प्रभारी फैरी के साथ दोपहर में महाआरती एवं महाप्रसादी का होगा आयोजन 

यह जानकारी देते हुए कार्यक्रम संयोजक गायत्री अशोक सावलानी ने बताया कि सीधी समाज द्वारा यह करीब 10वां उत्सव मनाया जा रहा है। आयोजन को लेकर समाज की महिलाओं की बैठक श्री सावलानी के सिद्धेष्वर काॅलोनी स्थित निवास पर आयोजित हुई। जिसमें महिलाओं ने आपस में विचार-विर्मष कर आवष्यक निर्णय लिए एवं कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार की। बैठक में गायत्री सावलानी के साथ मुख्य रूप से कविता सावलानी, लक्ष्मी गोलानी, हर्षा गिधवानी, रूक्मणी गोलानी, रीना चावला, भूमिका गोलानी, जिया गोलानी, दुर्गा गोलानी, आज्ञा छाबड़ा, सोनाक्षी गोलानी, वंषिता गोलानी आदि शामिल हुए। 
यह होंगे आयोजन
कविता सावलानी ने बताया कि झूलेलाल जयंती (चेटीचंद पर्व) पर अलसुबह साढ़े 5 बजे उनके निवास स्थान से प्रभात फैरी निकाली जाएगी। जिसमें भगवान के ध्वज के साथ दो पहिया वाहन पर सवार होकर समाज के सभीजन शहर के प्रमुख मार्गों से होकर निकलेंगे एवं जयघोष लगाए जाएंगे। समापन पुनः निवास स्थान पर होगा। दोपहर 11 बजे स्वलापाहार का आयोजन होगा। 12 बजे गायत्री शक्तिपीठ काॅलेज मार्ग पर भगवान झूलेलालजी का जन्मोत्सव मनाते हुए महाआरती की जाएगी एवं महाप्रसादी का आयोजन होगा। इस दौरान बच्चों के लिए विषेष रूप से फेंसी ड्रेस प्रतियोगिता का भी आयोजन रखा गया है। बैठक में तय किया गया कि सभी कार्यक्रमों में पुरूष कुर्ता-पायजामा एवं महिलाएं गुलाबी रंग की वेषभूषा में शामिल होंगी। बैठक के अंत में आभार हर्षा गिधवानी ने माना। इस दौरान महिलाओं द्वारा सामूहिक रूप से भजन-किर्तन भी किए गए।