राजवाडा महिला मंडल ने आयोजीत की स्वच्छता अभियान पर आधारित चित्रकला प्रतियोगिता 

झाबुआ। श्री देवधर्मराज नवदुर्गा उत्सव समिति द्वारा नगर के हृदय स्थल राजवाडा चौक पर आयोजित नौ दिवसीय गरबोंत्सव में श्रद्धा,भक्ति एवं उमंग की लहर बनी हुई है। इस अवसर पर देर रात तक गरबों में माता के भक्तो ने गरबा रास का आंनद लिया। 
          पूरा नगर गुजराती संस्कृति को छुने ओर गरबों का आनंद प्राप्त करने के लिये  राजवाडा चौक पर रात्री 9 बजे से उमड रहा है। राजवाडा मित्र मंडल के संरक्षक ब्रजेन्द्र शर्मा चून्नु भैया ने बताया की नवरात्री के पांचवे दिन रविवार को मध्यरात्रि के बाद तक भक्ति एवं आनंद का संगम दिखाई दिया। श्री देवधर्मराज मंदिर मे बिराजित मां दुर्गा की महा मंगल आरती रात्री 8-30 बजे की गई । जिसमें अतिथि के रूप में  मेघनगर से उद्योगपति व समाजसेवी राजेन्द्रसिंह नायक, राणापुर से वरिष्ठ एडवोकेट ललित बंधवार, सर्वजनिक गणेश मंदिर से सामजसेवी नानालालजी कोठारी, वरिष्ठ एडवोकेट हेमेंद्र अग्निहोत्री, जैन सोष्यल ग्रुप से संतोष जैन, भरत बाबेल, राजेन्द्र संघवी, लोकेंन्द्र बाबेल, प्रमोद भंडारी व मनोज बाबेल ने अपनी उपस्थिति दी तथा दर्शन लाभ प्राप्त किये । 
         रात्री 9 बजे से संगीत की स्वर लहरियों के साथ गुजरात के कलाकारो के मधुर कंठ से निकली मां सरस्वती रूपी शब्दों ने पूरे वातावरण को  पावागढ मय कर दिया । हजारों पांव संगीत एवं स्वर पर थिरक रहे थे और हर कोई परम्परागत एवं नवीन परिधानों में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर रहा था । गरबों के दौरान अतिथि के रूप में बच्चु भाई खाबड़ पशु पालन राज्य मंत्री गुजरात सरकार, मुन्ना भाई पंचमहाल के कद्दावर भाजपा नेता, बलकेष बाखलिया उद्योगपति व सामजसेवी, श्रीमती रचना भदौरिया एडिशनल एसपी उपस्थित थे । महिलाओं, युवकों एवं बच्चों ने गरबोत्सव में एक से बढ कर स्टेप का प्रदर्षन करते हुए पुरे माहौल को माता मय बना दिया ।
           मित्र मंडल के कार्यकत्र्ताओं ने बताया कि राजवाडा मित्र मंडल नवदुर्गा उत्सव के दौरान सामाजिक सरोकार के विषय को भी पूरे षिद्दत के साथ महत्व देता है। मित्र मंडल की महिला विंग की संरक्षक श्रीमती शोभना शर्मा ने बताया कि हर वर्ष इस दौरान हम अपना एक स्लोगन देते हैं जिसका उद्देश्य इस संदेश को घर-घर तक पहुंचना हैं । और इसके लिए हम हर स्तर पर प्रयास करते हैं । हमारी टीम महिलाओं के सशक्तिकरण को लेकर हैं । इस वर्ष का हमारा स्लोगन आद्य शक्ति -नारी शक्ति हैं। राजवाडा चैक पर प्रतिदिन हो रहे गरबों को निहारने के लिये गा्रमीण क्षेत्रों से भी बडी संख्या में लोग आरहे है तथा गरबों की प्रस्तुति देख कर उनकी प्रसन्नता भी उनके चेहरो पर झलकती साफ दिखाई देती है । राजवाडा मित्र मंडल ने राजवाडा चैक पर आयोजित गरबों में सहभागी होने की नगर की धर्मप्रेमी जनता से अपील की है। 
           कार्यक्रम की अगली कड़ी में राजवाड़ा मित्र मण्डल के महिला मण्डल से श्रीमती सोनी ने बताया की  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मंशा के अनुरूप सामुदायिक स्वच्छता को बढ़ावा देने हेतू 26 सितंबर को पैलेस गार्डन झाबुआ पर दोपहर 3 बजे से 3 से 18 वर्ष तक के बच्चों की एक स्वछता विषय पर चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन हुआ है। इसमें भाग लेने वालों बच्चों को तीन आयु वर्ग में बाँटकर तीनो ही ग्रुपों को प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कार जो क्रमषः रूपये 3000-2000-1000 रूपये के मान से पुरस्कार की नगद राशि व प्रमाण प्रदान किये जायेगे । साथ ही भाग लेने वाले शेष सभी बच्चों को भी सान्त्वना पुरस्कार के रूप में  प्रमाण पत्र व पुरस्कार दिए जाएंगे। कार्यक्रम के निर्णायक के तौर पर सकंल्प ग्रुप की श्रीमती भारती सोनी, केवीके से मनीष त्रिवेदी, चित्रकला के प्रशिक्षक मिशन स्कूल से गिरीश भट्ट द्वारा बच्चों को चुना जायेगा। 
            स्वच्छता की इस कडी में राजवाड़ा मित्र मण्डल की सभी महिला मण्डल ने नगर में स्वच्छता की ओर विशेष ध्यान देने की बात कही। उन्होने बताया की इस उद्देष्य को लेकर इस प्रतियोगिता रखी है कि बच्चों के माध्यम से बड़ो को भी यह संदेष मिले की अपने घर एवं नगर को स्वच्छ बनाये ताकी सभी स्वस्थ्य रह सके।