परीक्षा में सवा चार लाख से ज्यादा अभ्यर्थी बैठे थे। इनमें से मेरिट के आधार पर पर्दों को तुलना में 15 गुना ज्यादा  को मुख्य परीक्षा के लिए चुना गया है। ये अभ्यर्थी 23 मार्च को होने वाली  मुख्य परीक्षा में शामिल हो सकेंगे  ।
      वही झाबुआ  जिले में कुल  6575 अभ्यर्थी पीएससी प्रारंभिक परीक्षा में बैठे थे. जिनमे 152 अभ्यर्थी मुख्य परीक्षा के लिए चयनित हुए हैँ। 

Sd Academy के अभ्यर्थियों ने इस वर्ष भी दिया श्रेष्ट परिणाम 
एमपी पीएससी प्रारंभिक परीक्षा के  नतीज़ों ने ये साबित कर दिया की झाबुआ के प्रतियोगी अब मध्य प्रदेश स्तर  पर नतीजे देने लगे है और मध्य प्रदेश के अन्य जिलो को भी अच्छी टक्कर दे रहे है। वही  झाबुआ के Sd Academy का परिणाम हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी श्रेष्ट रहा , संस्था के संचालक श्री संजीव दुबे ने बताया की संस्था में पीएससी प्रारंभिक परीक्षा 2013 के लिए कुल 87 अभ्यर्थी नामांकित थे , जिनमे से 62 अभ्यर्थी मुख्य परीक्षा के लिए चयनित हुए हैँ। हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी संस्था का परिणाम ८५ प्रतिशत से अधिक रहा है। 

 एक्सपर्ट व्यू  


झाबुआ  जिले में प्रतिभाओ की कोई कमी नहीं है यदि उन्हे परिवार द्वारा प्रोत्साहित किया जाये तो निश्चित ही वे अपने लक्ष्य को प्राप्त करेंगे।  जितने परिश्रमी झाबुआ के छात्र है उतने शायद ही कही हो. सही मार्ग दर्शन के आभाव में अपेक्षित सफलता नहीं आ पाती , वर्तमान में में सीसेट पैटर्न आने से  झाबुआ के विद्यार्थियों को IAS आदि परीक्षाओ में भी सफलता प्राप्त करने के अवसर है आरम्भ में छात्रों की मेहनत  ही शिक्षको के परिश्रम को मंज़िल तक पहुचाती  है में अपने सभी चयनित छात्र छात्राओ को बधाई और शुभकामनाये देता हु
श्री संजीव दुबे , संचालक ( SD ACADEMY, JHABUA)