आदिवासी ग्राम सभाएं करेंगी गांवों का विकास,  बहनों के विश्वास कभी टूटने नही दूंगा -शिवराजसिंह चौहान

झाबुआ । मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की जन आशीर्वाद यात्रा झाबुआ नगर मे रात्री सवा 10 बजे के करीब पहूंची । नगर में जगह जगह तोरण द्वार बना कर जहां मुख्यमंत्री का स्वागत किया गया वही राजवाडा चौक पर मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान का राजवाडा मित्र मंडल और सकल व्यापारी संघ की ओर से भव्याति भव्य स्वागत किया गया । रथ से उतर कर मुख्यमंत्री स्टेज पर पहूंचे जहां बृजेन्द्र शर्मा चुन्नु भैया एवं सकल व्यापारी संघ के अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर एवं व्यापारीवर्ग सहित नगर की जनता ने  भव्य स्वागत किया । यहां से  मुख्यमंत्री शिवराजसिंह रथ में  उत्कृष्ठ मैदान स्थित सभा स्थल पहूंचे जहां हजारों की संख्या में गा्मीण आदिवासी भाईयों एवं बहनों ने जयघोष करके उनका आत्मीय स्वागत किया । मुख्यमंत्री के साथ क्षेत्रीय विधायक शांतिलाल बिलवाल, पेटलावद विधायक निर्मला भूरिया, धार जिले की विधायक रंजना बघेल के अलावा भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग, बाबुलाल रघुवंशी, जिला भाजपा अध्यक्ष मनोहर सेठिया सहित भाजपा के प्रदेश एवं जिले के पदाधिकारीगण मंचासीन रहे ।
           स्वागत भाषण विधायक शांतिलाल बिलवाल ने देते हुए प्रदेश एवं आदिवासी अंचल में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के नेतृत्व में हुए विकास की प्रसंशा करते हुए विश्वास दिलाया कि  इस अंचल में भाजपा पूरी तरह शिवराजसिंह के साथ है और 2018 के चुनाव में फिर से  प्रचण्ड बहुमत से शिवराजसिंहजी के नेतृत्व मे सरकार बन रही है ।
           हजारों की संख्या में उपस्थित गा्मीणजनों एवं नागरिकों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि गांव गांव में यात्रा के दौरान जन सैलाब के स्नेह एवं आशीर्वाद को देखते हुए मैं रात्री साढ़े 10 बजे झाबुआ पहूंच पाया। आज बहनों ने मुझे राखीया बांधी और अपना प्यार दिया है उनके विश्वास को  कभी टुटने नही दुंगा। कांग्रेस और भाजपा का अन्तर स्पष्ट करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि 50 साल के शासन मे कांग्रेस ने पूरे प्रदेश को बदहाल कर दिया था। मध्यप्रदेश बीमारू राज्य माना जाता था न तो सडके थी, न पीने का पानी का प्रबंध था और ना ही बजली की व्यवस्था थी । दिग्गी राजा ने पूरे प्रदेश को चौपट कर दिया था । सडकों की हालत किसीसे छिपी नही है, गुजरात जाते वक्त मध्यप्रदेश की सडको की क्या हालत थी और अब क्या स्थिति है यह सबके सामने है । 
      पुरे प्रदेश एवं जिले में  सडकों का जाल बिछा दिया गया है  बिजली के मामले में कांग्रेस सरकार के राज्य में यह  जुमला आम तौर पर बोला जाता था कि जब तक रहेगा दिग्गी, जलती रहेगी डिब्बी । कांग्रेस ने प्रदेश को अंधेरे का प्रदेश बना दिया था । कांग्रेस के राज मे  पानी नही मिलता था- खुद कांग्रेस के पास ही पानी नही था वह जनता को पानी कहा से  देती ? मुख्यमंत्री ने  कहा कि खेतों में सिंचाई के लिए जो दुनिया मे कहीं नहीं हुआ, वो काम यहाँ पर किया। सिंचाई के लिए नर्मदा से पाइपलाइन के जरिए पानी लाने के लिए 2 हजार 280 करोड़ की योजना बनाई जिसका काम चल रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि क्षेत्र के मेहनती किसान भाईयों को इस पाइपलाइन से कई फायदे मिलेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि माँ नर्मदा का पानी जब झाबुआ पेटलावद थांदला के खेतों तक पहुँचेगा, तो ऐसी फसल पैदा होगी कि कृषि के मामले में यह अंचल कीर्तिमान स्थापित करेगा । उन्होने करतल ध्वनि के बीच कहा कि पेटलावद में मा नर्मदा को लाने के कार्य का शिलान्यास करने मै स्वयं आउंगा ।
           मुख्यमंत्री ने कहा कि अंचल के लोगों के लिए सड़क, पानी, बिजली का बेहतर से बेहतर इंतजाम भाजपा सरकार ने किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस का विकास से कोई नाता नहीं है। ये कांग्रेसी आये और झाबुआ  झूठा-झूठा रेल का शिलान्यास कर गए। लालू भैया को भी ले आये और पत्थर गाड़ गए। ये तो पत्थर गाड़ कर चले गए, लेकिन कांग्रेस के राज में रेल लाईन का काम ही आगे नही बढा और यह काम भाजपा के केन्द्र सरकार के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं रेल मंत्री पियूष गोयल कर रहे है उन्होने रेल्वे लाईन के लिये 1147 करोड का प्रावधान करके काम को प्रारंभ कर दिया है ।
           मुख्यमंत्री शिवराजसिंह ने कहा कि झाबुआ में विकास के ढेरो काम भाजपा सरकार के कार्यकाल में हुए है  यदि इनकी फेहरिस्त पढी जावे तो काफी समय लग जावेगा । सभा में मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि सभी आदिवासी गांवों में आदिवासी जनजाति सभाओं का गठन किया जाएगा और ये सभाएं ही विकास के काम देखेंगी। उन्होंने कहा कि आदिवासी गांवों की रेत, गिट्टी और पत्थर के उत्खनन के अधिकार भी इन पंचायतों को दे दिए जाएंगे, ताकि उन्हें मिलने वाला पैसा इन गांवों के विकास में ही लगे। उन्होंने कहा कि छोटे-मोटे झगड़ों के लिए गांव में पुलिस नहीं आएगी और जन अधिकार सभा गांव के झगड़े गांव में ही निपटायेगी। गरीब आदिवासी अपना जीवन शांति और चैन से बिता सकें, इसके लिए प्रदेश सरकार ने यह भी तय किया है कि जिन आदिवासी भाई-बहनों पर छोटे मोटे मुकदमे चल रहे हैं, उन्हें वापस ले लिया जाए।
           मुख्यमंत्री ने कहा कि आदिवासी हमारी संस्कृति के संवाहक है। आदिवासी भाषा हमारी ताकत है। कांग्रेस ने हमेशा आदिवासियों को छला है। उन्होंने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि गरीबी हटाने के नाम पर गरीबों को हटाने का काम इन कांग्रेसियों ने किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आदिवासी लोकगीत, भाषा और संस्कृति को सहेजने का काम भाजपा सरकार कर रही है। हर गरीब आदिवासी को पक्का मकान मिले इसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आवास योजना चलाई है। इस योजना के तहत 2022 तक हर आदिवासी को झोपड़ी की जगह पक्का मकान मिलेगा। मैं जनता की जिंदगी बदलने के अभियान पर निकला हूँ। मेरा एकमात्र लक्ष्य प्रदेश की गरीब जनता की सेवा करना है।
            जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार माँ- बेटियों का सम्मान सुनिश्चित करेगी। उन्होंने महिला सशक्तीकरण की दिशा में प्रदेश सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की जानकारी देते हुए कहा कि महिला सशक्तीकरण के लिए के लिए राजनीति में बेटियों की भागीदारी हमने सुनिश्चित की है। स्थानीय निकायों के चुनावों में 50 प्रतिशत सीटों पर बेटियां चुनी जाएं, यह हमारी सरकार ने तय किया है। उन्होंने कहा कि सरकारी नौकरियों में भी हमने बेटियों की फिक्र की। शिक्षकों की भर्ती में 50 प्रतिशत और पुलिस की भर्ती में बेटियों के लिए 33 प्रतिशत आरक्षण भाजपा सरकार ने किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरी बेटियां कमजोर नहीं हैं। महिला अपराध रोकने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा किए गए प्रावधानों की जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग बेटियों को गलत नजर से देखते हैं, उनको धरती पर रहने का कोई हक नहीं है। उन्होंने कहा कि बच्चियों के साथ दरिंदगी करने वाले नर पिशाचों को फाँसी पर लटका दिया जाएगा, यह प्रावधान प्रदेश की भाजपा सरकार ने किया है। और अभी तक13 दरींदो को फांसी की सजा दी जाचुकी है ।
           संबल योजना का जिक्र करते हुए शिवराजसिंह जी ने इस योजना के तहत दिये जाने वाले सभी लाभो की विस्तार से जानकारी देते हुए  इस योजना में सभी गरीबों के अलावा सामान्य वर्ग के गरीबों को भी लाभ दिया जारहा है ।  बहिनों को लाडली लक्ष्मी, स्कूली बालिकाओं को साईकिल  आदि देने की योजना की भी उन्होने विस्तार से जिक्र भी किया । मुख्यमंत्री ने  कहा कि कांग्रेस के में सभी लोग परेशान थे, किसी भी गरीब कों  लाभ नही मिल पाता था, । कांग्रेस ने गरीबी हटाओं का नारा लगा कर भ्रमित करने के अलावा कुछ नही किया किन्त्रु वास्तविकता में गरीबी हटाने का काम भाजपा ने किया है, 1 रुपये  किलो गेहू, चावल, उज्जवला योजना, बीमारी में निशुल्क उपचार एवं सहायता, बहिनों को प्रसव पूर्व 4 हजार एवं प्रसूति के बाद 12 हजार की आर्थिक सहायता मां एवं बच्चे की सेहत के लिये दिये जालने के अलावा 60 साल से कम आयु में मौत हो जाने पर 2 लाख तथा एक्सीडेंट मे मृत्य्रु हाने पर 4 लाख का आर्थिक अनुदान एवं अंतिम संस्कार के लिये तत्काल 5 हजार की राशि दिये जाने की योजना के बारे में भी बताया।
           झाबुआ मे  देर रात्री तक हजारों लोगों को संबोधित करते हुए शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि भाजपा ही गरीबों, किसानों, एवं सभी वर्गो के विकास को करने वाला दल रहा है । 2018 के चुनाव में एक बार फिर इस कल्याणकारी सरकार को  , शिवराज को ,कमल के फुल को भाजपा को आपका आशीर्वाद मिलेगा इसके लिये सभी को भारत माता की जय के साथ संकल्प दिलाया । कार्यक्रम का संचालन बबलु सकलेचा ने किया ।  मुख्यमंत्री झाबुआ की मंच सभा के बाद थांदला विधानसभा क्षेत्र के लिये प्रस्थित हुए ।

मुख्यमंत्री की जन आशीर्वाद यात्रा में महिला मोर्चा झाबुआ द्वारा मेघनगर दशहरा मैदान में 8000 दीपक लगाकर फिर भाजपा फिर शिवराज लिखकर सीएम का स्वागत किया..
रजला मे मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री आवास के हितग्राही को करवाया गृह प्रवेष, हितग्राही ने मुख्यमंत्री को दिया धन्यवाद
   जिले के भ्रमण के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रामा ब्लॉक के ग्राम रजला में प्रधानमंत्री आवास योजना के हितग्राही पीदिया पिता लालिया को गृह प्रवेश करवाया। इस अवसर पर उनके साथ जिले के प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग, विधायक विधानसभा क्षेत्र झाबुआ शांतिलाल बिलवाल सहित जनप्रतिनिधि उपस्थित थे। पीदिया ने उत्साह के साथ समक्ष मे मुख्यमंत्रीजी को धन्यवाद देते हुए बताया कि मजदूरी कर वह जैसे तैसे परिवार का गुजारा चलाते हैं। उनके पास एक कमरे का मिटटी व खपरैल की छत वाला मकान था। मिटटी व खपरैल की छत वाले मकान मे गर्मी के दिनो मे लू, ठण्ड मे शीतलहर व बरसात के दिनो मे छत टपकने, से काफी परेशानी का सामना करना पडता था और कच्चे मकान के कभी भी गिरने का डर समाया रहता था। ऐसे मे पक्का मकान बनाना उसके लिये संभव नही था। अब प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की वजह से उसका पक्का मकान बन गया है। प्रधानमंत्री आवास योजना ने मदद कर उसकी सारी समस्या ही हल कर दी है। अब गर्मी मे लू, ठंड मे शीतलहर, बरसात मे छत टपकने और मकान गिरने की कोई चिंता नही है।