March 2019

1 26 january 1 abvp 46 Administrative 1 b4 cinema 1 balaji dhaam 1 bhagoria 1 bhagoria festival jhabua 2 bjp 1 cinema hall jhabua 28 city 16 crime 20 cultural 36 education 2 election 15 events 13 Exclusive 1 Famous Place 6 gopal mandir jhabua 17 Health and Medical 80 jhabua 4 jhabua crime 1 Jhabua History 1 matangi 3 Movie Review 5 MPPSC 1 National Body Building Championship India 4 photo gallery 18 politics 2 ram sharnam jhabua 50 religious 5 religious place 2 Road Accident 3 sd academy 67 social 13 sports 1 tourist place 13 Video 1 Visiting Place 11 Women Jhabua 2 अखिल भारतीय किन्नर सम्मेलन 1 अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद 1 अंगूरी बनी अंगारा 1 अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 15 अपराध 1 अल्प विराम कार्यक्रम 6 अवैध शराब 1 आदित्य पंचोली 1 आदिवासी गुड़िया 1 आरटीओं 1 आलेख 1 आवंला नवमी 4 आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट 1 ईद 1 उत्कृष्ट सड़क 20 ऋषभदेव बावन जिनालय 3 एकात्म यात्रा 2 एमपी पीएससी 1 कलाल समाज 1 कलावती भूरिया 3 कलेक्टर 14 कांग्रेस 6 कांतिलाल भूरिया 1 कार्तिक पूर्णिमा 2 किन्नर सम्मेलन 2 कृषि 1 कृषि महोत्सव 3 कृषि विज्ञान केन्द्र झाबुआ 1 केरोसीन 2 क्रिकेट टूर्नामेंट 4 खबरे अब तक 1 खेडापति हनुमान मंदिर 15 खेल 1 गडवाड़ा 1 गणगौर पर्व 1 गर्मी 1 गल पर्व 8 गायत्री शक्तिपीठ 2 गुड़िया कला झाबुआ 1 गोपाल पुरस्कार 4 गोपाल मंदिर झाबुआ 1 गोपाष्टमी 1 गोपेश्वर महादेव 14 घटनाए 1 चक्काजाम 3 जनसुनवाई 1 जय आदिवासी युवा संगठन 5 जय बजरंग व्यायाम शाला 1 जयस 6 जिला चिकित्सालय 3 जिला जेल 3 जिला विकलांग केन्द्र झाबुआ 1 जीवन ज्योति हॉस्पिटल 9 जैन मुनि 7 जैन सोश्यल गुुप 2 झकनावदा 83 झाबुआ 1 झाबुआ इतिहास 1 झाबुआ का राजा 3 झाबुआ पर्व 10 झाबुआ पुलिस 1 झूलेलाल जयंती 1 तुलसी विवाह 6 थांदला 3 दशहरा 1 दस्तक अभियान 1 दिल से कार्यक्रम 3 दीनदयाल उपाध्याय पुण्यतिथि 1 दीपावली 3 देवझिरी 40 धार्मिक 5 धार्मिक स्थल 8 नगरपालिका परिषद झाबुआ 5 नवरात्री 4 नवरात्री चल समारोह 4 नि:शुल्क स्वास्थ्य मेगा शिविर 1 निर्वाचन आयोग 5 परिवहन विभाग 1 पर्यटन स्थल 3 पल्स पोलियो अभियान 7 पारा 1 पावर लिफ्टिंग 14 पेटलावद 1 प्रजापिता ब्रह्मकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय 3 प्रतियोगी परीक्षा 1 प्रधानमंत्री आवास योजना 31 प्रशासनिक 1 बजरंग दल 2 बाल कल्याण समिति 1 बेटी बचाओं अभियान 2 बोहरा समाज 1 ब्लू व्हेल गेम 1 भगोरिया पर्व 1 भगोरिया मेला 3 भगौरिया पर्व 1 भजन संध्या 1 भर्ती 2 भागवत कथा 28 भाजपा 1 भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान 1 भारतीय जैन संगठना 3 भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा 1 भावांतर योजना 2 मध्यप्रदेश बाल अधिकार संरक्षण आयोग 1 मल्टीप्लेक्स सिनेमा 2 महाशिवरात्रि 1 महिला आयोग 1 महिला एवं बाल विकास विभाग 1 मिशन इन्द्रधनुष 1 मुख्यमंत्री महिला सशक्तिकरण योजना 2 मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चोहान 9 मुस्लिम समाज 1 मुहर्रम 3 मूवी रिव्यु 8 मेघनगर 1 मेरे दीनदयाल सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता 2 मोड़ ब्राह्मण समाज 1 मोदी मोहल्ला 1 मोहनखेड़ा 3 यातायात 1 रंगपुरा 2 राजगढ़ 12 राजनेतिक 8 राजवाडा चौक 11 राणापुर 5 रामशंकर चंचल 1 रामा 1 रायपुरिया 1 राष्ट्रीय एकता दिवस 2 राष्ट्रीय बॉडी बिल्डिंग चैम्पियनशीप 4 राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना 1 राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण 1 रोग निदान 2 रोजगार मेला 15 रोटरी क्लब 2 लक्ष्मीनगर विकास समिति 1 लाडली शिक्षा पर्व 2 वनवासी कल्याण परिषद 1 वरदान नर्सिंग होम 1 वाटसएप 1 विधायक 4 विधायक शांतिलाल बिलवाल 1 विश्व उपभोक्ता संरक्षण दिवस 2 विश्व विकलांग दिवस 2 विश्व हिन्दू परिषद 1 वेलेंटाईन डे 3 व्यापारी प्रीमियर लीग 1 शरद पूर्णिमा 5 शासकीय महाविद्यालय झाबुआ 33 शिक्षा 1 श्रद्धांजलि सभा 3 श्री गौड़ी पार्श्वनाथ जैन मंदिर 11 सकल व्यापारी संघ 2 सत्यसाई सेवा समिति 1 संपादकीय 2 सर्वब्राह्मण समाज 4 साज रंग झाबुआ 35 सामाजिक 1 सारंगी 12 सांस्कृतिक 1 सिंधी समाज 1 सीपीसीटी परीक्षा 3 स्थापना दिवस 4 स्वच्छ भारत मिशन 5 हज 3 हजरत दीदार शाह वली 6 हाथीपावा 1 हिन्दू नववर्ष 5 होली झाबुआ

झाबुआ। अखिलेश पिता रविशंकर निवासी उत्तराखंड विगत 23 मार्च से घर से 40 हज़ार रुपये एवं टाटा सफारी गाडी नंबर  UK-06-N-4200 लेकर लापता है , लड़के के परिजनों  द्वारा उत्तराखंड पुलिस में रिपोर्ट दर्ज़ करवा कर मोबाइल ट्रेस किया गया , जिससे लड़के की लोकेशन झाबुआ एवं मेघनगर के आसपास बताई जा रही है , लड़के के चाचा द्वारा आज 27 मार्च को झाबुआ पुलिस थाने पर रिपोर्ट दर्ज़ करवाकर लड़के के फोटो एवं उत्तराखंड पुलिस की एफईआर की प्रति झाबुआ पुलिस को सोपी है,  झाबुआ पुलिस द्वारा मोबाइल लोकेशन के आधार पर लड़के की खोजबीन शुरू कर दी गयी है आपमें में से किसी को भी ये लड़का दिखाई दे तो लड़के के परिजनों को मोबाइल नंबर 7248200220  पर या झाबुआ पुलिस को 07392243412 पर सुचना दे ... 











मोबाइल नम्बर दर्ज होने के पश्चात ही वेतन आहरित किया जायेगा

झाबुआ। कोष एवं लेखा के आयुक्त ने समस्त संभागीय संयुक्त संचालक कोष एवं लेखा तथा समस्त कोषालय अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि कर्मचारी डाटाबेस में सुधार तथा मोबाइल नम्बर एवं प्रविष्टि की जाये। कर्मचारियों से सम्बन्धित वेतन आहरण, व्यक्तिगत दावों की स्वीकृति एवं आहरण, आवेदन प्राप्ति, स्वीकृति सहित अन्य विभिन्न प्रकार की सूचनाएं शासकीय सेवकों को आईएफएमआईएस के अन्तर्गत, एसएमएस द्वारा, मोबाइल व ईमेल भेजी जा रही है, इसलिये समस्त कर्मचारियों के सही मोबाइल नम्बर आईएफएमआईएस में दर्ज कराई जाये। मोबाइल क्रमांक दर्ज होने के पश्चात ही आगामी वेतन आहरित किया जायेगा।  
       कोष एवं लेखा के आयुक्त ने निर्देश दिये हैं कि आहरण अधिकारियों तथा कर्मचारियों करायें कि कर्मचारी के मार्च माह का वेतन जो अप्रैल में देय होगा, के वेतन का आहरण तभी संभव होगा जब उनके मोबाइल नम्बर कर्मचारी विवरण में दर्ज हो जायेगा। कर्मचारी के मोबाइल क्रमांक कर्मचारी स्वयं या उसकी ओर से आहरण अधिकारी द्वारा सत्यापित किया जा सकेगा। कर्मचारी द्वारा स्वयं अपने विवरण दर्ज करने के लिये अपने आहरण अधिकारी से सम्पर्क करें। अपने एम्प्लाई कोड के आधार पर आहरण अधिकारी से पासवर्ड प्राप्त करें और पासवर्ड लेने के पश्चात वेब साइट https://ifmisprod.mptreasury.gov.in/ifms पर जाकर आहरण अधिकारी से प्राप्त पासवर्ड से लॉगइन करेगा। पासवर्ड तत्काल बदलेगा और नवीन पासवर्ड के याद रखेगा। लॉगइन अपने मोबाइल या इंटरनेट से जुडे कम्प्यूटर पर किया जा सकेगा। 
       पासवर्ड भूल जाने पर यदि उसका मोबाइल नम्बर दर्ज है, तो दी गई वेब साइट पर लॉगइन पेज पर जाकर ओटीपी के आधार पर पासवर्ड रिसेट करेगा, अन्यथा अपने आहरण अधिकारी से पासवर्ड रिसेट करायेगा। यह ध्यान रखा जाये कि अपना पासवर्ड किसी को न दिया जाये तथा प्रत्येक 30 दिन में बदला जाये। पासवर्ड उपलब्ध होने पर वेब साइट https://ifmisprod.mptreasury.gov.in/ifms पर जाकर कर्मचारी लॉगइन पेज पर जाकर लॉगइन करने के पूर्व अपने मोबाइल नम्बर की प्रविष्टि करेगा। पासवर्ड डालने पर एचआरएमआईएसईएसएस पर क्लिक करेगा तथा स्वयं से सम्बन्धित समस्त विवरण भी देख सकेगा। विवरण में कोई भी त्रुटि होने पर संशोधन के लिये रिक्वेस्ट करेगा।
आहरण अधिकारी के ईएसएस वेरिफाई द्वारा कर्मचारी की ओर से विवरण प्रविष्टि के लिये आहरण अधिकारी कर्मचारी से मोबाइल नम्बर प्राप्त करेगा, आहरण अधिकारी का वेरिफाई स्वयं के लॉगइन पर जायेगा, एचआरएमआईएस,ईएसएस में जाकर onbehalf facility को क्लिक करेगा, कर्मचारी को चुनकर उसका मोबाइल क्रमांक दर्ज करेगा, जिन आहरण अधिकारियों के कार्यालय में कर्मचारियों की संख्या अधिक है, वहां कर्मचारी कोड एवं मोबाइल क्रमांक की जानकारी एक्सेल फाईल में दर्ज की जाकर कोषालय अधिकारी के माध्यम से संचालनालय कोष एवं लेखा को प्रेषित करेगा, ताकि एकजाई जानकारी से मोबाइल नम्बर अपडेट किया जा सके।

झाबुआ।  जिले भर में होलीका दहन के दूसरे दिन ग्रामीण जन मनाते है गल बाबजी का त्यौहार (गल पर्व ) यहाँ से 4 किलोमीटर की दुरी पर ग्राम झुमका में ग्रामीणों द्वारा गल का त्यौहार मनाया गया, यहाँ आसपास के क्षेत्र के मन्नत धारी भी पहुचते है सभी अपनी मानता पूरी करने गल घूमते है इस वर्ष भी कुल 10 मन्नत धारीयो ने गल घूम कर अपनी मन्नत उतारी।
यह है प्रथा
इसमें मन्नत धारी गल घूमता है जिसमे आसपास के गाँवो से अपने परिवारजन व गांव वालो के साथ मन्नत धारी मन्नत पूरी करने गल स्थल पहुचता है गल स्थल पर एक दिन का मेला लगता है जिसमे ग्रामीणजन नाच गाकर झूले चकरी इत्यादि का आनन्द उठाते है। मान्यता है की ग्रामीण यह त्यौहार मन्नत धारी की मानता पूरी करने के लिए मनाते है जिससे परिवार में सुख-समृद्धि आती है और स्वास्थ्य सम्बन्धी सारी परेशानिया दूर होती है।
हवा में झूलते हुए 5 से 7 परिक्रमा करते हैं
  • मान्यता है कि मन्नत विवाहित व्यक्ति ही उतार सकता है, इसलिए बहुत से मन्नतधारियों के परिजन ने इस परंपरा का निर्वहन किया। तड़वी ने मन्नतधारियों को गल पर घूमाया।
  • आसपास के क्षेत्रों से बड़ी संख्या में ग्रामीण पहुंचते हैं।
  • मन्नतधारी को कमर के बल रस्सी से बांधा जाता है। फिर मन्नत के अनुसार वह गल देवरा की जय करते हुए हवा में झूलते हुए 5 से 7 परिक्रमा करता है।
       इस में एक रस्म में करीब 30 फीट ऊंचे गल (लकड़ी की चौकी पर ) पर कमर के बल झूलते हुए देवता के नाम के नारे लगाए जाते हैं तो एक ओर दहकते अंगारों पर चलकर श्रद्धालु अपनी मन्नत उतारते हैं। इस कार्यक्रम में आसपास के जिलों से भी लोग शाामिल होते हैं। धुलेंडी पर बिलीडोज गांव में गल पर्व के दौरान यह नजारा देखने को मिला। दो दर्जन से अधिक ग्रामीण यहां अपनी मन्नतपूरी करने पहुंचे थे। किसी के यहां गल देवता की मन्नत के बाद संतान हुई थी तो कोई बीमारी से ठीक हुआ था।
गड्ढे में भरे अंगारों पर नंगे पैर चले
  • धुलेंडी पर पेटलावद, करड़ावद, बावड़ी, करवड़, अनंतखेड़ी, टेमरिया आदि स्थानों पर गल-चूल पर्व पारंपरिक रूप से मनाया गया।
  • ग्रामीण मन्नतधारियों ने दहकते अंगारों से भरे गड्ढे के बीच नंगे पैर गुजरते हुए अपनी मन्नत पूरी की। साथ ही अपने आराध्य भगवान को शीश झुकाया।
  • आस्था के इस अनूठे आयोजन को देखने के लिए न केवल स्थानीय बल्कि पड़ोसी रतलाम व धार जिले के ग्रामीण भी बड़ी तादाद में पहुंचे।
क्या है चूल परंपरा
  • करीब तीन-चार फूट लंबे तथा एक फीट गहरे गड्ढ़े में दहकते हुए अंगारे रखे जाते हैं।
  • माता के प्रकोप से बचने और अपनी मन्नत पूरी होने पर श्रद्धालु माता का स्मरण करते हुए जलती हुई आग में से निकल जाते हैं।
दशकों से निभाई जा रही परंपरा
  • इस पौराणिक परंपरा को निभाने का क्रम दशकों से चला आ रहा है।
  • चूल वाले स्थान में अंगारों के रूप लगाई जाने वाली लकड़ियां और मन्नतधारी के आगे-आगे डाले जाने वाला घी गांव के अनेक घरों से श्रद्धानुरूप आता है।
  • इस बार करीब 25 किलो घी की आहुति चूल में दी गई।
गल पर्व - गल घूम कर मन्नतधारियों ने उतारी मन्नत-Jhabua-Gal-Chul-Parva

गल पर्व - गल घूम कर मन्नतधारियों ने उतारी मन्नत-Jhabua-Gal-Chul-Parva

गल पर्व - गल घूम कर मन्नतधारियों ने उतारी मन्नत-Jhabua-Gal-Chul-Parva

गल पर्व - गल घूम कर मन्नतधारियों ने उतारी मन्नत-Jhabua-Gal-Chul-Parva

गल पर्व - गल घूम कर मन्नतधारियों ने उतारी मन्नत-Jhabua-Gal-Chul-Parva


गल पर्व - गल घूम कर मन्नतधारियों ने उतारी मन्नत-Jhabua-Gal-Chul-Parva

सामाजिक कुरूतियों का किया गया दहन

झाबुआ।  राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना द्वारा स्थानीय विजय स्तंभ तिराहे के समीप श्री राजपूत बोर्डिंग हाउस पर बुधवार को रात्रि 8.20 बजे होलिका दहन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। करणी सेना द्वारा अनोखे रूप से आयोजन करते हुए सूखे कंडों की होली जलाई गई। जिसमें सामाजिक कुरूतियों के अलग-अलग पुतले बनाकर उन्हें भी जलाया गया। 
        महाराणा प्रताप के जय घोष के साथ समाज के समस्त युवक-युवतियों द्वारा होलिका माताजी की पूजन की गई। जिसमें राजपूत समाज की महिलाओं ने पारंपरिक वेशभूषा में शामिल होकर पूजन की। पश्चात् सामाजिक कुरूतियों पर समाज के वरिष्ठजनों गजेन्द्रसिंह चंद्रावत, रविन्द्रसिंह सिसौदिया, रिंकू सिसौदिया आदि द्वारा उद्बोधन दिए गए एवं बताया गया कि समाज में फैली कुरूतियों जैसे भूण्र हत्या, दहेज प्रथा, भ्रष्टाचार, बाल विवाह एवं निरक्षरता आदि कुरूतियों को अंकुश लगाने हेतु लक्ष्य निर्धारित कर युवक-युवतियों को संकल्प दिलवाया कि इस दिशा में समाज में जागरूकता लाई जाए एवं इस हेतु सभी संगठित होकर कार्य करे। इसके बाद करणी सेना के पदाधिकारियों का समाजजनों से परिचय करवाया गया एवं समाज द्वारा सभी पदाधिकारियों का अभिवादन किया गया। होलिका दहन समाज के वरिष्ठ नारायणसिंह बेकल्दा, सज्जनसिंह सिसौदिया द्वारा सपत्निक किया गया। दहन पश्चात् समाजजनों द्वारा एक-दूसरे को मिठाई खिलाकर तथा गुलाल लगाकर धुलेंडी पर्व की शुभकामनाएं दी गई।
ये थे उपस्थित 
       इस अवसर पर करणी सेना के नगर एवं तहसील अध्यक्ष अजीतसिंह चिचौड़िया, जिला मीडिया प्रभारी विरेन्द्रसिंह राठौर, जिला प्रवक्ता गजेन्द्रिंसह शक्तावत, तहसील एवं नगर प्रवक्ता रविराजसिंह राठौर, तहसील संयोजक वैभवसिंह राठौर, नगर संयोजक लोकेन्द्रसिंह सलूनिया, नगर मीडिया प्रभारी गौरवसिंह चौहान सहित युवतियों में दीपकुंवर गौड़, भूमिका पंवार, भुवनेश्वरी सोलंकी, हर्षा सिसौदिया, हिमानी चंद्रावत सहित बड़ी संख्या में समाजजन उपस्थित थे।

Rajput-Karni-sena-dry-Holi-राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना द्वारा सूखे कंडों की जलाई गई होली
होलिका दहन बाद परिक्रमा लगाते राजपूत समाज की महिलाएं एवं युवतियां
झाबुआ स्थानीय राजवाड़ा चौक पर किया  गया होलिका दहन जलाई गई होली-jhabua-rajwada-chouk-holi
स्थानीय राजवाड़ा चौक पर किया गया होलिका दहन 

आधुनिक एवं परंपरागत वेशभूषा का संगम मिला भगोरिया  मे 

झाबुआ। भगौरिया उत्सव के अंतिम दिन झाबुआ जिले के कल्याणपुरा के भगौरिया हाट में उमंग व उत्साह चरम पर दिखाया दिया। नये-नये परिधानों व परंपरागत वेशभूषा के साथ आधुनिक वस्त्र व पारंपरिक गहने, रंग-बिरंगे चश्मे धारण किये हुए युवक-युवतियों ने भगौरिया में खूब आनंद लिया। आधुनिक एवं परंपरागत वेशभूषा का संगम अंतिम दिन के भगोरिया पर्व मे दिखाई दिया। जहॉ एक ओर युवक-युवतियों ने परंपरागत वेशभूषा एवं गहने धारण किये हुए थे,वही युवक-युवतियों ने आधुनिक परिधान सलवार सूट,साडी,लान्छा,जिंस टी सर्ट, रंग-बिरंगे चश्मे इत्यादि पहनकर पारंपरिक भगौरिया उत्सव उमंग व उत्साह के साथ मनाया।
 रंग-बिरंगे चश्मों में खिंचाये फोटो 
मेला स्थल पर अस्थाई फोटो स्टूडियों की भी भरमार थी। नये नये वस्त्र धारण किये मेले में आये युवक-युवतियों ने फोटो स्टूडियों पर परंपरागत गहनों के साथ रंग बिरंगे चश्में पहन कर फोटो भी खिंचवाये। भगोरिया मेले में आये लोगो ने अपने रिश्तेदारो को झूले पर झूलाया, पान, मिठाई कुल्फी, भजिये आईस्क्रीम खिलाकर सत्कार किया एवं अभिवादन कर उत्सव की बधाई दी। 
         भगौरिया उत्सव में उत्सव का आनंद लेने आये ग्रामीणो को नुक्कड नाटक के माध्यम से ईवीएम एवं वीवीपेट मशीन का प्रदर्शन कर मतदाताओ को वोट डालने की प्रक्रिया से अवगत कराया गया। भगोरिया में निर्वाचन कार्यालय द्वारा लगाये गये स्टाल पर जाकर ईवीएम मशीन का बटन दबाकर वोट डालने की प्रक्रिया समझी। वोटिंग मशीन पर ग्रामीणो ने ईव्हीएम मशीन में बटन दबाकर अपना वोट डाला एवं व्हीव्हीपीएटी मशीन से देखा कि उन्होने जिस प्रत्याशी को मत डाला है उसे ही उसका मत मिला है। भगोरिया हाट में नुक्कड नाटक दलो द्वारा पारमपरिक परिधान पहन कर नुक्कड नाटक के माध्यम से मतदान के महत्वपूर्ण को बताया गया। भगोरिया स्थल पर सेल्फी पांइट बनाया गया भगोरिया में आये ग्रामीणो ने सेल्फी खिचवाई। भगोरिया स्थल पर मतदाता जागरूकता संबंधी होर्डिग लगाकर मतदान के लिये प्रेरित किया गया।
झूले चकरी एवं कुल्फी के ठेले पर उमडी भीड 
भगोरिया मेले में झूले, चकरी, एवं कुल्फी के ठेले आदि विशेष आकर्षण का केन्द्र थे। इन स्थानों पर सुबह से ही भीड थी हर कोई झुलने के लिए लाईन में अपनी बारी का इंतजार कर रहा था। झुले में झुलने का उत्साह जबरदस्त देखने को मिला। बच्चों सहित युवक-युवतियां ने हंसी ठिठोली के साथ झुलने का आंनद लिया ढोल-मांदल के साथ थिरकते हुए युवक-युवतियों ने ढोल पर नाच कर कुर्राटी के साथ भगौरिया उत्सव का आनंद लिया।










ग्रामीणों ने ईवीएम मशीन का बटन दबाकर वोट डालने की प्रक्रिया समझी 

झाबुआ। आगामी लोक सभा निर्वाचन 2019 में शत-प्रतिशत मतदान हो इसलिये स्वीप गतिविधि अतर्गत झाबुआ जिले के विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रो में लगने वाले भगोरिया हाट बाजारो में स्टाल लगाकर ईवीएम एवं वीवीपेट मशीन का प्रदर्शन कर मतदाताओ को वोट डालने की प्रक्रिया से अवगत कराया जा रहा है। भगोरिया हाट में पारम्परिक परिधान में सज धज कर आये ग्रामीणो ने झुले चकरी एवं कुल्फी का आन्नद लिया एवं भगोरिया में निर्वाचन कार्यालय द्वारा लगाये गये स्टाल पर जाकर ईवीएम मशीन का बटन दबाकर वोट डालने की प्रक्रिया समझी। जिले में आज बुधवार को कल्याणपुरा, ढेकल, माछलिया, मदरानी, करवड, बोडायता, उमरकोट, कंजावानी एवं रोटला के भगोरिया में आये ग्रामीणो को बताया गया कि मतदान प्रकोष्ठ मे प्रवेश करते समय पीठासीन अधिकारी बैलेट यूनिट को वोट डालने के लिए तैयार करेंगे। 
          बैलेट यूनिट मे अपने पसंद के प्रत्याशी के नाम और चुनाव चिन्ह के सामने वाले नीले बटन को दबाना होगा। जिस प्रत्याशी को वोट दिया है उसके नाम, चुनाव चिन्ह के सामने वाली लाइट लाल जलेगी। प्रिंटर एक बैलेट पर्ची प्रिंट करेगा जिसमें पसंद के प्रत्याशी के सरल क्रमांक, नाम और चुनाव चिन्ह अंकित होगा। बैलेट पर्ची सात सेकण्ड के लिए दिखेगी उसके बाद कट कर प्रिंटर के ड्राप बाक्स मे गिर जाएगी और एक बीप की आवाज सुनाई देगी। प्रिंट पर्ची को ग्लास मे से देखा जा सकता है। बैलेट पर्ची नही दिखने एवं बीप की आवाज नही आने पर पीठासीन अधिकारी से संपर्क किया जा सकता है। वोटिंग मशीन पर ग्रामीणो ने ईव्हीएम मशीन में बटन दबाकर अपना वोट डाला एवं व्हीव्हीपीएटी मशीन से देखा कि उन्होने जिस प्रत्याशी को मत डाला है उसे ही उसका मत मिला है। भगोरिया हाट में नुक्कड नाटक दलो द्वारा पारमपरिक परिधान पहन कर नुक्कड नाटक के माध्यम से मतदान के महत्वपूर्ण को बताया गया। भगोरिया स्थल पर सेल्फी पांइट बनाया गया भगोरिया में आये ग्रामीणो ने सेल्फी खिचवाई। भगोरिया स्थल पर मतदाता जागरूकता संबंधी होर्डिग लगाकर मतदान के लिये प्रेरित किया गया।

झाबुआ। भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार निर्वाचन व्यय का सही-सही लेखा रखने के लिए प्रत्येक अभ्यर्थी को एक अलग बैंक खाता खोलना होगा। अभ्यर्थी यह बैंक खाता नाम-निर्देशन पत्र दाखिल करने के कम से कम एक दिन पहले अनिवार्य रूप से खोलना होगा और नामांकन दाखिल करते समय इस बैंक खाते की खाता संख्या संबंधित निर्वाचन क्षेत्र के रिटर्निंग अधिकारी को लिखित में देना होगी। आयोग के मुताबिक यदि अभ्यर्थी ने बैंक खाता नहीं खोला है अथवा बैंक खाता संख्या की सूचना नहीं दी है तो रिटर्निंग अधिकारी आयोग के अनुदेशों का अनुपालन करने के लिए ऐसे प्रत्येक अभ्यर्थी को नोटिस जारी करेंगे । 
    निर्वाचन आयोग के निर्देशों में कहा गया है कि निर्वाचन व्यय के उद्देश्य से बैंक खाता या तो अभ्यर्थी के नाम से या उसके निर्वाचन अभिकत्र्ता के साथ संयुक्त नाम से खोला जा सकता है । लेकिन यह बैंक खाता अभ्यर्थी के परिवार के किसी सदस्य या ऐसे किसी अन्य व्यक्ति के साथ संयुक्त नाम से नहीं खोला जा सकेगा जो अभ्यर्थी का निर्वाचन अभिकत्र्ता नहीं है। निर्वाचन व्यय के लिए खोला जाने वाला खाता अभ्यर्थी द्वारा राज्य में कहीं भी खोला जा सकेगा। खाता राष्ट्रीयकृत, निजी अथवा सहकारी बैंक या डाकघरों में भी खोला जा सकता है। आयोग ने स्पष्ट किया है कि अभ्यर्थी के विद्यमान खाते का उपयोग निर्वाचन व्यय के प्रयोजन के लिए नहीं किया जा सकेगा। निर्वाचन व्यय के प्रयोजन के उद्देश्य से उसे पृथक से बैंक खाता खोलना ही होगा । 
    निर्वाचन आयोग ने निर्देशों में कहा है कि अभ्यर्थी द्वारा सभी निर्वाचन व्यय पृथक से खोले गये बैंक खाते से ही किये जायेंगे। अभ्यर्थी को निर्वाचन कार्यों पर उपगत किये जाने वाले सभी व्यय अभ्यर्थी की अपनी निधि सहित, निधि का स्त्रोत चाहे जो भी हो इस बैंक खाते में ही डालना होगा । अभ्यर्थी चाहे तो आयोग द्वारा तय की गई चुनाव खर्च की सीमा के बराबर पूरी राशि एक साथ इस बैंक खाते में जमा कर सकता है । 
   आयोग के मुताबिक अभ्यर्थी अपने निर्वाचन व्ययों का भुगतान निर्वाचन के उद्देश्य से खोले गये खाते से रेखांकित एकाउंट पेई चेक या ड्राफ्ट अथवा आरटीजीएस या एनईएफटी के माध्यम से ही कर सकता है। अभ्यर्थी द्वारा पूरी चुनावी प्रक्रिया के दौरान किसी व्यक्ति अथवा फर्म को व्यय के किसी मद के लिए अदा की जाने वाली रकम 10 हजार रूपये से अधिक नहीं है तो ऐसे व्यय का भुगतान वह नगद राशि के रूप में भी कर सकेगा। लेकिन उसे इस राशि का भुगतान भी निर्वाचन व्यय के उद्देश्य से पृथक से खोले गये बैंक खाते से निकालने के बाद ही किया जा सकेगा। 
 आयोग ने कहा है कि अभ्यर्थी द्वारा निर्वाचन के परिणामों की घोषणा के तीस दिनों की अवधि के भीतर दाखिल किये जाने वाले निर्वाचन व्यय लेखे के साथ इस बैंक खाते की विवरणी की स्व-प्रमाणित प्रति जिला निर्वाचन अधिकारी को प्रस्तुत करनी होगी। निर्वाचन आयोग ने यह भी स्पष्ट किया है कि नामांकन से पहले यदि अलग से बैंक खाता नहीं खोला गया है या बिना इस बैंक खाते में जमा किये कोई अन्य राशि खर्च की गई है तो यह माना जायेगा कि अभ्यर्थी ने अपेक्षित रीति के अनुसार खाते का रखरखाव नहीं किया है।

चुनाव के प्रत्येक पेम्पलेट या पोस्टर पर मुद्रक तथा प्रकाशक का नाम तथा पता अंकित होना अनिवार्य है-कलेक्टर       

  कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री प्रबल सिपाहा ने जानकारी देते हुए बताया कि चुनाव से संबंधित प्रचार प्रसार के लिये अभ्यर्थी/राजनैतिक दल द्वारा प्रिंट करवाये जाने वाले प्रत्येक पेम्पलेट या पोस्टर पर मुद्रक तथा प्रकाशक का नाम तथा पता अंकित होना अनिवार्य है तथा दस्तावेज के छापने के पष्चात यथोचित समय मे इसकी एक प्रति जिसमे प्रकाशक की पहचान की घोषणा हो। दस्तावेज की प्रतिलिपि के साथ राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी या जिले के जिला मजिस्ट्रेट को जहां यह छापा हो, उपलब्ध कराना अनिवार्य होगा। कोई भी व्यक्ति कोई भी ऐसी चुनावी पेम्पलेट या पोस्टर जिस पर मुद्रक एवं प्रकाशक का नाम नही हो, ना तो प्रकाशित कर सकता है, ना ही मुद्रण और प्रकाशन का कारण बन सकता है। यदि इस प्रावधान का उल्लंघन होता है तो यह दंडनीय होगा जो कि छः माह तक की जेल एवं 2500 रूपये तक के अर्थदंड से दंडित किया जाएगा अथवा दोनो से दंडनीय होगा। 

 Candidates-must-open-separate-bank-account-before-enrollment-in-election-2019 -अभ्यर्थी को नामांकन के कम से कम एक दिन पहले खोलना होगा पृथक से बैंक खाता

शासकीय आवास का बकाया संबंधी जानकारी देने अलग से नहीं देना होगा शपथ पत्र

भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार अभ्यर्थियों को आवास संबंधी देयताओं की जानकारी देने के लिए नामांकन पत्र के साथ अब अलग से शपथ पत्र नहीं प्रस्तुत करना होगा। निर्वाचन आयोग ने इस बारे में शपथ पत्र में दी जाने वाली जानकारी को फार्म-26 में ही समाहित कर दिया है। अभ्यर्थियों द्वारा शासकीय आवास संबंधी देयताओं की जानकारी फार्म-26 के भाग-अ के बिन्दु क्रमांक-8 में दी जा सकेगी। 

प्रत्याशियों को देना होगी सोशल मीडिया एकाउंट की जानकारी

      लोकसभा निर्वाचन में उम्मीदवारों को अपना नामांकन पत्र भरते समय अधिकृत सोशल मीडिया अकाउंट की जानकारी भी देनी होगी। उन्हें फार्म-26 भरना आवश्यक है। 

उडन दस्ते, रिष्वत देने और लेने वालो दोनो के विरूद्ध मामले दर्ज करने के संबंध मे स्थानीय भाषा मे उद्घोषणा करेंगे- कलेक्टर

    कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री प्रबल सिपाहा ने बताया कि प्रत्येक उडन दस्ता अपने वाहन पर लगाई गई सार्वजनिक उद्घोषणा प्रणाली के माध्यम से अपने क्षेत्राधिकार मे स्थानीय भाषा मे उद्घोषणा करेगे कि भारतीय दंड संहिता की धारा 171 ख के अनुसार कोई व्यक्ति निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान किसी व्यक्ति को उसके निर्वाचक अधिकार का प्रयोग करने के लिये उत्प्रेरित करने के उद्देष्य से नकद या वस्तु रूप मे कोई पारितोष देता है, या लेता है तो वह एक वर्ष तक के कारावास या जुर्माने या दोनो से दंडनीय होगा। इसके अतिरिक्त भारतीय दंड संहिता की धारा 171 ग के अनुसार जो कोई व्यक्ति किसी अभ्यर्थी या निर्वाचक, या किसी अन्य व्यक्ति को किसी प्रकार की चोट लगाने की धमकी देता है वह एक वर्ष तक के कारावास या जुर्माने या दोनो से दंडनीय होगा। उडन दस्ते, रिष्वत देने वालो और लेने वालो दोनो के विरूद्ध मामले दर्ज करने के लिये और ऐसे लोगो के विरूद्ध कार्यवाही करने के लिये गठित किये गये है जो निर्वाचको को डराने और धमकाने मे लिप्त है। सभी नागरिको से एतदद्वारा अनुरोध किया गया है कि वे कोई रिष्वत लेने से परहेज करे और यदि कोई व्यक्ति कोई रिष्वत की पेषकष करता है या उसे रिष्वत और निर्वाचको को डराने/धमकाने के मामलो की जानकारी है तो उन्हे षिकायत प्राप्त करने के प्रकोष्ठ के टोल फ्री नंबर 07392-244193 एवं 1950 पर सूचित करे।

चुनाव डयूटी प्रमाण-पत्र के जरिये व¨ट डाल सकेंगे कर्मचारी

भारत निर्वाचन आयोग ने चुनाव डयूटी पर तैनात अमले के मतदान की सुविधा प्रदान किये जाने के संबंध में दिशा-निर्देश जारी किये हैं। चुनाव डयूटी पर तैनात वे सभी लोग जो  उस स्थान पर मतदान नहीं कर सकते जहाँ मतदाता सूची में उनके नाम दर्ज हैं, उन्हें डाक मत पत्र अथवा चुनाव डयूटी प्रमाण-पत्र/ईडीसी (इलेक्शन डयूटी सर्टिफिकेट) के माध्यम से यह सुविधा प्रदान की जायेगी। यदि किसी कर्मचारी की चुनाव डयूटी उसी चुनाव क्षेत्र में लगती है जहाँ का वह मतदाता है त¨ उसे चुनाव डयूटी प्रमाण-पत्र के माध्यम से यह सुविधा प्रदान की जायेगी। इस सुविधा से वह चुनाव डयूटी प्रमाण-पत्र के माध्यम से उसी मतदान केन्द्र में मतदान कर सकेंगे जहाँ उन्हें डयूटी के लिये तैनात किया गया है। यदि किसी कर्मचारी की चुनाव डयूटी उस चुनाव क्षेत्र में लगती है जहाँ का वह मतदाता नहीं है त¨ उसे डाक मत पत्र के माध्यम से यह सुविधा प्रदान की जायेगी। 
      मतदान दलों में शामिल सभी कर्मचारी सेक्टर ऑफिसर, जर्नल  ऑफिसर, रिटर्निंग ऑफिसर, असिस्टेंट रिटर्निंग आफिसर, डिस्ट्रिक्ट इलेक्शन ऑफिसर, डिप्टी इलेक्शन ऑफिसर, कंट्रोल  रूम एवं चुनाव संबंधी कार्य में तैनात सभी कर्मचारी, सभी पुलिसकर्मी, होमगार्ड, चुनाव डयूटी में संलग्न सभी वाहनो के ड्रायवर, क्लीनर, हेल्पर इस सुविधा के पात्र होंगे। यदि वे चुनाव डयूटी के कारण उस मतदान केन्द्र में मतदान नहीं कर सकते जहाँ मतदाता सूची में उनके नाम दर्ज हैं त¨ उन्हें डाक मत पत्र अथवा चुनाव डयूटी प्रमाण-पत्र के माध्यम से यह सुविधा प्रदान की जायेगी। 
          डाकमत पत्र सुविधा का लाभ निर्वाचन कार्य में संलग्न कर्मचारी उन्हे दिये जाने वाले प्रथम दौर के प्रशिक्षण के दौरान निर्धारित प्रपत्र में आवेदन भरकर उठा सकते है। साथ ही वे दिये गये निर्धारित प्रपत्र में वोटिंग कर उसे द्वितीय प्रशिक्षण के दौरान बनाये गये सुविधा केन्द्र का उपयोग करते हुए अपना मत अंकित करते हुए संबंधित लिफाफे को रखे गये सुविधा बाक्स में डाल सकते है या इन्हे डाकघर के माध्यम से भी भेज सकते है। मतगणना के दिन तक प्राप्त प्रत्येक डाक मतपत्र को गणना में सम्मिलित किया जायेगा। 

कांग्रेस  का काम ही गफलत पैदा कर जनता को भ्रमित करना हो गया है- राजपालसिंह सिसौदिया

झाबुआ । भारतीय जनता पार्टी चुनावों के समय वही वादे करती है जो  पूरे किये जाते है। और अपने चुनावी घोषणापत्र में भी हम  जिन वादों को पूरा किया जा सकता है उसका ही समावेश किया जाता है। केन्द्र की मोदी सरकार ने तय किया है कि हम चुनावों में केन्द्र सरकार की उपलब्धियों एवं विकास कार्यो को लेकर ही जनता जनार्दन के बीच जाने वाले है।होने वाले लोकसभा के चुनाव 55 वर्षो की कांग्रेस सरकार एवं मोदी सरकार के 55 माह के बीच ही होने वाले है । कांग्रेस पार्टी ओछेपन पर उतर आई है और जाति के आधार पर सामज को तोडने का प्रयास कर रही है । अटल जी की सरकार में जहां किसानों के लिये फसल बीमा,प्रधानमंत्री सडक योजना सहित कई विकास कार्यो की जन जन के कल्याण की भावना से शुरू की गई थी वही मोदीजी की सरकार ने सिर्फ 55 माह में देश को जिस गति से विकास की दौड मे अग्रणी देश बनाया उससे पूरे देश की जनता का विश्वास पुख्ता हुआ है और जनजन का रूझान भाजपा के प्रति  दिखाई देने लगा है । 
           प्रदेश में शिवराजसिंह चौहान के कार्यकाल में किसानों को 33.50 करोड की राशि का भुगतान किया जा चुका था । किन्तु अब कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने जनता मे गफलत पैदा करके जनता को भ्रमित करने का काम किया जा रहा है । कांग्रेस की नीति ही रही है कि चुनावों के समय गफलत करने वाले बयान देकर जनता को भ्रमित करके वोट प्राप्त किये जावे। इसलिये मीडिया की भूमिका ऐसी होनी चाहिये कि वास्तविकता को जनता के सामने प्रस्तुत करके कांग्रेस पार्टी की दुष्प्रचार को जगजाहिर करे । इसके लिये मीडिया प्रभारियों एवं आंचलिक स्तर पर काम करने वाले भाजपा के मीडिया से जुडे लोगों का प्राथमिक दायित्व है कि वे कांग्रेस के हर  भा्मक बयानों का मुंहतोड जवाब देवे तथा मीडिया के माध्यम से जनता को वास्तविकता बताने का काम करें । उक्त बात लोकसभा क्षेत्र की आठो विधानसभाओ के मीडिया प्रभारियों, आईटीसेल से जुडे प्रभारियों की कार्यशाला में भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता राजपालसिंह  सिसौदिया ने  मुख्य वक्ता के रूप  में व्यक्त किये ।
       लोकसभा स्तरीय मीडिया प्रभारियों की रतलाम में आयोजित कार्यशाला में जिला भाजपाध्यक्ष ओम प्रकाश शर्मा, आलीराजपुर जिलाध्यक्ष  किशोर शाह, आलीराजपुर के पूर्व विधायक नागरसिंह चौहान, शिवपालसिंह उज्जैन, राकेश मिश्रा, आदि उपस्थित थे । श्री सिसौदिया ने कहा कि  भाजपा और कांग्रेस मे यही जमीनी अंतर है कि कांग्रेस चुनावी घोषणापत्र का  मतदाता को छलने के लिये उपयोग करती है जबकि भाजपा अपने चुनावी घोषणापत्र को संकल्प पत्र के रूप में लेती है ,और उसे शत प्रतिशत पूरा करना अपना घर्म समझती है । यही कारण है कि पिछली विधानसभा च्रुनाव में कांग्रेस ने हमसे मामूली अंतर से किसानों के 2 लाख के कर्जे 10 दिनों में माफ कराने के झुठ वादे के चलते चुनाव जीत लिया था जबकि सच्चाई यह है कि आज तक किसान कर्ज मुक्ति के लिये बैंकों के चक्कर ल्रगा रहे है । उन्होने कहा कि कांग्रेस के इस झुठ को सोश्यल मीडिया  सहित इलेक्ट्रानिक तथा प्रिंट मीडिया  के माध्यम से जनता तक पहूंचाना आप सभी का दायित्व है । 
  इस अवसर पर अलीराजपुर के पूर्व विधायक नागरसिंह चौहान ने भी कांग्रेस पर जातिवाद के जहर फैलाने का आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस ने पाटीदार आन्दोलन हो या आदिवासी समाज को अलग करने का काम हो झाबुआ, आलीराजपुर, धार खंडवा बडवानी आदि मे जातिवाद के आधार पर आदिवासियों का दिमाग डायवर्ट करने का ओछा काम किया। जिससे जयस जेसे संगठनों का उदभव हुआ और हम कुछ ही कम सीटो से हार गये । 2019 के लोकसभा चुनावों के दोरान हमे कांग्रेस के ओछेपन एवं भ्रमित करने वाले बयानों का मुंहतोड जवाब देते हुए  भाजपा की कल्याणकारी नीतियों कार्यक्रमों के बारे में जानकारी पहूंचाने मे अहम भूमिका निभाना है, उन्होने कमलनाथ सरकार पर तंज कसते हुए किसानों एवं बेराजगारों के साथ किये गये छलावे के बारे में भी विस्तार से बताते हुए कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव राष्ट्रभक्तों एवं राष्ट्र विरोधी शक्तियों के बीच  होने जारहा है ।
जिला भाजपा अध्यक्ष ओम प्रकाश शर्मा ने भी अपने उदबोधन में कहा कि राहूल गांधी के राजनीति में नकारे जाने पर वे अपनी बहिन को राजनीति में लेकर आ गये है । आलीराजपुर के जिलाध्यक्ष किशोर शाह नें भी केन्द्र सरकार की विभिन्न योजनाओं का व्यापक प्रचार प्रसार करने की बात कहते हुए कहा कि कांग्रेस भाजपा के बढते जनाधार से भयभीत हो चुकी है । उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी विश्व की महान हस्तियों में माने जाते है । लोकसभा चुनाव में इस क्षेत्र में भाजपा इस बार कांग्रेस को मात देकर अपनी सीट जीतने में कामयाब होगी । झाबुआ जिले से मिडिया प्रभारी राजेन्द्र सोनी, काल सेंटर प्रभारी राकेश शर्मा, विधानसभा मीडिया प्रभारी रवि सूर्यवंशी, योगेन्द्र नाहर, कुंदन विश्वकर्मा, सोनू विश्वकर्मा, रितेश निनामा,जितेन्द्र मेहता ने भाग लिया ।
कार्यक्रम के प्रारंभ में पार्षद रतलाम अरूण रावजी ने स्वागत भाषण दिया । कार्यक्रम का संचालन राकेश मिश्रा ने किया ।  कार्यक्रम के अंत में स्वर्गीय मनोहर पार्रिकर को दो मिनट का मौन रख कर श्रद्धांजलि अर्पित की गई । आभार चन्दे्रश पंवार ने व्यक्त किया ।


झाबुआ। मध्यप्रदेश के स्कूली शिक्षा विभाग ने इस बार मध्यप्रदेश में गर्मी की छुट्टियां घोषित कर दी है। यह एक मई से शुरू होकर 16 जून तक रहेंगी। मिली जानकारी के अनुसार शिक्षा विभाग ने दशहरा, दीपावली और शीतकालीन अवकाश भी अभी से घोषित कर दिया है। दशहरे पर 7 से 10 अक्टूबर 2019 तक बच्चों को छुट्टी मिलेगी। दीपावली पर 25 से 30 अक्टूबर तक और शीतकालीन अवकाश 25 दिसंबर से 28 दिसंबर तक रहेगा। शिक्षकों को लिए 1 मई से 9 जून तक गर्मी की छुट्टी रहेगी। 10 से 15 जून तक शिक्षक पूरे शिक्षा सत्र की योजना तैयार करने के साथ प्रयोगशालाओं को तैयार करेंगे। 


पेटलावद। झाबुआ के विकास खण्ड में पेटलावद पुलिस द्वारा लगातार अवैध शराब पर कार्यवाई की जा रही है। पेटलावद पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर रामगढ़ में दबिश देते हुए हजारो रुपये की अवैध शराब जप्त की है। थाना प्रभारी नरेंद्र वाजपेयी ने बताया कि रामगढ़ में दबिश देते 2 व्यक्तियो से 10 पेटी बियर जप्त की है। जिनकी कीमत लगभग 15 हजार रूपये। जिसे जप्त कर थाने पर लाया गया है। साथ दोनो आरोपियों भी गिरफ्तार कर मामला दर्ज कर लिया गया है।

पुलिस की बड़ी कार्यवाई, रामगढ़ में दबिश देकर 2 आरोपियों से हजारो रुपये की अवैध शराब जप्त

झाबुआ। शहर में लगे भगोरिया हाट में जिला चिकित्सालय रोड़ पर इनरेम फाउंडेन झाबुआ के सचिन वाणी द्वारा ‘‘मेरी मिट्टी मेरा गौरव’’ विषय को लेकर प्रर्दशनी लगाई। प्रर्दशनी का अवलोकन इंदौर से विशेष रूप से आए लोगों द्वारा किया गया। साथ ही कई लोगों ने प्रर्दशनी में आर्गेनिक गुड, मिट्टी की कुल्लड़, ग्लास आदि की खरीदी भी की। इस अवसर पर सचिन वाणी ने बताया कि नवंबर माह 2019 में इंदौर, भोपाल के साथ दिल्ली और मेलबोर्न यूएसए में भी ट्रायबल आर्ट की प्रर्दशनी लगाकर जिले की आदिवासी संस्कृति एवं यहां की सामग्रीयों का प्रचार-प्रसार किया जाएगा।

प्रर्दशनी में लोगों ने सामग्रीयों की खरीदी भी की
भगोरिया हाट में इंदौर से आए विजिटरों ने प्रर्दशनी का अवलोकन किया

झाबुआ। 20 मार्च, बुधवार को जहां जिले में भगौरिया हाटों का समापन होगा वहीं इसी दिन रात्रि में शुभ मुर्हुत में जगह-जगह होलिका दहन का आयोजन होगा। शहर में करीब दो दर्जन से अधिक स्थानों पर यह आयोजन होना है। शुभ मुर्हुत में होलिका दहन के पश्चात् श्रद्धालुओं द्वारा परिक्रमा लगाई जाएगी एवं आरती कर प्रसादी वितरण होगा।होलिका दहन को लेकर पूरे शहर में जगह-जगह डांडे गढ़ चुके है। जिनकी प्रतिदिन पूजन कर आरती आयोजक समिति के सदस्यों द्वारा की जा रहीं है। शहर में करीब दो दर्जन से अधिक स्थानों में सिद्धेवर कॉलोनी में सिद्धेवर महादेव मंदिर के समीप एवं एक अन्य स्थान पर, विवेकानंद कॉलेनी में प्रवेश द्वार पर, हाऊसिंग बोर्ड कॉलोनी में 2-3 स्थानों पर, लक्ष्मीनगर कॉलोनी में इस बार आतंकवाद की होली जलाई जाएगी। होलिका दहन में कंडों का इस्तेमाल किया जाएगा। साथ ही इस दौरान चायनीस सामग्रीयों के बहिष्कार का भी संकल्प लिया जाएगा। 
यहां भी होलिका दहन होगा 
इसके अतिरिक्त शहर के बस स्टेंड, थांदला गेट, आजाद चौक, श्री चारभुजानाथ मंदिर के बाहर, राजवाड़ा, कॉलेज मार्ग, भोज मार्ग, मालीसेरी गली, डीआरपी लाईन, राजगढ़ नाका, गोपाल कॉलोनी में गोपाल मंदिर के बाहर, किशनपुरी, दिलीप गेट, मेघनगर नाका आदि स्थानों पर भी होलिका दहन का आयोजन होगा। 
श्रद्धालुओं द्वारा लगाई जाएगी परिक्रमा
इस दिन दोपहर एवं शाम को होलिका के गाड़े गए डांडे को गोबर-कंडों एवं विभिन्न सामग्रीयों से सजाने के बाद शुभ मुर्हुत में होलिका दहन होगा। श्रद्धालुओं द्वारा माता होलिकाजी की परिक्रमा लगाई जाएगी तथा अपने परिवार के सुख-समृद्धि एवं खुशहाली हेतु कामना की जाएगी। इस दौरान होलिका माताजी की पूजन, आरती कर प्रसादी वितरण भी होगा। कई श्रद्धालुओं द्वारा अपने घरों पर भी होलिका दहन का आयोजन किया जाएगा। साथ ही घेवर, जलेबी, चूरमे का प्रसाद ग्रहण किया जाएगा।


झाबुआ। झाबुआ कलेक्टर के निर्देश पर खाद्य विभाग , नापतोल विभाग एवं औषधि प्रशासन विभाग द्वारा तीसरे दिन भी जिले के थांदला , कल्याणपुरा , देवझिरी ,भगोर आदि स्थानों पर होटलों और प्रतिष्ठानों पर जाकर आकस्मिक जांच की गई व अमानक सामग्री पाए जाने पर , अवैध गैस सिलेंडर पाए जाने पर , व तोल कांटा में भिन्नता पाए जाने पर संबंधित विभागों द्वारा दंडात्मक कार्रवाई की गई. कलेक्टर प्रबल सिपाहा के निर्देश पर झाबुआ बाईपास झाबुआ अहमदाबाद नेशनल हाईवे मार्ग स्थित गांव देवझिरी , पीपलदेहला ,नयागांव स्थित न्यू करण ढाबा से 3 घरेलू सिलेंडर ,गैस चूल्हा मय रेगुलेटर के मालिक अनिल पिता वेलसिंह भूरिया से राशि 5100 रुपए की सामग्री जप्त की , जलाराम रेस्टोरेंट इंदौर अहमदाबाद मार्ग ग्राम पीपल देहला से 5 घरेलू सिलेंडर एवं एक गैस चूल्हा मय भट्टा ,की राशि ₹10100 की सामग्री , होटल राजरत्न ग्राम मोहनपुरा इंदौर अहमदाबाद मार्ग आरटीओ कार्यालय के सामने से गलाल पिता मांगू से 1 घरेलू गैस सिलेंडर , गैस चूल्हा मय रेगुलेटर राशि 2500 की सामग्री जप्त की, भाबर होटल कल्याणपुरा के मालिक जामसिंह पिता झीतरा से 1 घरेलू गैस सिलेंडर , राशि 18 10 रुपए की सामग्री जप्त की , मोबाइल श्री रेस्टोरेंट कल्याणपुरा के संचालक भूरालाल परमार से एक गैस सिलेंडर व चूल्हा, राशि ₹2100 की जपत की, जयश्री होटल के मालिक रतन सिंह से एक गैस चूल्हा व एक गैस चूल्हा मय बर्नर राशि 2000 की सामग्री जप्त की , नेशनल होटल थांदला के प्रबंधक श्री रफीक पिता मोहम्मद से 2 घरेलू सिलेंडर इंडेन कंपनी के एक गैस चूल्हा मय रेगुलेटर राशि ₹4400 की सामग्री जप्त की , मोहन टू उपहार गृह एमजी मार्ग थांदला से 1गाे गैस सिलेंडर को जप्त किया ,राहुल रेस्टोरेंट थांदला बाजार के मालिक राहुल गोविंद राठौड़ से 1 घरेलू सिलेंडर , गैस चूल्हा मय बर्नर मय रेगुलेटर राशि की सामग्री जप्त की , सुरेश चाय सेंटर थांदला से 1 घरेलू टंकी एवं गैस चूल्हा मय रेगुलेटर राशि ₹2050 की सामग्री जप्त की , देवी सिंह किराना स्टोर्स छोटी टाेडी भगाेर से 10 लीटर पेट्रोल ,दिनेश किराना स्टोर्स छोटी टोडी भगोर से 10 लीटर पेट्रोल को जप्त किया , तरुण किराना स्टोर्स भगोर टोडी से 10 लीटर पेट्रोल जप्त किया।  
        इसी तरह नापतोल विभाग द्वारा विधिक माप विज्ञान 2009 की धारा 24/33 के तहत 3 प्रकरण पंजीबद्ध किए गए. पेट पूजा होटल थांदला व अन्य दो प्रतिष्ठानों से इलेक्ट्रॉनिक तोल कांटा जप्त किया गया. खाद्य एवं औषधि प्रशासन द्वारा राजरतन ढाबा के मालिक प्रोपराइटर गलाल डामोर को लाइसेंस बनाने , अनास फैमिली रेस्टोरेंट एवं ढाबा के मालिक प्रभात निनामा को भी लाइसेंस बनाने के निर्देश , जय श्री होटल के प्रोपराइटर रतन सिंह चौहान सदर बाजार कलयाणपूरा काे निर्मित खाद्य सामग्री ढककर रखने हेतु निर्देशित किया |दीपका ट्रेडर्स के मालिक परमानंद राठौड़ नया बस स्टैंड कल्याणपुरा नेशनल होटल के प्रोपराइटर रफीक रंगरेज नया बस स्टैंड खादय रजिस्ट्रेशन बनाने के निर्देश दिए गए। यादगार होटल के मालिक रफीक कुरैशी को भी खाद्य लाइसेंस बनाने के निर्देश दिए गए. राहुल रेस्टोरेंट एमजी रोड थांदला को भी लहर सोडा की 300ml की एक्सपायर 16 बोतलें नष्ट करवाई। खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम अंतर्गत उपरोक्त कार्यवाही की गई।  व्यवसायिक प्रतिष्ठान होटलों पर आकस्मिक जांच श्री मुकुल त्यागी के मार्गदर्शन में खाद्य विभाग ,खाद्य एवं औषधि प्रशासन नापतोल विभाग के संयुक्त दल में सवेसिंह गामड़ कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी झाबुआ के नेतृत्व में धर्मेंद्र सिंह ,सुरेश कुमार तोमर ,शंकर परमार एवं औषधि प्रशासन के जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी श्री पंकज अंचल, नापतोल विभाग के एलसी खांडवी संजय पांचाल के द्वारा सघन जांच अभियान चलाया गया। 


गैंग रेप के आरोपियों पर कार्यवाही की मांग

झाबुआ। ग्रामीण निवासियों के द्वारा एक साथ उचित न्याय करने के लिये मंगलवार को पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुचकर एसपी विनित जैन को ज्ञापन सौंपा गया। मामले में उनालुपाडा कसारबर्डी तहसील पेटलावद की रहने वाली महिला के साथ गेंग रेैप की घटना होना बताया गया है। जिसमें पुलिस द्वारा मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। गेंग रैप करीब 10 लोगो ने किया है जिनमें 9 लोगो अभी भी पुलिस गिरफ्त से बाहर है।
   मंगलवार को पेटलावद क्षेत्र के उनालुपाडा कसारबर्डी ग्राम की रहने वाली महिला के द्वारा करीब सभी ग्रामीणजनो ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय अपने साथ हुये गैंग रैप करने वाले सभी 10 आरोपी को गिरफ्तार करने के साथ ही एफआईआर की कापी थाने से दिलवाने के लिये ओवदन दिया गया। घटना की जानकारी देते हुये पिडीता के पति वालचंद भुरिया ने बताया कि पत्नी की बडी सोत मंजु बाई के साथ इसका कई बार विवाद हो चुका है। जिस पर से वो इसे घर से निकालने के लिये हर संभव प्रयास कर रही है। विगत 13 मार्च को सभी घरवाले गाव में ही शादी में गये हुये थे जिस पर से रात्री 12.30 बजे उक्त हडु पिता नारायण मैडा निवासी जो कि मंजु को रिश्तेदार है उसके साथ 10 लोगो को लेकर तुफान जीप में हमारे घर में घुस आया। इस पर से हमारे साथ मारपीट कर मेरी पत्नी को वे लोग उठाकर अपने साथ ले गये। वही आरोपियों के द्वारा मोहनकोट के जंगालो में ले जाकर मेरी पत्नी के साथ सभी ने बलात्कार किया। 
            उक्त घटना की रिपोर्ट सारंगी थाने में दर्ज कर उचित कार्यवाही के लिये दबाव बनाकर मुख्य आरोपी को थाना प्रभारी अंजली मेडम के द्वारा पकड लिया गया। लेकिन अन्य आरोपियों को अभी तक पकड नही पायी है। इस पर से हमारे द्वारा जो आरोपियोे के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई गई थी वह भी हमे नही दी गई है। इस मामले में बीच बचाव करने वाले रमेश पिता मोगजी भूरियार निवासी उनालुपाडा को भी आरोपीगण ने चोंट पहुचाई लेकिन अंजली मेडम के द्वारा उनका कोई मेडिकल नही करवाया गया। हमारे द्वारा दोषियो के विरूद्ध कार्यवाही की बात कही तो थाना प्रभारी के द्वारा हमें धमकाया जा रहा है। वही हमे 3 से 4 लाॅख रूपये की भंजगडी करने की सलाह देकर मामले को खत्म करने को कह रही है। लेकिन हमारे द्वारा दोषियो विरूद्ध कार्यवाही करवाना चाहते है ना ही राजीनामा। 


जिम्मेदारो का कहना 
मामले की जांच सघनता से की जा रही है। वही उसमें से एक मुख्य आरोपी को गिरफ्तारी हो गयी है। जिस पर से अन्य आरोपियो की तलाश की जा रही है। मुख्य आरोपी भी फरियादी का रिश्तेदार है। पिडीत महिला ने सिर्फ एक ही आरोपी का नाम बताया है उसकी गिरफ्तारी हो चुकी है। रही बात एफआईआर नही मिलने की उसे देने के लिये थाना प्रभारी को बोल दिया गया है। 
एसपी झाबुआ विनित जैन

झाबुआ। आगामी लोकसभा निर्वाचन 2019 के दौरान आचार संहिता प्रभावशील होने के दौरान राणापुर , थांदला एवं पेटलावद तहसील मे कोलाहल के तहत तेज आवाज मे डीजे बजाने वाले लोगो के विरूद्ध कोलाहल नियंत्रण अधिनियम के तहत गिरफ्तार कर कार्यवाही की गई है। तहसील रानापुर के ग्राम वाल्दीमाल निवासी सुनिल पिता वसुनिया द्वारा बिना अनुमति के तेज आवाज मे डीजे बजाने से कोलाहल नियंत्रण अधिनियम का उल्लंघन करने पर पुलिस द्वारा आरोपी के कब्जे से एक टाटा 407 वाहन व उसमे रखे 2 बडे डीजे स्पीकर, 2 छोटे डीजे स्पीकर, 1 मिक्सर, 1 क्रॉस ओवर, 1 एम्पलीफायर 3 हजार वाट, वाहन के रजिस्ट्रेशन की छायाप्रति जप्त कर आरोपी को ग्राम भूरीमाटी से गिरफ्तार किया गया।
      इसी प्रकार तहसील थांदला के ग्राम हत्यादेली निवासी अमित पिता केगूसिंह के कब्जे से एक पिकअप लोडिंग व उसमे रखे 7 बडे डीजे स्पीकर, 2 एम्पलीफायर, 2 मिक्सर, 1 क्रॉस ओवर, एक जनरेटर सहित वाहन के रजिस्ट्रेशन की छायाप्रति जप्त कर आरोपी को उदयगढ रोड से गिरफ्तार किया गया। तहसील पेटलावद के ग्राम छापरपाडा निवासी कालू पिता शांतु डामर के कब्जे से 2 स्पीकर, 6 माईक, 1 डीजे मशीन, एक जनरेटर सहित वाहन को जप्त कर आरोपी को पुराना बस स्टेण्ड पेटलावद से गिरफ्तार किया गया। 


झाबुआ। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी व्ही.एल. कान्ता राव ने बताया कि पुलिस विभाग द्वारा 1 जनवरी 2019 से आज तक की गई कार्यवाही में 1 लाख 71 हजार 797 लीटर अवैध शराब जिसकी अनुमानित कीमत 5 करोड़ 15 लाख 39 हजार 100 रूपये है, जब्त की गई है। आबकारी विभाग द्वारा की गई कार्यवाही में अभी तक 1 लाख 04 हजार 160 लीटर अवैध शराब जिसकी अनुमानित कीमत 3 करोड़ 12 लाख 48 हजार रूपये एवं 12 लाख 78 हजार 73 किलोग्राम लाहन जिसकी अनुमानित कीमत 3 करोड़ 67 लाख 65 हजार 300 रूपये, जब्त किया गया है।
13 करोड़ 47 लाख से अधिक कीमत की शराब और मादक पदार्थ जब्त      राज्य नारकोटिक्स द्वारा की गई कार्यवाही में 213 किलोग्राम अवैध हेरोईन जिसकी अनुमानित कीमत 23 लाख 24 हजार 500 रूपये तथा केन्द्रीय नारकोटिक्स द्वारा नीमच में 129.510 किलोग्राम अवैध अफीम जिसका अनुमानित मूल्य 1 करोड़ 29 लाख है, जब्त की गई है। इस तरह कुल मूल्य 13 करोड़ 47 लाख 76 हजार 900 रूपये की अवैध शराब तथा मादक पदार्थ जब्त किया गया है।


झाबुआ। गोपाल मंदिर से जुड़े भक्त अब मोबाइल पर भी ऑनलाइन दर्शन कर सकते हैं, या गोपाल मंदिर भक्त मंडल द्वारा आयोजित विभिन्न आयोजनों को लाइव देख सकते हैं। गोपाल मंदिर प्रांगण में भव्य रूप में होने वाले वार्षिक उत्सव महोत्सव से लोगों की आस्था को जोड़े रखने के लिए मंदिर कार्यसमिति ने यह ऐप लांच किया है।
       ऐप पर एक क्लिक से लाइव दर्शन के साथ ही यहां उपलब्ध सुविधा से जुड़ी प्रत्येक जानकारी तत्काल मिल जाएगी। ऐप का नाम ‘गोपाल मंदिर झाबुआ’ है। ऐप को हाई तकनीक पर आधारित 7 केमरो से जोड़ा गया है। जिसकी मदद से ऐप लाइव प्रसारण करेगा। ऐप में यह सुविधा 11 मार्च से शुरू कर दी गई है। इसके बाद कोई भी ऐप डाउनलोड कर इस सुविधा का लाभ उठा सकता है।  
        गोपाल मंदिर ऐप में वार्षिक उत्सव आयोजन के समय आने वाले हज़ारो भक्तो की सुविधा व सुरक्षा से जुड़ी हर जानकारी मौजूद है। जिसे कोई भी भक्त ऐप के माध्यम से एक क्लिक में देख सकता हैं। ऐप पर मंदिर की प्रातः कालीन आरती, एवं प्रति दिन रात्रि में किये जाने वाले भजनो को लाइव टेलिकास्ट होगा। साथ ही ऐप में मंदिर द्वारा वर्ष भर होने वाले विभिन्न आयोजनो  की जानकारी के साथ ही मंदिर प्रांगण में प्रति दिन किये जाने वाले भजन, आरती, सत्संग आदि को लाइव सुनने के साथ ही डाउनलोड किया जा सकता है, साथ ही गोपाल मंदिर द्वारा प्रकाशित विभिन्न पुस्तकों को ऑनलाइन पड़ने के साथ ही डाउनलोड किया जा सकता है। ऐप में प्रतिदिन गोपाल मंदिर फोटो एवं वीडियो अपलोड किया जाने से भक्तो द्वारा इन्हे लाइव देखा एवं डाउनलोड किया जा सकता है।
             वार्षिक उत्सव सहित विभिन्न आयोजनों का  शिड्यूल, ठहरने की व्यवस्था, धर्मशाला, ट्रैफिक, पार्किंग, बस द्वारा मंदिर की दूरी व लोकेशन, थाना व सुरक्षा का प्वाइंट, मेडिकल, जीपीएस सुविधा से रास्ते की जानकारी हासिल कर सकते हैं। ऐप में तमाम जगहों से गोपाल मंदिर की दूरी व लोकेशन अपलोड की गई है जहाँ से भक्तो का बड़ी संख्या में मंदिर में आवागमन रहता है।  
   मंदिर कार्य समिति द्वारा दर्शन-पूजन से लेकर दर्शनार्थियों को मिलने वाली तमाम सुविधाओं को डिजिटलाइज्‍ड कर दिया गया है। वर्त्तमान में मंदिर की वेबसाइट www.gopalmandirjhabua.blogspot.com पर ही लाइव दर्शन का टेलिकास्ट किया जा रहा था परन्तु अब ऐप लांच होने के बाद एंड्राइड मोबाइल पर भी लाइव दर्शन एवं अन्य सुविधाओं का लाभ लिया जा सकेगा। लम्बे समय से भक्तो द्वारा मोबाइल ऐप लांच करने की मांग की जा रही थी जिसके चलते मंदिर कार्य समिति द्वारा उक्त ऐप को लांच किया है। 
फेसबुक, ट्विटर और व्हाट्सप्प पर मिलेगी हर ताजा अपडेट 
          इसके अलावा फेसबुक और ट्विटर पर भी गुरु भक्तो के लिए मंदिर प्रांगण में होने वाले सभी आयोजनों की जानकारी उपलब्‍ध है, साथ ही मंदिर कार्य समिति द्वारा भक्तो को प्रतिदिन की अपडेट एवं फोटो, वीडियो, इवेंट्स सहित सभी जानकारी प्रदान करने की लिए व्हाट्सप्प ग्रुप भी शुरू किया गया है जिससे भक्तो को प्रतिदिन गोपाल मंदिर की अपडेट मिलती रहेगी। ऐप के माध्यम से भक्त सीधे इस व्हाट्सप्प ग्रुप से जुड़ सकते है ।  
         भक्त मंडल के विशाल भट्ट ने बताया की ऐप तैयार करवाने का एक मात्र उद्देश्य देश विदेश में निवासरत गुरु भक्तो को मंदिर से जुडी हर जानकारी देने के साथ ही विभिन्न आयोजनों एवं वार्षिक उत्सव पर श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधा दी जा सके। ऐप के शुरू होने के साथ ही गोपाल मंदिर प्रदेश का पहला मंदिर होगा जहाँ मोबाइल के माध्यम से ऑनलाइन दर्शन की सुविधा शुरू की गई है। ऐप को तैयार करने में एक माह का समय लगा है।
एप्प के माध्यम से ये मिलेगी सुविधाएं 
  • लाइव दर्शन एवं विभिन्न सुविधाओं को ऑनलाइन देखा जा सकेगा। 
  • ट्रैफिक की स्थिति व सुरक्षा प्वाइंट तत्काल जान सकेंगे लोग।
  • लाइव भजन आरती सतसंग देखने के साथ ही ऑडियो एवं वीडियो फॉर्मेट में डाउनलोड किये जा सकेंगे। 
  • गोपाल मंदिर द्वारा प्रकाशित विभिन्न पुस्तकों को ऑनलाइन पढ़ने के साथ ही डाउनलोड किया जा सकेगा।  
गूगल प्ले स्टोर से करें ऐप डाउनलोड : 
गोपाल मंदिर की इस ऐप के माध्यम से आप गोपाल मंदिर झाबुआ के लाइव दर्शन करना चाहते हैं या फिर वहां की जानकारी या सुविधा हासिल करना चाहते हैं तो आप अपने स्मार्टफोन के गूगल प्ले स्टोर पर जाएं। वहां जाने के बाद आप हिंदी या अंग्रेजी में गोपाल मंदिर झाबुआ लिखकर सर्च करें। सर्च करने पर सबसे ऊपर गोपाल मंदिर की यह ऐप दिखाई देगी यहाँ से आप इससे अपने एंड्राइड मोबाइल में इंस्टाॅल कर लें। इसके बाद आप अपनी सुविधा के अनुसार मोबाइल से घर बैठे लाइव दर्शन एवं अन्य सुविधाओं का लाभ ले  सकते हैं।

ऐप लिंक के माध्यम से डाउनलोड करने के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करे :


gopal-mandir-jhabua-android-app-launch-गोपाल मंदिर झाबुआ की एंड्राइड ऐप लांच, अब मोबाइल पर भी होंगे ऑनलाइन दर्शन


Trending

[random][carousel1 autoplay]

More From Web

आपकी राय / आपके विचार .....

निष्पक्ष, और निडर पत्रकारिता समाज के उत्थान के लिए बहुत जरुरी है , उम्मीद करते है की आशा न्यूज़ समाचार पत्र भी निरंतर इस कर्त्तव्य पथ पर चलते हुए समाज को एक नई दिशा दिखायेगा , संपादक और पूरी टीम बधाई की पात्र है !- अंतर सिंह आर्य , पूर्व प्रभारी मंत्री Whatsapp Status Shel Silverstein Poems Facetime for PC Download

आशा न्यूज़ समाचार पत्र के शुरुवात पर हार्दिक बधाई , शुभकामनाये !!!!- निर्मला भूरिया , पुर्व विधायक

जिले में समाचार पत्रो की भरमार है , सच को जनता के सामने लाना और समाज के विकास में योगदान समाचार पत्रो का प्रथम ध्येय होना चाहिए ... उम्मीद करते है की आशा न्यूज़ सच की कसौटी और समाज के उत्थान में एक अहम कड़ी बनकर उभरेगा - कांतिलाल भूरिया , पुर्व सांसद

आशा न्यूज़ से में फेसबुक के माध्यम से लम्बे समय से जुड़ा हुआ हूँ , प्रकाशित खबरे निश्चित ही सच की कसौटी ओर आमजन के विकास के बीच एक अहम कड़ी है , आशा न्यूज़ की पूरी टीम बधाई की पात्र है .- शांतिलाल बिलवाल , पुर्व विधायक झाबुआ

आशा न्यूज़ चैनल की शुरुवात पर बधाई , कुछ समय पूर्व प्रकाशित एक अंक पड़ा था तीखे तेवर , निडर पत्रकारिता इस न्यूज़ चैनल की प्रथम प्राथमिकता है जो प्रकाशित उस अंक में मुझे प्रतीत हुआ , नई शुरुवात के लिए बधाई और शुभकामनाये.- कलावती भूरिया , पुर्व जिला पंचायत अध्यक्ष

मुझे झाबुआ आये कुछ ही समय हुआ है , अभी पिछले सप्ताह ही एक शासकीय स्कूल में भारी अनियमितता की जानकारी मुझे आशा न्यूज़ द्वारा मिली थी तब सम्बंधित अधिकारी को निर्देशित कर पुरे मामले को संज्ञान में लेने का निर्देश दिया गया था समाचार पत्रो का कर्त्तव्य आशा न्यूज़ द्वारा भली भाति निर्वहन किया जा रहा है निश्चित है की भविष्य में यह आशा न्यूज़ जिले के लिए अहम कड़ी बनकर उभरेगा !!- डॉ अरुणा गुप्ता , पूर्व कलेक्टर झाबुआ

Congratulations on the beginning of Asha Newspaper .... Sharp frown, fearless Journalism first Priority of the Newspaper . The Entire Team Deserves Congratulations... & heartly Best Wishes- कृष्णा वेणी देसावतु , पूर्व एसपी झाबुआ

महज़ ३ वर्ष के अल्प समय में आशा न्यूज़ समूचे प्रदेश का उभरता और अग्रणी समाचार पत्र के रूप में आम जन के सामने है , मुद्दा चाहे सामाजिक ,राजनैतिक , प्रशासनिक कुछ भी हो, हर एक खबर का पूरा कवरेज और सच को सामने लाने की अतुल्य क्षमता निश्चित ही आगामी दिनों में इस आशा न्यूज़ के लिए एक वरदान साबित होगी, संपादक और पूरी टीम को हृदय से आभार और शुभकामनाएँ !!- संजीव दुबे , निदेशक एसडी एकेडमी झाबुआ

Contact Form

Name

Email *

Message *

E-PAPER
Layout
Boxed Full
Boxed Background Image
Main Color
#007ABE
Powered by Blogger.