समाज को एक जुट करने का लिया गया संकल्प,विभिन्न राज्यों से भी प्रतिनिधियों ने की सहभागिता 

झाबुआ । श्री मेवाडा कलाल समाज झाबुआ- आलीराजपुर द्वारा गुरूवार को मिण्डल स्थित समाज की भव्य धर्मशाला पर  नव निर्वाचित  अध्यक्ष श्री दाडमचन्द  लोदावरा एवं समाजके 14 पार्षदों का शपथ ग्रहण समारोह एवं प्रतिभा सम्मान समारोह के साथ ही तृतीय युवा संगठन स्थापना समारोह का भव्य एवं गरीमामय तरिके से आयोजन किया गया । कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रकाशचन्द्र चैधरी छोटी सादडी राजस्थान थे । कार्यक्रम की अध्यक्षता श्रीमती अच्रना जायसवाल इन्दौर ने की । इस अवसर पर हुकुमचन्द्रजी जायसवाल इन्दौर, राकेश राय इन्दौर, भरत पोरवाल उज्जैन, उदय जायसवाल इन्दौर, मुकेश राय इन्दौर, प्रदीप जायसवाल बडोदरा, अशोक जायसवाल इन्दौर,  न्यास अध्यक्ष शांतिलाल पडियार, समाज के पूर्व अध्यक्ष जयंतीलाल बसेर,  सहित बडी संख्या मे  दोनों जिलों के साथ ही राजस्थान, मालवा, गुजरात, आदि से बडी संख्या में समाजजन एवं महिलायें उपस्थित रही ।
कार्यक्रम का शुभारंभ गणेश वंदना सेे हुआ । अतिथियों द्वारा कलाल समाज के आराध्य देव भगवान सहस्त्रबाहू अर्जुन के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्ज्वलन किया गया । आगन्तुकों का समाज के वरीष्ठजनों द्वारा स्वागत रस्म पूरी की गई । स्वागत भाषण देते हुए शांतिलाल पडियार ने  कलाल समाज के प्रगति प्रतिवेदन की जानकारी देते हुए अतिथियों का परिचय करवाया एवं समाज की धर्मशाला में तनमन धन से सहयोग करने वाले समाजजनों का परिचय करवाया ।
महती सभा को संबोधित करते हुए अशोक जायसवाल ने कहा कि कलाल समाज  का व्यक्ति साहस का प्रतिक है व जन्म जात  प्रतिनिधित्व एवं निर्भिक गुणों से संपन्न होता है। इन्होने 18 अप्रेल को इंदौर मे होने  वाले भव्य युवक युवती परिचय सम्मेलन में समाजजनों को सहभागी होने की अपील की ।
हुकुमचन्द्र जायसवाल ने संबोधित करते हुए कहा कि झाबुआ जिले में धर्मशाला का काम देख कर उन्हे बहुत खुशी हुई और ऐसा अनुकरणीय प्रयास समाजजनों को सभी दूर करना चाहिये । इन्दौर सामुहिक विवाह के प्रस्ताव प्रस्त्रुत कर इसकी रूपरेखा बनाने का आव्हान किया ।  मुकेश राय ने कहा कि कलाल समाज में पार्षदों  की परिकल्पना की प्रसंशा करते हुए इसे सर्वत्र क्रियान्वित करने पर जोर दिया । हरिश पटेल ने अपने उदबोधन में कहा कि राजस्थान के बांसवाडा अंचल मे एकल विवाह को समाप्त कर सामुहिक विवाह की परंपरा को स्थापित  कर दिया है और इसका अनुकरण सभीदूर होना चाहिये । श्रीमती लीला ने  भी अपने  विचार व्यक्त किये ।
 मुख्य अतिथि श्रीमती अर्चना जायसवाल ने  संबोधित करते हुए कहा कि उन्होने  पूरे  पूरे देश का भ्रमण किया है , कलचुरी कलाल समाज के सभी उपवर्ग की समाज मे बेहद अच्छी एवं सम्मानजनक स्थिति है । केरल, आंध्रप्रदेश, तेलंगाना, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश, कर्नाटका, महाराष्ट्र, उडीसा, बिहार, राजस्थान, दिल्ली, सहित पूरे देश में  कलाल समाज के लोगों की सस्कृति एवं परिवेश के बारे मे बताते हुए कहा कि समग्र कलचुरी समाज चाहे वे  कलाल, कलार, कलवार, जायवाल, राय, चैकसे,शिवहरे जो भी संबोधित होते हो लेकिन कलिचुरी समाज का एकीकरण होना समाज हित में जरूरी है । पूरे देश मे कलाल वर्ग की संख्या 10 प्रतिशत से अधिक है । झाबुआ में आयोजित इस समारोह की मुक्त कंठ से प्रसंशा करते हुए समाज की धर्मशाला के लिये तथा समाज की विभिन्न गतिविधियों के लिये सदैव सहयोग करने का भरोसा दिलाया ।
समाज के नवनिर्वाचित अध्यक्ष दाडमचन्द्र लोदावरा ने भी समाज को संगठित कर सतत प्रगति पथ पर लेजाने तथा समाज के सहयोग से विभिन्न गतिविधियों का संचालन करने की बात कहीं ।
सम्मान समारोह का हुआ आयोजन
इस भव्य आयोजन में समाज के विभिन्न क्षेत्रों के समाज के अग्रणी एवं सहयोग करने वाले, समाज के लिये सर्दव तत्पर रहने वाले समाजजनों एवं प्रतिभावान छात्र छात्राओं का  मोमेंटांे एवं श्रीफल देकर सम्मान किया गया । इस अवसर पर स्वर्गीय लक्ष्मीचन्द्र भटेवारा मेघनगर एवं स्वर्गीय  शंकरलाल भानपुरिया के परिवार  का समाज की ओर से सम्मानित किया गया । एवं चन्दूलाल पडियार, जमनालाल भानपुुरिया, जीवन पडियार, कालुराम भटेवरा,  मनोहर भटेवरा, पोपटलाल पडियार, बद्रीलाल भटेवरा, श्रीमती आरती भानपुरिया सहित करीब 75 समाजजनों का प्रत्यक्ष एवं परोक्ष सहयोग देने के लिये मोंमेटो देकर सार्वजनिक सम्मान किया गया । वही प्रतिभाशाली समाज के छात्र-छात्राओं को भी सम्मानित किया गया ।
इस अवसर पर पांचाल समाज के अध्यक्ष द्वारा नव निर्वाचित कलाल समाज  अध्यक्ष  का साफा बांध कर स्वागत भी किया गया ।
युवा संगठन की तृतीय वर्षगांठ मनाई
भव्य आयोजन में कलाल समाज के युवा संगठन की स्थापना की तीसरी वर्ष गांठ पर केक काटकर स्थापना दिवस तालियों की गडगडाहट के बीच मनाया गया । इस अवसर पर युवा प्रतिनिधियों एवं कोर कमेटी के सभी सदस्यों ने उत्साह से भाग लिया तथा केक खिलाकर खुशिया जाहिर की । कार्यक्रम का सफल संचालन निलेश भानपुरिया ने किया तथा आभार प्रदर्शन मुकेश भानपुरिया ने माना ।

  • मेवाडा कलाल समाज का शपथ एवं प्रतिभा सम्मान समारोह सम्पन्न-mewada-kalal-samaj