पारा । आज ग्राम पंचायत आम्बा में कृषि  संगोष्ठी मक्का पक्षेत्र दिवस मनाया गया । जिसमें ग्राम सेवक और बाहर से आए हुए अधिकारियों एवं सरपंच श्री सज्जन सिंह अमलियार उपस्थित थे कृषि संगोष्ठी में कृषि विस्तार अधिकारी कलसिंह पडां व बापुसिह वसुनिया ने कृषि को लाभ का धंधा किस तरह बनाया जाए जिसके लिए की किसान अधिक से अधिक उपज लेसके।
             श्री पंडा ने उपस्थित किसानो को बताया की खेती को उपजाऊपन बनाने के लिए 3 साल में एक बार कल्टीवेटर से  मिट्टी पलटना चाहिए जिससे मिट्टी पलटने से जो हानि कारक कीटाणुओं की मृत्यु हो जाती है और जो लाभदायक कीटाणु है उनसे हमें लाभ होता है । सरकार की कृषि क्षेत्र में देश जाने वाली सभी योजनाओं को विस्तार पूर्वक बताया और सभी को सरकार की योजनाओं का लाभ लेने के लिए बताया और खेती में रासायनिक खाद के बजाय जैविक खेती का उपयोग करने के लिए बताया रासायनिक खाद उपयोग करने से हमारी जमीन की जो उर्वरा शक्ति है वह धीरे-धीरे करके खत्म होते जा रही और हमारी मिट्टी पत्थर कठोर की तरह होती जा रही है । 
         यह रासायनिक खाद का उपयोग अधिक से अधिक होने से हमारी मिट्टी का उपजाऊपन एवं उत्पादन में कमी और अनाज में छोटापन और मिट्टी में अधिक से अधिक बीमारियों का फैलना यह सब अधिक से अधिक रासायनिक खादों का प्रयोग करने से होता हे। इसके लिए हमें रासायनिक खादों का उपयोग ना करते हुए जैविक खाद का उपयोग करना चाहिए । ग्राम आम्बा सरपंच  सज्जन सिंह अमलियार ने बताया हमें जैविक खेती करने की आवश्यकता है क्योंकि आज हम रसायन खाद का उपयोग करके हमारी मिट्टी की उपयोग गलत तरीके से कर उसकी उपयोगीता खत्म कर रहे हैं। जिससे बहुत ही बुरा प्रभाव पड़ रहा है हमें जैविक खेती करने की आवश्यकता है जैविक खेती से ही हम अच्छा उत्पादन और मिट्टी की उर्वरता शक्ति को बनाए रखने में हम कामयाब हो सकते हैं.
      सरपंच सज्जन सिंह अमलियार ने बताया कि केंद्र सरकार की और राज्य सरकार की हमारे किसानों के बीच में कई योजनाएं संचालित की जा रही है और इन योजनाओं का लाभ लेने के लिए सभी किसानों के लिए बोला बताया कि उसमें मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के अंतर्गत यात्रा करने के लिए भी किसानों से आग्रह किया और सभी योजनाओं का विस्तार से  बताया। इस अवसर पर कमलेश मावी नाना भूरिया मोहर सिंह मावी मोहन मावी अनसिंग  तड़वी आदि सहित गांव के कई किसान उपस्थित  थे।