Jhabua News- सात सितम्बर को होगा अभा विराट कवि सम्मेलन- पोस्टरों का हुआ विमोचनगायत्री परिवार ने दीप यज्ञ का किया अभिनव आयोजन ,बहु प्रतिक्षित प्रश्नमंच कार्यक्रम का होगा आयोजन

झाबुआ। स्थानीय राजवाडा चौक पर सार्वजनिक गणेश मंडल झाबुआ द्वारा मनाये जा रहे गणेशोत्सव में  7 सितम्बर शनिवार को  पैलेस गार्डन में  अखिल भारतीय विराट कवि सम्मेलन का आयोजन रात्रि 9 बजे से किया जावेगा । कवि सम्मेलन के संयोजक नीरजसिंह राठौर, देवेन्द्रप्रसाद अग्निहौत्री बंटू ,पंकज चौहान एवं मनीष व्यास ने संयुक्त जानकारी देते हुए बताया कि हास्य एवं व्यंग से भरपुर इस कवि सम्मेलन में देश की ख्यातनाम हास्य व्यंग एवं गीतों की सुरभि आच्छादित होगी । हास्य के सशक्त हस्ताक्षर सुरेन्द्र याग्वेंद्र, अशोक नागर, के अलावा लाफ्टर शो के चर्चित हस्ताक्षर डा. मुकेश गौतम, राष्ट्रीय गीतकार नेत्रहिन कवि अकबर ताज, हास्य व्यंग के  वीरेन्द्र चौबें एवं विष्ण्रु विश्वास एवं श्रृगाररस की मलिका  विभासिंह अपने रचनाओं से श्रोताओ का भरपुर मनोरंजन करेगें । कार्यक्रम के सूत्रधार नालछा के कवि धीरज शर्मा रहेगें । 
      बुधवार को श्री सत्यनारायण मंदिर राजवाडा चौक पर रात्री 8 बजे बुधवार को अखिल भारतीय विराट कवि सम्मेलन के पोस्टरों एवं हार्डिंग का  विमोचन गणेश मंडल के अध्यक्ष राजेन्द्र अग्निहौत्री, महासचिव नानालाल कोठारी, डा. केके त्रिवेदी, वरिष्ठ नागरिक विद्यारामजी शर्मा, भागवत शुक्ला, जैमिनी शुक्ला, जनार्दन शुक्ला, जेपी अग्निहौत्री, निरंजनसिंह चौहान, जितेन्द्र शाह, रविराजसिंह राठौर, अजय रामावत, हेमन्त अग्निहौत्री, लालसिंह चौहान, महेशचन्द्र शर्मा, चन्द्रराज शर्मा, निखिल  प्रजापत, केयूर, रामगोपाल सोनगरा, गायत्री परिवार की नलिनी बैरागी, घनश्याम बैरागी, श्रीमती अर्चना राठौर, श्रीमती शेखावत, बहादुर भाटी,सहित बडी संख्या में उपस्थिति सदस्यों द्वारा किया गया। उद्योगपति एवं समाजसेवी बृजेन्द्रशर्मा एवं सुरेशचन्द्र जैन पप्पु सेठ के सौजन्य से आयोजित इस विराट कवि सम्मेलन में गणेशोत्सव समिति  ने नगर के सुधी श्रोताओं से सपरिवार पधार कर हास्य ,गीत एवं श्रृगार की त्रिवेणी का लाभ उठाने की अपील की है।

दीप यज्ञ का हुआ आयोजन
अखिल गायत्री परिवार की श्रीमती नलिनी बैरागी के नेतृत्व में रात्री 9 बजे से श्री सत्यनारायण मंदिर में गायत्री माता के मंत्रो के साथ विशाल दीप यज्ञ का आयोजन किया गया । श्रीमती नलीनी ने संबोधित करते हुए कहा कि  समय की माँग को ध्यान में रखकर यज्ञीय प्रक्रिया को अधिक सुगम तथा अधिक व्यापक बनाने के लिए अनेक कदम उठाये गये, जिनके कारण जन-जीवन में यज्ञीय भावना का प्रवेश कराने में पर्याप्त सफलता मिलती चली गयी। इसी क्रम में दीप यज्ञों का अवतरण हुआ, जो अत्यधिक प्रभावशाली एवं लोकप्रिय सिद्ध हुए। इसमें कम समय, कम श्रम तथा कम साधनों से भी बड़ी संख्या में व्यक्ति यज्ञीय जीवन पद्धति से जुड़ने लगे। दीपक-अगरबत्ती सभी धार्मिक स्थलों में प्रज्वलित होते हैं, इसलिए उस आधार पर सभी वर्गों के लोग बिना किसी झिझक के दीपयज्ञों में सम्मिलित होते रहते हैं। श्रीमती बैरागी के अनुसारकुण्डीय यज्ञ लम्बे समय तक कई पारियों में होते हैं। श्रद्धालु किसी एक पारी में ही शामिल होकर चले जाते हैं। प्रारंभ और अन्त के उपचारों से संबंधित प्रेरणाओं से अधिकांश लोग वंचित ही रह जाते हैं। दीप यज्ञों की सारी प्रक्रिया लगभग डेढ़ घंटे में पूरी हो जाती है। अस्तु, सम्मिलित होने वाले सभी जन पूरी प्रक्रिया का, यज्ञीय दर्शन एवं ऊर्जा का पूरा-पूरा लाभ प्राप्त करते हैं। करीब डेढ घंटे तक चले दीप यज्ञ में श्रद्धालुओं ने मानसिंक रूप  से गायत्री मंत्रों से आहूतिया देकर  कार्यक्रम में धर्मलाभ प्राप्त किया ।


6 सितम्बर को होगा बहु प्रतिक्षित प्रश्न पत्र का कार्यक्रम 
सार्वजनिक गणेश मंडल के महासचिव नानानाल कोठारी ने जानकारी देते हुए बताया कि 7 सितम्बर शुक्रवार को 11 दिवसीय गणेशोत्सव के कार्यक्रमों की कडी में नगर के प्रबुद्धजनो, युवावर्ग एवं छात्र-छात्राओं का पसंदीदा कार्यक्रम सामान्य ज्ञान पर आधारित प्रश्नमंच का कार्यक्रम पेलेस गार्डन में रात्री 8 बजे से सेंट्रल स्कूल के शिक्षक मनीष त्रिवेदी  एवं सौभाग्यसिंह चौहान के नेतृत्व में आयोजित होगा । प्रश्न मंच में कक्षा 9 वी से 12 वीं तक छात्र-छात्राओं की प्रत्येक शैक्षणिक संस्था से 5-5 बच्चों की टीमों को आमंत्रित किया गया है । प्रथम ,द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कार के रूप  में क्रमशः 3000, 2500 एवं 2000 रूपये का नगद पुरस्कार दिया जावेगा तथा शिल्ड देकर सम्मानित किया जावेगा । वही चौथे से छटवे स्थान पर आने  वाली टीमों को भी नगद पुरस्कार एवं शिल्ड दी जावेगी । श्रोताओं से भी बीच बीच में प्रश्न पुछे जायेगें तािा उन्हे भी हाथो हाथ पुरस्कृत किया जावेगा । कार्यक्रम के संयोजक  राजेन्द्र सोनी एवं हर्ष भट्ट ने सभी शैक्षणिक संस्थाओ  के प्राचार्यो से अनुरोध किया है कि वे अपनी संस्था से बच्चों की टीम में इस अभिनय प्रश्न मंच स्पर्धा में भाग लेने के लिये भेंज । नगरवासियों से भी इस आयोजन में सहभागी होने तथा बच्चों का उत्साह  वर्धन करने के लिये उपस्थित रहने का अनुरोध किया है।