वार्ता में अनशनरत जयस के कमलेश्वर डोडियार ने बताया कि आज हमारे धरना प्रदर्शन एवं आन्दोलन का पांचवा दिन है। हम सभी लोकतांत्रित तरिके से यहां पर शांतिपूर्ण धरना आन्दोलन एवं अनशन कर रहे है। उन्होने कहा कि हमारी मुख्य मांग पेटलावद थाना प्रभारी दिनेश शर्मा जिनके द्वारा बेकसुर ग्रामीणों एवं आदिवासी समाज के साथ मारपीट एवं अभद्रता की गई है, आधीरात को पहुंच कर महिलाओं सहित लोगों के साथ मारपीट की गई है, उनके खिलाफ एससी एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दायर करके उन्हे गिरफ्तार किया जावे । 8 अगस्त को घुघरी में बच्चा चोरी प्रकरण मे पुलिस की उपस्थिति में पथराव किया गया था, उस प्रकरण में जो लोग शामील ही नही थे उन पर मुकदमें कायम किये गये है तथा 4 लोगो को गिरफ्तार करने के अलावा निर्दोष व्यक्तियों के विरूद्ध मकदमे कायम कर दिये गये है। इसलिये हमारी मांग है कि इस प्रकरण की सीआईडी जांच करवाई जावे । 
         कमलेश्वर ने यह भी बताया कि गुरूवार को प्रदेश के गृहमंत्री बाला बच्चन से उनका पांच सदस्यीय प्रतिनिधि मंडल मिला था तथा उन्हे पूरी वस्तुस्थिति से अवगत कराया गया है। उन्होने उनकी बातों को गंभीरता से लेते हुए निर्दोष व्यक्तियों के विरूद्ध कोई कार्रवाही नहीं हो इसके लिये जांच कराने का भरोसा दिलाया है। वही पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंह से भी जयस के प्रतिनिधिमंडल ने भेट करके उन्हे वास्तविकता से अवगत करा दिया है । उन्होने कहा कि जब तक न्याय प्राप्ति नही हो जाती तब तक इनका धरना प्रदर्शन आदि जारी रहेगा । उन्हे विश्वास है कि गृह मंत्री सकारात्मक कार्रवाही करेगें । डोडियार ने यह भी कहा कि पुलिस द्वारा ग्रमीणों के साथ हाई डिग्री अत्याचार हुआ है । अनील द्वारा विगत दिनों दिये गये बयानों को गलत बताते हुए कमलेश्वर ने कहा कि समाज के लोगों पर हुए अत्याचार के चलते किसी को भी गुस्सा आना स्वाभाविक है और इसी के चलते उन्होने जो बयान दिया है उसे लेकर उन्हे भी आगाह कर दिया गया है कि भविष्य में ऐसे बयान नही देवें इसके लिये उन्हे समझाईश दे दी गई है ।
       उन्होने कहा कि शनिवार को वे विधायक कांतिलाल भूरिया, पेटलावद विधायक वालसिंह मेडा एवं डा. विक्रांत भूरिया से 25 लोग जाकर भेंट करेगें तथा उनसे इस बारे मे विस्तार से चर्चा करके आगामी निर्णय लेगें । इस अवसर पर जयस के जिला प्रभारी विजय डामोर ने बताया कि हम लोगों को कलेक्टर साहब ने 7 दिन का समय दिया है। और विधायक कांतिलाल भूरिया,विधायक पेटलावद वालसिंह मेडा तथा डा. विक्रांत भूरिया से हम लोग इसी कडी मे मिलने जा रहे है। और हम इसके समाधान की पूरी उम्मीद है। जयस नेता अनुराग खडिया ने भी प्रेस को संबोधित करते हुए कहा कि कलेक्टर साहब ने 7 दिन का समय दिया है और हम लोग मंगलवार तक समाधान का इन्तजार कर रहे है । तब तक हमारा आन्दोलन जारी रहेगा। इस दौरान महिलाओ, बच्चों आदि को यदि कुछ होता है या अनहोनी होती है तो इसके लिये शासन प्रशासन जिम्मेवार रहेगा। कलेक्टर कार्यालय में शनिवार को भी ग्रामीणों के साथ जयस का धरना अनशन आन्दोलन जारी रहा। सायंकाल 5 बजे जयस कार्यकर्ता जुलुस के रूप में कलेक्टर कार्यालय से होते हुए पुलिस कंट्रोल रूम में पुलिस अधीक्षक से भेंट करने के लिये पहुंचे जहां इस मुद्दे को लेकर जयस नेताओं की उनसे चर्चा हुई।

Jhabua News-जयस का अनशन व धरना प्रदर्शन जारी

Asha Jhabua News- जयस का अनशन व धरना प्रदर्शन जारी -jayas